Career Options after NEET: नीट के बाद डॉक्‍टर बनना ही एकमात्र विकल्‍प नहीं, मौजूद है ढेरों शानदार करियर ऑप्‍शन

Career Options After NEET: नीट पास छात्रों के लिए अब सिर्फ एमबीबीएस करना ही एक ऑप्‍शन नहीं रह गया है। नीट पास करने के बाद छात्र कई अन्‍य कोर्स करके भी अपना शानदार करियर बना सकते हैं। यहां हम कुछ ऐसे ही विकल्‍प बता रहे हैं...

Career Options After NEET
नीट के बाद छात्रों के लिए करियर ऑप्‍शन   |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • नीट के बाद छात्रों के पास मौजूद है कई ऑल्टरनेट करियर ऑप्शन
  • मैनेजमेंट में जाने के लिए छात्र एमबीबीएस के बाद कर सकते हैं एमबीए
  • संयुक्त चिकित्सा सेवा परीक्षा पास कर सरकारी क्षेत्र में बनाएं करियर

Career Options After NEET: मेडिकल के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए नीट परीक्षा से होकर गुजरना पड़ता है। इस परीक्षा को पास करने के बाद ज्‍यादातर छात्र मेडिकल क्षेत्र में ही काम करना पसंद करते हैं, हालांकि ऐसे छात्रों की भी कमी नहीं है जो एमबीबीएस के बाद ऑल्टरनेट करियर ऑप्शन चुनते हैं। माना जाता है कि एमबीबीएस के बाद छात्रों के पास कुछ लिमिटेड ऑप्शन ही होते हैं, लेकिन अब समय बदल रहा है। अब इन छात्रों के लिए करियर ऑप्‍शन की कमी नहीं है। यहां हम आपको कुछ ऐसे ही करियर ऑप्‍शन के बारे में बताएंगे, जिसका छात्र नीट के बाद चुनाव कर सकते हैं।

बीडीएस में करियर

नीट के बाद छात्र बीडीएस कोर्स की डिग्री हासिल कर डेंटिस्ट बन सकते हैं। इस फील्ड में भी विकल्प पब्लिक क्लिनिक्स तक ही सीमित नहीं है, कई डेंटिस्ट अपने खुद के क्लीनिक शुरू कर अच्‍छा करियर बनाते हैं। अब लोग अपने दांतों के प्रति ज्‍यादा सेंसटिव हो रहे हैं, इसलिए इनकी डिमांड बढ़ रही है।

एमडी, एमएस व डिप्‍लोमा

नीट के बाद यह सबसे ज्यादा चुने जाने वाले ऑप्शन्स में से एक है। जो छात्र मेडिकल के क्षेत्र में अपना करियर जारी रखना चाहते हैं, वे एमडी या एमएस या डिप्लोमा डॉक्टरों को पोस्टग्रेजुएट कोर्स करते हैं। यह कोर्स छात्रों को अपनी पसंद के क्षेत्र में स्पेशलाइजेशन हासिल करने की फ्रीडम देता है।

एमबीए का कोर्स

अब समय बदल गया है, लोग सिर्फ डॉक्टर की डिग्री तक सीमित नहीं रहना चाहते। अब छात्र एमबीबीएस के साथ मैनेजमेंट में भी डिग्री लेना चाहते हैं। इनके लिए एमबीए बेहतर विकल्‍प हैं। इसके लिए एमबीए इन हेल्थकेयर एंड हॉस्पिटल मैनेजमेंट, एमबीए इन हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन, एमबीए इन जनरल मैनेजमेंट, एमबीए इन हॉस्पिटल एंड हेल्थ मैनेजमेंट जैसे कोर्स मौजूद है।

Read More - अगर कॉमर्स से की है 12वीं तो आगे की पढ़ाई के लिए बेस्‍ट रहेंगे ये टॉप 8 कोर्स

एमएससी का कोर्स

एमबीबीएस करने वाले आगे एमएससी भी कर सकते हैं। छात्र एयरोस्पेस मेडिसिन, एनाटॉमी, वेनेरोलॉजी एंड लेप्रोसी, एनेस्थीसिया, बायोकैमिस्ट्री, डर्मेटोलॉजी, फॉरेंसिक मेडिसन, जेरियाट्रिक, ईएनटी के अलावा कई अन्य क्षेत्र में भी मास्‍टर डिग्री ले सकते हैं।

संयुक्त चिकित्सा सेवा क्षेत्र

इन छात्रों के पास संयुक्त चिकित्सा सेवा क्षेत्र में जाने का ऑप्‍शन भी होता है। यूपीएससी रेलवे, नगर निगम जैसे सरकारी संस्थानों में हर साल चिकित्सा अधिकारियों के रूप में भर्ती के लिए संयुक्त चिकित्सा सेवा परीक्षा आयोजित होती है। उम्मीदवार एमबीबीएस की डिग्री के अंतिम वर्ष में उत्तीर्ण होने के बाद इस परीक्षा में शामिल हो सकते हैं।

डीएनबी कोर्स करना

नीट पास छात्र डीएनबी कोर्स भी कर सकते हैं। डीएनबी कोर्स एक स्नातकोत्तर डिग्री पाठ्यक्रम है जो नेशनल बोर्ड ऑफ एग्जामिनेशन द्वारा दिया जाता है, यह एमसीआई द्वारा मान्यता प्राप्त है।

क्लीनिकल रिसर्च

आज के समय में क्लिनिकल रिसर्चर्स की बहुत जरूरत होती है। विभिन्न संस्थान जो रिसर्च के अवसर प्रदान करते हैं वे हैं इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च, सीसीएमबी, सेंट जॉन्स रिसर्च इंस्टीट्यूट, डब्‍ल्‍यूएचओ। इसके अलावा एम्स, पीजीआई, निमहंस, टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च जैसे कई संस्थान पीएचडी डिग्री प्रदान करते हैं।

Read More - साइंस स्टूडेंट्स के लिए फार्मेसी बेहतर करियर, कोविड के बाद इस सेक्‍टर में जॉब बूस्ट

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर