पंचायत से लेकर पार्लियामेंट तक ! यूपी में बीजेपी की जीत के माएने क्या हैं

उत्तर प्रदेश जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के नतीजों से बीजेपी गदगद है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह का बयान खास है।

UP District Panchayat President Election, BJP State President Swatantradev Singh, Samajwadi Party, Yogi Adityanath, BJP captures Deoria District Panchayat, Akhilesh Yadav, Mayawati, Bahujan Samaj Party
यूपी में 67 जिला पंचायत अध्यक्ष पर बीजेपी और सहयोगी दलों की जीत 

मुख्य बातें

  • यूपी में 65 जिला पंचायतों पर बीजेपी और 2 पर सहयोगी दलों की जीत
  • समाजवादी पार्टी के खाते में 6 सीटें
  • आजादी के बाद देवरिया जिला पंचायत पर बीजेपी का कब्जा

यूपी में जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में बीजेपी ने जीत का परचम फहराया है। कुल 75 जिला पंचायतों में बीजेपी और उसके सहयोगियों को 67 सीटों पर जीत हासिल हुई है। बीजेपी के खाते में 65 सीटें और सहयोगी दलों को 2 सीट मिली है। अगर बात मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी की करें तो उसे 6 सीटों से संतोष करना पड़ा है। विधानसभा चुनाव से पहले पंचायत चुनावों में जीत पर बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि पंचायत से लेकर पार्लियामेंट तक! भाजपा+ ने उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनाव में 75 में से 67 सीटों पर विजय प्राप्त की है। इस अभूतपूर्व परिणाम के लिए मैं प्रदेश की जनता एवं भाजपा के परिश्रमी कार्यकर्ताओं का हृदय की गहराइयों से आभार व्यक्त करता हूं।


जिला पंचायत चुनाव की खास बात

  1. यूपी के देवरिया में आजादी के बाद पहली बार जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर बीजेपी की जीत। गिरीश चंद्र तिवारी हुए विजयी।
  2. पंचायत चुनाव में लहराया भाजपा का परचम, जिला पंचायत अध्यक्ष की 75 में से 67 सीटों पर भाजपा और 2 पर सहयोगी दलों की जीत
  3.  विपक्ष का करीब करीब सफाया। समाजवादी पार्टी ने प्रशासनिक लूट का आरोप लगाया।
  4. अमेठी-लखनऊ में बीजेपी की जीत, जौनपुर में धनंजय की पत्नी जीतीं।

अब विपक्ष के सामने क्या विकल्प है
अब सवाल यह है कि क्या विपक्ष इसे अपनी हार बताएगा या स्थानीय चुनाव का जिक्र कर पल्ला झाड़ लेगा। लेकिन समाजवादी पार्टी के नेता करीब करीब अपने बयानों में इस बात का जिक्र किया करते थे कि जिला पंचायत चुनाव एक तरह से योगी सरकार के लिए रिफ्रेंडम की तरह है। बीजेपी के पक्ष में जब 16 जिला पंचायत अध्यक्षों का निर्वाचन निर्विरोध हुआ तो समाजवादी पार्टी ने सीधे सीधे कहा कि प्रशासनिक मशीनरी के सहयोग से बीजेपी चुनावी प्रक्रिया को प्रभावित कर रही है और इसके साथ ही अपने 11 जिलाध्यक्षों की छुट्टी कर दी थी। 

क्या कहते हैं जानकार
समाजवादी पार्टी के साथ साथ आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा कि जिस तरह से बीजेपी उम्मीदवारों का निर्वाचन हो रहा है वैसा तो कभी नहीं हुआ। यह तो एक तरह से लूट है। लेकिन इस विषय पर जानकार क्या कहते हैं। जानकारों के मुताबिक जिला पंचायत चुनावों का मुद्दा विपक्ष ने ही बनाया था। लिहाजा इस चुनाव से बड़ा टेस्ट तो उनका ही होना था। अगर विपक्ष को कायदे की सीटें मिल जातीं तो उसके नेता साफ तौर पर कहते कि बड़े चुनाव से पहले ही जनता ने योगी सरकार को नकार दिया है। लेकिन इन नतीजों से यह संकेत मिलता है कि बीजेपी अब और अधिक ऊर्जा के साथ अपने चुनावी कारवां को आगे बढ़ाएगी। 

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर