'नए भारत में नए यूपी का जन्म', सरकार के 4 साल पर CM योगी की चिट्ठी 

Four years of Yogi government : सीएम योगी ने उत्तर प्रदेश में निवेश आकर्षित करने और अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने वाले अपनी सरकार की ओर से उठाए गए कदमों का जिक्र किया है।

Yogi Adityanath writes letter to people of Uttar Pradesh
सरकार के 4 साल पूरे होने पर CM योगी ने जनता को लिखा पत्र।  

मुख्य बातें

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरकार के 4 साल पूरे होने पर लिखा पत्र
  • इन चार सालों में अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाई, कहा-उनके राज में तुष्टिकिरण नहीं
  • योगी ने कहा कि राज्य की अर्थव्यवस्था बढ़ाने के लिए उनकी सरकार ने उठाए हैं अहम कदम

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार  के चार साल पूरे होने के मौके पर समाचार पत्रों में लेख लिखा है। मुख्यमंत्री योगी ने अपने लेख में इन चार सालों में अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाया है। योगी ने कहा है कि इन चार वर्षों में उनकी सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास' के मंत्र को अपनाते हुए राज्य के 24 करोड़ जनता की आकांक्षाओं को पूरा करने में लगी रही। योगी का कहना है कि उनकी सरकार ने चुनौतियों का समानता करते हुए लोगों के लिए संभावनाओं एवं अवसरों के द्वार खोले। मुख्यमंत्री ने अपने चार साल के शासन पर संतुष्टि जाहिर करते हुए कहा है कि उनकी सरकार जनता के हित में अपनी नीतियों को लागू करने में सफल हुई है।

पूर्वी पीएम वाजपेयी की कविता का जिक्र किया
एक हिंदी समाचार में अपने छपे लेख में सीएम योगी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की एक कविता की पंक्तियों को उद्धृत किया है। 'पावस बनकर ढलना होगा, कदम मिलाकर चलना होगा',  पूर्व प्रधानमंत्री की इन पंक्तियों को सीएम योगी ने अपने लिए प्रेरणास्रोत माना है। उनका कहना है कि ये पंक्तियां उन्हें साधना करने के लिए प्रेरित करती रही हैं। योगी का कहना है कि पीएम मोदी का सपना भारत की अर्थव्यवस्था को पांच खरब डॉलर की है और इस दिशा में उनकी सरकार ने काम किए हैं। 

अर्थव्यवस्था के लिए उठाए कदम
सीएम ने उत्तर प्रदेश में निवेश आकर्षित करने और अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने वाले अपनी सरकार की ओर से उठाए गए कदमों का जिक्र किया है। आदित्यनाथ ने बताया है कि राज्य में उद्यमियों को आकर्षित करने के लिए उन्होंने 'सिंगल विंडो सिस्टम' की शुरुआत की। सरकार के प्रयासों के चलते राज्य की 'इज ऑफ डुइंग' रैंकिंग चार साल में देश में दूसरे स्थान पर पहुंच गई। यह आसान काम नहीं था। उन्होंने कहा कि आज उत्तर प्रदेश निवेश के लिए सबसे पहली पसंद के रूप में उभरा है। 

एक्सप्रेसवे देंगे विकास को गति
राज्य में ढांचागत बदलाव एवं बुनियादी संरचना को मजबूत बनाने वाले सरकार के कदमों का जिक्र करते हुए सीएम योगी ने कहा है कि विकास की गति को तीव्र करने के लिए पांच एक्सप्रेसवे तैयार हो रहे हैं। इसके अलावा राज्य में डिफेंस कॉरिडोर रक्षा क्षेत्र में भारत की आत्मनिर्भरता के कदम को और मजबूती प्रदान करेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें यह याद रखना होगा कि साल 2015-16 में लोगों की प्रतिव्यक्ति आय 47,116 रुपए हुआ करती थी लेकिन अब यह बढ़कर 94,495 हो गई है।  राज्य की जीडीपी 2015-16 में 10.90 लाख करोड़ रुपए थी जो आज 21.73 लाख करोड़ रुपए हो गई है। उनकी सरकार में यह बदलाव आया है।

घरों तक साफ जल पहुंचाना सरकार की प्राथमिकता 
सीएम योगी का कहना है कि प्रत्येक घर को साफ पानी उपलब्ध कराने की दिशा में उनकी सरकार काम कर रही है। बुंदेलखंड, विंध्य क्षेत्र और 30 हजार राजस्व गांवों तक पानी पहुंचाने के लिए सरकार एक व्यापक एक्शन प्लान पर काम कर रही है। जेजेएम मिशन के तहत गांवों और शहरों को जोड़ने के लिए आम बजट में राशि का प्रावधान करने के लिए हम प्रधानमंत्री को धन्यवाद देते हैं। 

चार सालों में 'नए भारत में नया यूपी का जन्म'  
कोरोना संकट और इससे सामने आई चुनौतियों का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा है कि इस महामारी से उन्हें कई सीख दी। लॉकडाउन के दौरान दूसरे प्रदेशों में पढ़ाई और तैयारी करने वाले छात्रों की अपनी समस्याएं थीं। सरकार ने इनकी सुरक्षित वापसी के प्रबंध किए। राज्य के मेघावी एवं प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए सरकार 'मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना' लेकर आई। मुख्यमंत्री का कहना है कि इन चार सालों में 'नए भारत में नए यूपी का जन्म' हुआ है। इस बात को उनके विपक्षी भी मानते हैं। उनकी सरकार में किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं होता है। योगी का कहना है कि उनकी सरकार तुष्टिकरण की राह पर नहीं बढ़ी। उनकी नीतियों के केंद्र में किसान, युवा, महिलाएं और गरीब हैं। 

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर