चौथ माता के दर्शन के बिना नहीं पूरी होती शादी की रस्में, 700 सीढ़ियां चढ़कर मंदिर जाएंगे Vicky Kaushal-Katrina Kaif

Chauth Mata Ka Mandir: विक्की कौशल और कैटरीना कैफ की शादी के साथ ही चौथ माता का मंदिर सुर्खियों में है। जानिए क्या है इस मंदिर का इतिहास, क्यों नवदंपत्ति करते हैं इसके दर्शन...

Chauth Mata Mandir
Chauth Mata Mandir 
मुख्य बातें
  • विक्की कौशल और कैटरीना कैफ की शादी की रस्में सिक्स सेंस फोर्ट में चल रही है।
  • सिक्स सेंस फोर्ट से कुछ ही दूरी में चौथ माता का मंदिर है।
  • चौथ माता को माता पार्वती का एक स्वरूप माना जाता है।

मुंबई. विक्की कौशल और कैटरीना कैफ की शादी की रस्में शुरू हो गई है। नौ दिसंबर को ये कपल शादी के बंधन में बंध जाएगा। शादी के बाद ये न्यूली वेड कपल चौथ माता मंदिर के दर्शन भी करेगा। अरावली के पहाड़ों में स्थित ये 568 साल पुराना मंदिर है। 

हिंदू धर्म के अनुसार चौथ माता को माता पार्वती का एक स्वरूप माना जाता है। मान्यता है कि शादी की रस्में चौथ माता के दर्शन के बाद ही पूरी मानी जाती हैं। नविवाहित दुल्हन अखंड सौभाग्यवती होने के साथ-साथ अपने पति की रक्षा की प्रार्थना भी करती हैं। हर शुभ काम से पहले आस-पास के क्षेत्रवासी सबसे चौथ माता के मंदिर में आकर उन्हें निमंत्रण देते हैं। चौथ माता राजस्थान के बुंदी राजघराने की कुल देवी भी थीं। 

Know about famous Chauth Mata temple Sawai Madhopur on karwa chauth 2018

700 सीढ़ियां चढ़ेंगे विक्की और कैटरीना कैफ 
चौथ माता मंदिर की स्थापना साल 1451 में राजा भीम सिंह ने की थी। 1000 फीट की ऊंचाई में स्थित इस मंदिर में जाने के लिए लगभग 700 सीढ़ियां चढ़नी होती है। यही नहीं, पिछले कई सौ साल से इस मंदिर में अंखड ज्योति जल रही है। इसका रहस्य आज तक कोई नहीं सुलझा पाया है। मंदिर परिसर में देवी की मूर्ति के अलावा, भगवान गणेश और भैरव की मूर्तियां भी हैं।

चौथ माता का मंदिर - चौथ का बरवाड़ा - Home | Facebook

नवरात्रि-करवा चौथ लगता है मेला
चौथ माता के मंदिर में नवरात्रि और करवाचौथ का खास मेला लगता है। इस वक्त दर्शन करने के लिए देश के कोने-कोने से लोग यहां पर आते हैं। आपको बता दें कि इस मंदिर से कुछ ही दूर विक्की-कैटरीना की शादी का वेन्यू सिक्स सेंस फोर्ट भी है। 

Chouth Mata Temple, Sawai Madhopur - Tripadvisor

विक्की कौशल और कैटरीना कैफ की सात दिसंबर को मेहंदी की रस्म हुई। इसके बाद आठ दिसंबर को संगीत की रस्म होगी। वहीं, नौ दिसंबर को दोनों शादी करेंगे। इसके बाद 10 दिसंबर को एक वेडिंग रिसेप्शन भी देंगे।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर