Sawal Public Ka: वर्ल्‍ड फोरम से PM मोदी का कट्टरवाद पर प्रहार, दुनिया के लिए कितना बड़ा खतरा है कट्टरपंथ?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शंघाई सहयोग संगठन के मंच से साफ संदेश द‍िया कि कट्टरवाद सबसे बड़ी चुनौती है। उन्‍होंने अफगानिस्‍तान का भी नाम लिया, जहां बीते महीने ही तालिबान ने सत्‍ता पर कब्‍जा किया है।

Sawal Public Ka: वर्ल्‍ड फोरम से PM मोदी का कट्टरवाद पर प्रहार, दुनिया के लिए कितना बड़ा खतरा है कट्टरपंथ?
Sawal Public Ka: वर्ल्‍ड फोरम से PM मोदी का कट्टरवाद पर प्रहार, दुनिया के लिए कितना बड़ा खतरा है कट्टरपंथ? 

Times Now Navbharat Sawal Public Ka: SCO यानी शंघाई कॉपरेशन ऑर्गनाइजेशन की बैठक में आज प्रधानमंत्री मोदी ने कट्टरवाद पर सीधा अटैक किया। पीएम मोदी ने कट्टरपंथ पर चिंता जताई और कहा कि दुनिया के सामने कट्टरपंथ और आतंकवाद सबसे बड़ी चुनौती है। उन्‍होंने इसके लिए अफगानिस्तान के ताजा घटनाक्रम का उदाहरण भी दिया।

पीएम मोदी ने कहा कि इस क्षेत्र में सबसे बड़ी चुनौतियां शांति सुरक्षा और अविश्वास की हैं और इन समस्याओं का मूल कारण बढ़ता कट्टरपंथ है। अफगानिस्तान में हाल के घटनाक्रम ने इस चुनौती को और स्पष्ट कर दिया है। इस मुद्दे पर SCO को पहल करनी चाहिए। SCO को कट्टरपंथ और अतिवाद से लड़ने का एक साझा प्लान बनाना चाहिए। भारत में और SCO के लगभग सभी देशों में इस्लाम से जुड़ी उदारवादी, सहनशील और समावेशी संस्थाएं और परंपराएं हैं। SCO को इनके बीच एक मजबूत नेटवर्क विकसित करने के लिए काम करना चाहिए। 

SCO शिखर सम्‍मेलन में अपने संबोधन से पीएम मोदी ने साफ कर दिया कि कट्टरवाद को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कट्टरवाद को उन्‍होंने सबसे बड़ी चुनौती बताया। उन्होंने अफगानिस्तान का नाम भी लिया। पूरी दुनिया ने सुना, लेकिन कांग्रेस महासचिव तारिक अनवर ने पीएम मोदी की बात में एक नया एंगल ढूंढ लिया। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी को उन कट्टरपंथियों के बारे में भी बात करनी चाहिए, जो देश में पनप रहे हैं। 

ऐसे में पब्लिक का सवाल ये है : 

तालिबानी कट्टरपंथ..आतंकवाद का बदला चेहरा है?
कट्टरवाद पूरी दुनिया के लिए कितना बड़ा खतरा?  
कांग्रेस 'तालिबानी कट्टरपंथ' पर एंगल क्यों ढूंढती है?

आखिर इस पर विशेषज्ञों की राय क्‍या है? विशेषज्ञ इन सवालों को कैसे देखते हैं? देखिये पूरी रिपोर्ट। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर