मायावती पर अश्लील जोक मारकर बुरे फंसे रणदीप हुड्डा, जानिए क्यों Twitter पर उठी गिरफ्तारी की मांग

फिल्म अभिनेता रणदीप हुड्डा(Randeep Hooda) मुसीबत में घिरते हुए नजर आ रहे हैं। अपने एक वीडियो की वजह से सोशल मीडिया पर उनको गिरफ्तार करने की मांग उठ रही है।

Arrest Randeep Hooda’ trends on Twitter after his sexist and casteist' joke video on Mayawati goes viral
मायावती पर अश्लील जोक मारकर बुरे फंसे हुड्डा, जानिए मामला 

मुख्य बातें

  • बसपा सुप्रीमो मायावती पर अश्लील जोक मारकर बुरे फंसे रणदीप हुड्डा
  • रणदीप हुड्डा की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं सोशल मीडिया यूजर्स
  • ट्विटर पर दो दिन से लगातार ट्रेंड कर रहा है #ArresteRandeepHooda

नई दिल्ली: फिल्म अभिनेता रणदीप हुड्डा अपने एक पुराने वीडियो को लेकर मुसीबतों में घिर गए हैं। इस वीडियो की वजह से वह पिछले दो दिन से सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहे हैं और उनकी गिरफ्तारी की मांग उठ रही है। ट्विटर पर आज भी #ArresteRandeepHooda ट्रेंड हो रहा है। यह वीडियो पुराना बताया जा रहा है जिसमें रणदीप हुड्डा बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती पर अश्लील जोक मारते हैं।

वीडियो में कही ये बात
वीडियो में दिख रहा है कि रणदीप स्टेज पर बैठे हैं और वहां मौजूद दर्शकों और मेहमानों से कहते हैं कि वह एक डर्टी जोक सुनाना चाहते हैं। इसके बाद रणदीप कहते हैं, 'मिस मायावती 2 बच्चों के साथ गली में जा रही थीं। वहां खड़े एक व्यक्ति ने उनसे पूछा- क्या ये दोनों बच्चे जुड़वां हैं? इसके जवाब में उन्होंने कहा- नहीं, यह 4 साल का है और वह 8 साल का है। इसके बाद उस आदमी ने कहा- मुझे विश्वास नहीं होता कि कोई आदमी वहां दो बार भी जा सकता है।'

रणदीप का कोई बयान नहीं
वीडियो वायरल होते ही सोशल मीडिया पर तीखी प्रतिक्रिया आ रही है। हाल ही में सलमान खान की फिल्म 'राधे' में नजर आने वाले रणदीप हुड्डा की इस वीडियो पर अभी तक कोई सफाई या प्रतिक्रिया नहीं आई है। अपने अभिनय और काम से दर्शकों की तारीफ बटोरने वाले हुड्डा की इस वीडियो से ऐसी छीछालेदर हो रही है कि तमाम लोग उन्हें गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं और कुछ लोग उनसे माफी मांगने की मांग कर रहे हैं।
 

बसपा ने की मांग
मायावती की पार्टी बसपा के प्रवक्ता सुधींद्र भदौरिया ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट कर कहा, 'इस प्रकार की मनुवादी मानसिकता पर क़ानून के ज़रिये लगाम लगनी चाहिए।कार्यवाही न करके जातिवादी दलित,शोषित, महिला विरोधी मानसिकता रखने वाले लोगों को प्रोत्साहन मिलता है।क़ानून के ज़रिये सरकार तत्काल कठोर कदम उठाए।'

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर