खूबसूरती से भरा है हिंदुस्‍तान का दिल 'मध्य प्रदेश', देखना ना भूलें वहां के ये खास पर्यटन स्‍थल

Best tourist Destination In Madhya Pradesh : यदि आप जुलाई माह में घूमने की योजना बना रहे हैं तो एक बार मध्य प्रदेश के इन शानदार पर्यटन स्थलों का दीदार अवश्य करें।

Madhya Pradesh Tourism
Madhya Pradesh Tourism 

Best tourist Destination In Madhya Pradesh:  मध्य प्रदेश भारत के मध्य में स्थित शानदार पर्यटन स्थलों में से एक है। मध्य प्रदेश को भारत के दिल की धड़कन भी कहा जाता है। क्योंकि यहां के पर्यटन स्थल पर्यटकों का दिल चुरा लेते हैं। यहां पर प्रति वर्ष लाखों की संख्या में सैलानी प्रकृति की सुंदरता का दीदार करने आते हैं। भारत का सबसे कम आबादी वाला यह राज्य अपनी खूबसूरती से पर्यटकों को मंत्रमुग्ध कर देता है। ऐसे में यदि आप जुलाई माह में घूमने की योजना बना रहे हैं तो एक बार मध्य प्रदेश के इन शानदार पर्यटन स्थलों का दीदार अवश्य करें। आइए जानते हैं मध्य प्रदेश के शानदार पर्यटन स्थल।

ओरछा, मध्यप्रदेश

ओरछा मध्य प्रदेश के निवारी जिले में स्थित बेतवां नदी के तट पर बसा एक शानदार पर्यटन स्थल है। यह मध्य प्रदेश की खूबसूरती में चार चांद लगाता है। यह स्मारकों, मंदिरों, किलो, महलों और वाइल्ड लाइफ सेंचुरी के लिए प्रसिद्ध है। यहां सुंदर कलाकृतियो के साथ बड़ी संख्या में मंदिर है। मंदिरों की भव्यता और हवेलियों की अपार लोकप्रियता के कारण ओरछा दुनियाभर के शानदार पर्यटन स्थलों में शामिल है। जुलाई के महीनें में ओरछा की सैर आपके लिए यादगार होगी, शाम के समय में आप बेतवा नदी के तट पर सूर्यास्त का शानदार नजारा देख सकते हैं।

कान्हा नेशनल पार्क

कान्हा के रसीले लवंण, बांस के जंगल, घांस के मैदान और बीहणों की गुर्राहट कान्हा नेशनल पार्क की खूबसूरती में चार चांद लगा देती है। मध्य प्रदेश में स्थित यह पार्क 1955 में अस्तित्व में आया और यह प्रोजेक्ट टाइगर के तहत 1974 में बनाए गए कान्हा टाइगर रिजर्व का मूलरूप है। पार्क की ऐतिहासिक उपलब्धि बारह सिंघा हिरण का संरक्षण करना है। आपको बता दें कान्हा राष्ट्रीय उद्यान राज्य का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान है। बिग कैट्स की भारी आबादी के कारण पार्क प्रोजेक्ट टाइगर का एक हिस्सा है। पार्क में 1000 से अधिक फूल वाले पौधे हैं। इस प्रकार यह प्रकृति प्रेमियों के घूमने के लिए सबसे शानदार पर्यटन स्थलों में से एक है। ऐसे में यदि आप प्रकृति प्रेमी हैं तो एक बार कान्हा नेशनल पार्क की सैर अवश्य करें।

मांडू

आपको बता दें मांडू या मांडवगढ़ छठी शताब्दी ईसा पूर्व के वास्तुकला शिल्पकारों और इतिहास का खजाना है। यहां के खंडहर इमारत हमें इतिहास के उस झरोखे के दर्शन कराते हैं, जिसमें हम मांडू के शासकों की विशाल समृद्ध विरासत व शानो शौकत से रूबरू हो सकते हैं। यहां की इमारतें मध्य प्रदेश की खूबसूरती व शानो शौकत से रूबरू करवाते हैं।

ग्वालियर

ये ऐतिहासिक शहर अपनी खूबसूरती, महलों और किलों के लिए प्रसिद्ध है। इस शहर का निर्माण राजा सूरजसेन द्वारा किया गया था। यहां पर सदियों पुरानी इमारतें व मंदिर इस शहर की खूबसूरती में चार चांद लगाते हैं। इसके अलावा यहां पर पहाड़ियां और हरेभरे जंगल हैं। ग्वालियर का किला इस शहर की खूबसूरती को बयां करता है। इस किले की वास्तुकला आपको मंत्रमुग्ध कर देगी, इस किले का निर्माण दो भागों में दो अलग अलग समय में हुआ था। ऐसे में यदि आप इतिहास में रुचि रखते हैं तो एक बार ग्वालियर के किले की सैर अवश्य करें।

पंचमढ़ी

अगर गर्मियों की तपिश से राहत पाने के लिए मध्य प्रदेश की सैर करना चाहते हैं, तो पंचमढ़ी हिल स्टेशन आपके लिए सबसे शानदार पर्यटन स्थलों में से एक है। यहां पर आप प्राकृतिक सुंदरता और ऐतिहासिक स्थल का शानदार नजारा देख सकते हैं। यहां पर हर साल लाखों की संख्या में सैलानी पर्यटन स्थल का दीदार करने के लिए आते हैं। आपको बता दें यह सतपुड़ा की पहाड़ियों से लगभग 1067 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। अपनी प्राकृतिक सुंदरता और मनोरम दृश्य के कारण यह हिल स्टेशन सतपुड़ा की रानी के नाम से भी जाना जाता है। यहां पर घने जंगल व ऊंचाइयों से गिरते झरनों को देख आपका मन प्रफुल्लित हो उठेगा। महाभारतकाल के अनुसार यहां पर पांच गुफाएं मौजूद हैं, जिन्हें पांडव गुफा कहा जाता है।

उज्जैन

मध्य प्रदेश के उज्जैन नगर में स्थित महाकालेश्वर मंदिर से आप सब वाकिफ होंगे। यह मंदिर भारत के 12 ज्योर्तिलिंगों में से एक है। पुराणों में इस मंदिर का खास महत्व है। पौराणिक कथाओं के अनुसार कहा जाता है कि जब सृष्टी का निर्माण हुआ था उस समय सूर्य की पहली 12 रश्मियां धरती पर गिरी, उनसे 12 ज्योर्तिलंग बने। उज्जैन महाकालेश्वर ज्योर्तिलिंग भी सूर्य के 12 रश्मियों से ही निर्मित हुआ। ऐसे में यदि आप महाकालेश्वर के दर्शन के साथ प्रकृति की खूबसूरती का नजारा देखना चाहते हैं तो एक बार उज्जैन की सैर अवश्य करें।

जबलपुर

जबलपुर शहर मध्य प्रदेश की खूबसूरती को बयां करता है। यहां पर स्थित भेला घाट एक अनोखी जगह है। भेलाघाट में नर्मदा नदी के किनारे सैकड़ो मीटर ऊंची संगमरमर पत्थर की खड़ी चट्टान हैं। जो कई सालों से नर्मदा नदी के पानी के घटाव से बनी हैं। यहां पर रात को चांद की रोशनी में नौका सवारी का आनंद आप जिंदगीभर नहीं भूलेंगे।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर