IBPS RRB PO 2020: जानें कैसा रहा पेपर, जानिए कितना हो सकता है कटऑफ

IBPS RRB PO 2020 की परीक्षा को 12 और 13 सितंबर को आयोजित किया गया है। इस बार परीक्षा में उम्मीदवारों के अनुसार पालियों में विभाजित किया गया।

IBPS RRB PO 2020
जानें कैसा रहा पेपर, जानिए कितना हो सकता है कटऑफ 

एक लंबे इंतजार के बाद बैंकिंग परीक्षाओँ का दौर फिर से शुरु हो गया है। इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकिंग पर्सनल सेलेक्शन ने  RRB PO का आयोजन शुरु कर दिया है । IBPS RRB PO 2020 की परीक्षा 12 सितंबर और 13 सितंबर  2020 को आयोजित की गई है। एडमिट कार्ड IBPS की आधिकारिक साइट ibps.in पर उपलब्ध है । आज सुबह 8:30 बजे से 9:20 बजे तक पहली पाली आयोजित की गई थी,और दूसरी पाली अब पूरी हो चुकी है।

कोरोना वायरस का प्रकोप के कारण सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए और परीक्षा केंद्रों के बाहर भीड़ से बचने के लिए 12 और 13 सितंबर, 2020 को होने वाली  परीक्षा का आयोजन पांच पालियों में आयोजित किया गया है। उन्हें उम्मीदवारों के अनुसार पालियों में विभाजित किया गया है ।  परीक्षा का पेपर इस समय मध्यम से कठिन स्तर का था। यह समीक्षा उन उम्मीदवारों के लिए मददगार हो सकती है,जो आने वाली पारियों में उपस्थित होने वाले हैं। नीचे एक नज़र डालें।

45 मिनट में पूछे गए कुल 80 प्रश्न.
12 सितंबर को आयोजित होने वाली परीक्षा आईबीपीएस आरआरबी पीओ प्रीलिम्स 2020 की पहाली पाली समाप्त हो चुकी है ।  इस परीक्षा में दो सेक्शन थे रीजनिंग एबिलिटी औऱ क्वांटिटेटिव एप्टीचियूड । इस वर्ष की परीक्षाओं में और साथ ही कोई बदलाव नहीं किया गया था । परीक्षा से पहले दिए गए निर्देश राज्य के अनुसार क्षेत्रीय भाषाओं में ही उपलब्ध थे ।जिससे किसी भी उम्मीदवार को समझने में कोई भी किसी तरह की समस्या न हो । आपको बतादें 80 मिनट में कुल 45 प्रश्नों पूछे गए ।

डायरेक्शन,चायनीज कोडिंग और इनइक्वेलिटी के प्रश्नों ने किया परेशान

प्रारंभिक परीक्षा के लिए उम्मीदवारों को 45 मिनट के समय में 80 प्रश्नों को हल करना था।  इस बार अधिकतम तर्कपूर्ण प्रश्न कठिन थे। नोएडा केंद्र में पेपर देकर आए एक परीक्षार्थी ने बताया कि इनइक्वेलिटी से 5 प्रश्न इस बार पूछे गए थे । एक अन्य छात्र ने कहा, "कोई भी इन इक्वेलिटी के केवल पांच प्रश्न पूछे गए,जबकि मैंने उसके लिए इतनी अच्छी तैयारी की थी।  परीक्षा केंद्र के बाहर एक परीक्षार्थी ने बताया कि डायरेक्सन,चायनीज कोडिंग और इनइक्वेलिटी के प्रश्न अधिक समय ले रहे थे। इसलिए जिन छात्रों ने परीक्षा की अच्छी तैयारी की है, वह एक्युरेसी प्रश्नों के साथ अधिकतम प्रयास कर सकते थे।

कुल मिलाकर IBPS,RRB,PO के  प्रीलियम्स एग्जाम 2020   में पूछे गए प्रश्नों का कठिनाई स्तर  आसान से माध्यम था।यह एनालाइसेस और रिव्यू  हमने इस परीक्षा में उपस्थित होने वाले उम्मीदवारों से प्राप्त किया है। स्टूडेंट्स के अनुसार   पजल्स, और सीटिंग अरेजमेन्ट्स  के प्रश्न इस सेक्शन में सबसे अधिक पूछे गए । इन प्रश्नों का स्तर बहुत कठिन नहीं था । जिन उम्मीदवारों ने इस परीक्षा की अच्छे तैयारी की है। उन्होंने आसानी से इन्हें हल कर लिया होगा ।

पत्रकारों से बात करते हुए गाजियाबाद के परीक्षा केंद्र पर अभ्यार्थी कीर्ति ने बताया कि "पिछले साल का पेपर इस बार की तुलना में आसान था। उन्होंने कहा कि यह कम से कम लंबे प्रश्नों से भरा हुआ नहीं था। उन्होंने अंदाजा लगाते हुए कहा कि मुझे लगता है कि कट-ऑफ इस बार कम होगा। ”

विशेषज्ञों के अनुसार
विशेषज्ञों के अनुसार एपटिट्यूड के सभी प्रश्न आसान थे लेकिन यह प्रश्न अधिक समय लेने वाले प्रश्न थे । पजल्स और सीटिंग अरेजमेंट्स वाले प्रश्न अभ्यार्थियों के लिए कठिन थे । जिनमें अपने ज्यादा समय का उपभोग करना पड़ा ।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर