Lucknow: दोस्त को कोरोना से खोने वाले युवकों ने अपने पैसे जोड़कर अस्पताल में दान किए स्वास्थ्य उपकरण 

death of a friend from Corona: कोरोना संकट के बीच तमाम तरह की खबरें सामने आती रहती हैं, यूपी के लखनऊ से एक पॉजिटिव खबर सामने आई है।

Corona
प्रतीकात्मक फोटो 

लखनऊ: कोविड के कारण अपने दोस्त को खोने वाले युवकों के एक समूह ने अपने पैसे जोड़कर मृतक के घर के नजदीकी सरकारी अस्पताल गुडंबा में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (CHC) को तीन बिस्तर और एक व्हीलचेयर दान में दी।अमेरिका की एक कंपनी में डेटा एनालिस्ट अवध दीक्षित का 30 साल की कम उम्र में निधन हो गया क्योंकि उन्हें समय पर अस्पताल का बिस्तर नहीं मिला।

वह अपने परिवार को देखने के लिए हाल ही में कोरोना कर्फ्यू के दौरान लखनऊ आए थे, लेकिन कोविड से संक्रमित हो गए थे।उनकी असामयिक मृत्यु के दर्द ने उनके दोस्तों को स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र के लिए कुछ करने के लिए प्रेरित किया।

उनके एक फोटोग्राफर दोस्त अंशुल मेहरोत्रा ने कहा, "अवध की हालत बिगड़ती जा रही थी और उसे अस्पताल में बिस्तर नहीं मिला। जब तक उसे इंदिरानगर के अस्पताल में भर्ती कराया गया, तब तक उसकी हालत काफी बिगड़ चुकी थी और 24 अप्रैल को उसकी मौत हो गई।"

दीक्षित के दोस्तों ने उसे दवाई भेजी लेकिन उसे बचा नहीं सके

मेहरोत्रा ने कहा, "अवध मेरा सबसे करीबी दोस्त था। हम भाइयों की तरह थे, बचपन से ही हर एक याद को साझा करते थे। हमारी ओर से यह छोटा सा दान हमारे दोस्त को उसके अंतिम दिनों में न देख पाने के दर्द को कम कर सकता है।" एक अन्य मित्र आदित्य आनंद ने कहा, "हमारा दान बहुत बड़ा नहीं है लेकिन हमारी तरह, हर कोई हमारी स्वास्थ्य प्रणाली को मजबूत करने के लिए छोटे छोटे कदम उठा सकता है। तीसरी लहर से पहले, लोगों को हमारे स्वास्थ्य ढांचे का समर्थन करने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करना चाहिए।"

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर