Fathers Day Shayari: शायरी से पापा को दें फादर्स डे की बधाई, शायराना अंदाज में कहिए I LOVE YOU PAPA

Shayari on Father in Hindi: हर साल जून महीने के तीसरे रविवार को फादर्स डे होता है। इस साल फादर्स डे 20 जून को मनाया जा रहा है। इस दिन शायरी के साथ अपने पापा को बधाई संदेश दें।

fathers day shayari,shayari on father in hindi,shayari on father and daughter in hindi, shayari on father in hindi,shayari on father and daughter in hindi,फादर्स डे शायरी,पापा के लिए शायरी,papa ke liye shayari,fathers day shayari hindi फादर्स डे शायरी
FATHERS day wishes SHARIS  |  तस्वीर साभार: Times Now

मुख्य बातें

  • फादर्स डे हर साल जून महीने में तीसरे रविवार को मनाया जाता है
  • इस साल फादर्स डे 21 जून को मनाया जाएगा
  • फादर्स डे के मौके पर आप शायरियों के जरिए अपने पिता को बधाई संदेश भेज सकते हैं

नई दिल्ली: फादर्स डे पर लोग अपने पिता, पापा, डैड को तमाम तरीके से बधाई देते है, जिसमें एक जरिया शायरी का भी है। जून में पिता को समर्पित फादर्स डे भी मनाया जाता है। फादर्स डे हर साल जून के तीसरे रविवार को मनाया जाता है जो इस बार 20 जून को मनाया जा रहा है। किसी के लिए भी माता-पिता से बढ़कर दुनिया में कुछ भी नहीं होता है।

देश के नामचीन और कई शायरों ने पिता को लेकर उनके सम्मान में शायरियां लिखी है। आप इन शायरियों के जरिए फादर्स डे के दिन अपने पिता को बधाई संदेश भेज सकते है।  

Fathers day 2021 shayari

हमें पढ़ाओ न रिश्तों की कोई और किताब
पढ़ी है बाप के चेहरे की झुर्रियां हम ने
(मेराज फैजाबादी)

मुझ को छांव में रखा और खुद भी वो जलता रहा
मैं ने देखा एक फरिश्ता बाप की परछाईं में
(अज्ञात)

shayari on father in hindi

बेटियां बाप की आँखों में छुपे ख्वाब को पहचानती हैं
और कोई दूसरा इस ख्वाब को पढ़ ले तो बुरा मानती हैं
(इफ्तिखार आरिफ)

देर से आने पर वो खफा था आखिर मान गया
आज मैं अपने बाप से मिलने कब्रिस्तान गया
(अफजल खान)
fathers day shayari in hindi

मैं ने हाथों से बुझाई है दहकती हुई आग
अपने बच्चे के खिलौने को बचाने के लिए
(शकील जमाली)

बच्चे मेरी उंगली थामे धीरे धीरे चलते थे
फिर वो आगे दौड़ गए मैं तन्हा पीछे छूट गया
(खालिद महमूद)

अज़ीज-तर मुझे रखता है वो रग-ए-जां से
ये बात सच है मेरा बाप कम नहीं मां से
(ताहिर शहीर)

message for father in hindi

हड्डियां बाप की गूदे से हुई हैं खाली
कम से कम अब तो ये बेटे भी कमाने लग जाएँ
(रऊफ खैर)

मैं अपने बाप के सीने से फूल चुनता हूं
सो जब भी साँस थमी बाग़ में टहल आया
(हम्माद नियाजी)

मुद्दत के बाद ख़्वाब में आया था मेरा बाप
और उस ने मुझ से इतना कहा खुश रहा करो
(अब्बास ताबिश)
shayari on father and daughter in hindi

घर की बुनियादें दीवारें बाम-ओ-दर थे बाबू जी
सब को बांध के रखने वाला खास हुनर थे बाबू जी
(आलोक श्रीवास्तव)

बिन बताए वह हर बात जान जाते हैं,
मेरे पापा मेरी हर बात मान जाते है.
(अज्ञात)

पिता के बिना जिंदगी वीरान है,
सफर तन्हा और राह सुनसान है​।
वही मेरी जमीं वही आसमान है,
वही खुदा वही मेरा भगवान है।

हंसते रहे आप करोड़ों के बीच सदा
खिलते रहे आप लाखों के बीच सदा
रोशन रहे आप हज़ारों के बीच सदा
जैसे रहता है सूरज आसमान के बीच सदा

हजारों की भीड़ मे भी पहचान जाते हैं,
पापा कुछ कहे बिना ही सब जान जाते हैं!!

ख्यालों में भी मेरा ही ख्याल रखतें हैं;
मेरे हर दर्द का अपनी बाँहों मे इलाज रखतें हैं,
खरोंच मेरी एक, उन्हें कई रातें जगा जाती है…
बाबा भी ना,दिल अपने पास और धड़कने…
मेरे होठों की मुस्कान में रखतें हैं।

मेरे अजीज हो आप,
मेरे सबसे अच्छे दोस्त हो आप,
हर इच्छा पूरी करने वाले,
खुदा से बढ़कर हो पापा आप।

उनको समझ नहीं पाया मैं, वो भूल थी मेरी,
आज बना हूं पिता तो सब समझ में आता है,
कि पिता की है हर डांट में प्यार छुपा होता है।

मंजिल दूर और सफ़र बहुत है
छोटी सी जिन्दगी की फिकर बहुत है
मार डालती ये दुनिया कब की हमे
लेकिन पापा  के प्यार में असर बहुत है
Happy Fathers Day 2021

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर