डेल्‍टा के बाद अब ओमिक्रोन... कोविड के नए वैरिएंट पर खौफ के बीच चर्चा में क्‍यों आया NCR का ये शहर?

कोरोना वायरस के ओमिक्रोन वैरिएंट को लेकर NCR का शहर ग्रेटर नोएडा सुर्खियों में है। इससे पहले यह तब भी चर्चा में आया था, जब कोविड का डेल्‍टा वैरिएंट सामने आया था, जिसे WHO ने दुनिया में 99 फीसदी कोविड केस के लिए जिम्‍मेदार ठहराया है।

डेल्‍टा के बाद अब ओमिक्रोन... कोविड के नए वैरिएंट पर खौफ के बीच चर्चा में क्‍यों आया NCR का ये शहर?
डेल्‍टा के बाद अब ओमिक्रोन... कोविड के नए वैरिएंट पर खौफ के बीच चर्चा में क्‍यों आया NCR का ये शहर?  |  तस्वीर साभार: Representative Image

ग्रेटर नोएडा : कोरोना वायरस संक्रमण के नए वैरियंट ओमिक्रॉन (Omicron) को लेकर दुनियाभर में खौफ के बीच NCR का एक शहर चर्चा में है। सोशल मीडिया पर इसे लेकर खूब पोस्‍ट शेयर हो रहे हैं। फेसबुक, ट्विटर, व्‍हाट्सएप पर लोग इसे लेकर खूब बातें कर रहे हैं। इससे पहले जब कोरोना वायरस का डेल्‍टा वैरिएंट, जिसे WHO ने दुनिया में 99 फीसदी कोविड केसों के लिए जिम्मेदार ठहराया है, सामने आया था, तब भी यह शहर चर्चा में रहा था।

क्‍या है मामला?

पहले कोरोना वायरस के डेल्‍टा वैरिएंट और अब ओमिक्रोन को लेकर NCR का जो शहर चर्चा में है, वह उत्‍तर प्रदेश का ग्रेटर नोएडा है। इसे लेकर चिंता की कोई बात नहीं है। न ही यहां से कोविड का नया वैरिएंट सामने आया है और न ही यहां इसका मामला सामने आया है। दरअसल, डेल्‍टा और ओमिक्रोन ग्रेटर नोएडा के दो सेक्‍टर के नाम हैं, जिसे लेकर इन दिनों सोशल मीडिया पर तमाम पोस्‍ट शेयर किए जा रहे हैं और लोग तरह-तरह के कमेंट कर रहे हैं।

ग्रेटर नोएडा के ओमिक्रोन सेक्‍टर को लेकर एक फेसबुक यूजर ने अपने फेसबुक पोस्‍ट में लिखा, 'मंगलवार को मैं ग्रेटर नोएडा से गुजर रहा था। तभी मेरी नजर एक बोर्ड पर पड़ी, जिस पर ओमिक्रोन थर्ड लिखा हुआ था। पहले तो मैं चौंक गया, क्‍योंकि कोरोना वायरस के नए वैरिएं ओमिक्रोन को लेकर लगतार इन दिनों खबरें आ रही हैं। लेकिन फिर मुझे पता चला कि ओमिक्रोन यहां एक सेक्‍टर है और साथ ही इसी नाम से यहां एक आवासीय सोसाइटी भी है।'

वायरल हो रहे पोस्‍ट्स

इसके बाद से इसे लेकर कई पोस्‍ट सोशल मीडिया पर शेयर हो चुके हैं। एक ट्विटर यूजर ने लिखा, 'अब मेरे सेक्टर का नाम लोग अच्‍छे से लेंगे।' ट्विटर पर ऐसे लोग भी हैं, जिनका कहना है कि इस वैरिएंट ने उनके सेक्‍टर को एक बड़ी पहचान दे दी है। पहले जहां लोग इसका नाम ठीक से नहीं समझ पाते थे और एड्रेस नोट कराने में उन्‍हें परेशानी होती थी, वहीं अब कोरोना वायरस के इस नए वैरिएंट से ही सही, पर लोगों की जुबान पर यह नाम आ गया है।

यहां गौर हो कि ग्रेटर नोएडा में डेल्‍टा के साथ-साथा बीटा, गामा अल्‍फा सेक्‍टर भी हैं। ग्रेटर नोएडा का डेल्‍टा सेक्‍टर उस वक्‍त सुर्खियों में आया था, जब कोरोना वायरस का यह वैरिएंट सामने आया था। भारत में कोविड की दूसरी लहर के दौरान जो व्‍यापक तबाही हुई, उसके लिए इसी वैरिएंट को जिम्‍मेदार ठहराया गया। वहीं WHO ने हाल ही में कोविड से दुनियाभर में जो तबाही मची, उसके लिए 99 फीसदी तक डेल्‍टा वैरिएंट जिम्‍मेदार है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर