NCB के दफ्तर पर रिया चक्रवर्ती से पूछताछ जारी, लटकी गिरफ्तारी की तलवार

Rhea Chakraborty: रिया चक्रवर्ती पर शिकंजा कसता जा रहा है। आज नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) उनसे पूछताछ कर रही है। एनसीबी ने रिया के घर जाकर उन्हें समन जारी किया था।

ncb
रिया चक्रवर्ती पर कसा शिकंजा 

नई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में ड्रग एंगल की जांच कर रही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की एक टीम आज सुबह मुंबई में अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के घर पहुंची। इस मौके पर पुलिस भी मौजूद रही। एनसीबी ने रिया को जांच में शामिल होने के लिए समन किया। एनसीबी ने कहा, 'टीम समन देने के लिए आई है। उसे जांच में शामिल होना है। वह खुद आ सकती है या वह टीम के साथ चल सकती है। रिया चक्रवर्ती को आज ही जांच में शामिल होने के लिए कहा गया।' बाद में रिया चक्रवर्ती एनसीबी के दफ्तर पहुंची। यहां उनसे पूछताछ की जा रही है, सवाल-जवाब हो रहे हैं। रिया पर गिरफ्तारी की भी तलवार लटक रही है।

रिया दोपहर 12 बजे पुलिसकर्मियों के साथ बल्लार्ड एस्टेट स्थित एनसीबी दफ्तर पहुंचीं। एजेंसी ने कहा कि वह रिया का शोविक, मिरांडा तथा सावंत से आमना-सामना कराना चाहती है ताकि कथित मादक पदार्थ रैकेट में सभी की भूमिकाएं साफ हो सकें। गौरतलब है कि एनसीबी को मोबाइल फोन चैट रिकॉर्ड तथा अन्य इलेक्ट्रॉनिक डेटा हासिल हुए जिसमें प्रतिबंधित मादक पदार्थ की खरीद में इन लोगों की संलिप्तता सामने आई थी। 



इससे पहले शनिवार को एनसीबी ने सुशांत के निजी स्टाफ सदस्य दीपेश सावंत को गिरफ्तार किया। एनसीबी ने कहा कि इसके साथ ही चल रही जांच के सिलसिले में अब तक कुल सात लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। एजेंसी ने शुक्रवार को इस मामले में रिया के भाई शोविक चक्रवर्ती (24) और राजपूत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा को गिरफ्तार किया था। 9 सितंबर तक दोनों की कस्टडी भी एजेंसी को मिल गई है। मामले में जब जांच शुरू हुई थी तो एजेंसी ने दो लोगों अब्बास लखानी और करण अरोड़ा को गिरफ्तार किया था। उन्हें कथित मादक पदार्थ तस्करी के मामले में गिरफ्तार किया था। 

वहीं एनसीबी ने दावा किया है कि मुख्य आरोपी शोविक चक्रवर्ती ने कई नामों का खुलासा किया है जो बॉलीवुड और मुंबई में ड्रग्स के गढ़ तक पहुंचने और उसे खत्म करने में मदद कर सकता है। सीडीआर रिकॉर्डस के आधार पर, व्हाट्सएप चैट और नशीले पदार्थों की तस्करी में प्रारंभिक पूछताछ को लेकर एनसीबी ने कहा है कि वह 'कुछ लोगों' का पता लगाना और सत्यापित करना चाहती है जो अभी भी फरार हैं और उन्हें गिरफ्तार किया जाना है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर