कांग्रेस ने राजस्थान को दलितों के लिए 'नर्किस्तान' बना कर छोड़ दिया- ब्रज लाल

बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद ब्रजलाल ने कहा कि दलित समाज के ऊपर कांग्रेस दोहरी राजनीति करती है। राजस्थान में दलित समाज पर अत्याचार उसे दिखाई नहीं देता। लेकिन गैर कांग्रेस शासित सरकारों के मुद्दे को वो जोर शोर से उठाती है।

UP Assembly Elections, BJP, Congress, up vidhansabha chunav 2021, bjp mp brajlal
बीजेपी सांसद ब्रजलाल ने दलित मुद्दे पर कांग्रेस पर साधा निशाना 

मुख्य बातें

  • कांग्रेस दलित विरोधी पार्टी जिसने बाबा साहब का हमेशा अपमान किया:  बृजलाल
  • कांग्रेस ने राजस्थान को दलितों के लिए 'नर्किस्तान' बना के छोड़ दिया
  • राजस्थान में दलित अत्याचार पर कांग्रेस मौन क्यों:ब्रजलाल

लखनऊ। भाजपा नेता और राज्य सभा सांसद ब्रजलाल ने कांग्रेस पार्टी पर दलित विरोधी करार देते हुए कहा कि यह पार्टी उन बाबा साहेब का अपमान करती रही है जिन्हे  पूरा देश और दलित समुदाय अपना मसीहा मानता है। ब्रजलाल ने आज यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि कांग्रेस एक भी ऐसा  उदाहरण नहीं दे सकती है जिससे यह पता चले कि वह दलितों कल्याण की समर्थक रही है।

राजस्थान में दलित समाज के साथ लिंचिंग
उन्होंने कहा कि राजस्थान में दलित समुदाय के लोगों के साथ लिंचिंग जैसी घटनाएं हो रही हैं। राहुल, सोनिया, प्रियंका ही नही, अखिलेश यादव और नवजोत सिद्धू कोई भी  राजस्थान के बारे में बात नही कर रहा है।  इन लोगों को दलित समुदाय का खून दिखाई नहीं दे रहा है।राज्य सभा सांसद ने आरोप लगाया कि आज राजनीतिक पर्यटन करने वाले लोग लखीमपुर खीरी पहुंच जाते हैं, लेकिन राजस्थान में जो हो रहा है, वहां इनकी नजर नहीं जा रही है।

कांग्रेस शासित राज्यों में उत्पीड़न पर चुप्पी
ये लोग अपने पार्टी के शासित राज्यों में होने वाली घटनाओं पर मुंह नहीं खोलते हैं।उन्होंने कांग्रेस से सवाल किया कि उत्तर प्रदेश में राजनीतिक पर्यटन करने वाले राजनीतिक गिद्ध राजस्थान में दलितों के संग हो रही बर्बरता पर आखिर क्यों मौन साधे हैं।ब्रजलाल ने कहा कि कांग्रेस ने राजस्थान को दलितों के लिए 'नर्किस्तान' बना के छोड़ दिया है, लेकिन राहुल और प्रियंका कभी वहां नहीं जाएंगे। यह उनकी राजनीति का सत्य है जिसके लिए  जनता एक एक करके हर राज्य से बाहर कर चुकी है।

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर