JEE Main Result 2020: जेईई मेन परीक्षा 2020 का रिजल्ट जारी, jeemain.nta.nic.in पर करें चेक

JEE Main Result 2020: राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA) ने जेईई मेन्स परीक्षा 2020 का परिणाम घोषित कर दिया है। छात्र आधिकारिक वेबसाइट jeemain.nta.nic.in पर जाकर अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं।

JEE Main Result 2020
JEE Main Result 2020 

JEE MAIN Result 2020: जेईई मेन परीक्षा 2020 का परिणाम घोषित हो गया है। 24 छात्रों को 100 परसेंटाइल मिला है। सबसे ज्यादा तेलंगाना के आठ छात्रों को 100 परसेंटाइल मिले हैं, वहीं दिल्ली के पांच, राजस्थान के चार, आंध्र प्रदेश के तीन, हरियाणा के दो और गुजरात तथा महाराष्ट्र के एक-एक छात्र को 100 परसेंटाइल अंक मिले हैं। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE) मेन के परिणाम घोषित किए हैं। परीक्षा में उपस्थित हुए छात्र आधिकारिक वेबसाइट jeemain.nta.nic.in पर जाकर परिणाम देख सकते हैं।

इस साल जेईई मेन्स परीक्षा में 8.58 लाख अभ्यार्थियों में से 6.35 लाख उपस्थित हुए थे। परीक्षाएं इसी महीने 1 से 6 सितंबर तक आयोजित की गई थीं। कोविड 19 महामारी के कारण परीक्षा को कई बार स्थगित करना पड़ा था। कोविड 19 दिशानिर्देशों का पालन करते हुए देशभर के 660 केंद्रों पर परीक्षा आयोजित की गई। छात्र आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से फाइनल आंसर की भी डाउनलोड कर सकते हैं। 

ऐसे चेक करें रिजल्ट

रिजल्ट चेक करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट jeemain.nta.nic.in पर क्लिक करें। फिर होमपेज पर JEE Main Result 2020 लिंक पर क्लिक करें। एक नया पेज खुलेगा। अपना रोल नंबर और अन्य विवरण दर्ज करें। अपना जेईई मुख्य परिणाम डाउनलोड करें। आप प्रिंट आउट भी ले सकते हैं।

जेईई मेन परीक्षा का नतीजा घोषित होने के बाद 11 सितंबर से 17 सितंबर तक छात्र जेईई एडवांस के लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे। जेईई एडवांस की परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड 20 सितंबर को जारी होगा। जेईई एडवांस में जेईई मेन के नतीजों के आधार पर 2.5 लाख छात्रों को परीक्षा देने का मौका मिलेगा। जेईई एडवांस की परीक्षा 27 सितंबर को होगी। देश के इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए जेईई मेन्स का आयोजन वर्ष में दो बार होता है।

परीक्षा नहीं चाहते थे कई छात्र

इस महत्वपूर्ण प्रवेश परीक्षा को लेकर विवाद उत्पन्न हो गया था जब छात्रों के एक वर्ग और कई विपक्षी दलों ने कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण परीक्षा को स्थगित करने की मांग की थी। हालांकि केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा, 'परीक्षा लेने में और देरी करना हमारे कठिन परिश्रम करने वाले छात्रों और कॉलेजों में दाखिले के संबंध में उनकी योजना के हित में नहीं होता। हमारी सरकार के लिए छात्रों का कल्याण और उनकी सुरक्षा सर्वोपरि है। हम अपने युवाओं के हित में हमेशा काम करेंगे।'

उल्लेखनीय है कि इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने कोविड-19 के कारण जेईई मेन्स और नीट परीक्षा टालने की याचिका को खारिज कर दिया था और कहा था कि छात्रों का बहुमूल्य वर्ष बर्बाद नहीं किया जा सकता ।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर