Hathras gangrape: 'जब मां-बाप यहां हैं तो शव कहां है?'; बार-बार उठ रहा ये सवाल, डॉक्टर ने बताई पीड़िता की हालत

देश
लव रघुवंशी
Updated Sep 29, 2020 | 23:08 IST

उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में बर्बर सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई 19 साल की युवती की दिल्ली के अस्पताल में मंगलवार को मौत हो गई। हर जगह विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं और लोग न्याय की मांग कर रहे हैं।

hathras
घटना ने लोगों को झकझोर दिया है 

मुख्य बातें

  • 14 सितंबर को चार लोगों ने दलित युवती के साथ सामूहिक बलात्कार किया
  • पीड़िता को पहले अलीगढ़ के अस्पताल में भर्ती कराया गया
  • बेहद नाजुक हालत में बाद में उसे दिल्ली के अस्पताल में सोमवार को भर्ती कराया गया

नई दिल्ली: हाथरस गैंगरेप की पीड़िता की मौत के बाद लोगों में काफी गुस्सा है। दिल्ली में कांग्रेस, आम आदमी पार्टी (AAP) और भीम आर्मी प्रदर्शन कर रही है। वहीं अब पीड़िता के शव को लेकर सवाल उठ रहे हैं। सफदरजंग अस्पताल के बाहर प्रदर्शन कर रहे दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी ने कहा कि प्रशासन ने अभी तक स्थिति साफ नहीं की है कि (पीड़िता का) शव परिवार को दिया है या नहीं। यही सवाल बार-बार उठ रहा है कि जब मां-बाप यहां हैं तो शव कहां है?

वहीं आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने ट्वीट कर कहा, 'अभी अभी हाथरस की बलात्कार पीड़िता के परिवार से बात हुई। उनकी बेटी की लाश गायब कर दी गई है। परिवार धरने पर सफदरजंग अस्पताल में बैठा हुआ है। उसके गांव में भी उनके रिश्तेदारों को आने नहीं दिया जा रहा है। दलित की बेटी, देश की बेटी नहीं है? सफदरजंग अस्पताल पर दिल्ली पुलिस योगी सरकार के लिए काम कर रही है। एक दलित विधायक अजय दत ने उस दलित की बेटी की लाश की जानकारी मांगी तो अजय को उनकी हैसियत दिखाई गई। उनको खींच कर कमरे में ले जाया गया, और थप्पड़ घूसों से पुलिस द्वारा पीटा गया। मेरे पास पीड़ित के चाचा का फोन आ रहा है कि दिल्ली पुलिस उनकी बेटी की लाश की जानकारी उनके परिवार को भी नहीं दे रही है। दिल्ली पुलिस ने वहां पर कुछ गुंडे खड़े कर रखे हैं जो भाजपा से सवाल नहीं कर रहे। वो कांग्रेस और आम आदमी पार्टी से पूछ रहे हैं कि बलात्कार क्यों हुआ?' 

अलीगढ़ के जेएन अस्पताल के डॉक्टर ने बताया कि पीड़िता के सीटी स्कैन में गर्दन की हड्डियों में चोट थी। नस दबने से उसे सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। हाथ-पांव नहीं चल पा रहे थे। दो दिन बाद पूरा मामला बताने पर गायनेकॉलॉजिस्ट और फॉरेंसिक ने जांच कर पूरी रिपोर्ट CMO को जमा की। आईजी अलीगढ़ पीयूष मोर्डिया ने कहा कि सभी 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। मेडिकल जांच में बलात्कार की पुष्टि नहीं हुई है। सैंपल फोरेंसिक लैब में भेजे गए हैं, रिपोर्ट की प्रतीक्षा है। 

मृतका के भाई ने वारदात के बारे में बताते हुए कहा, '5 लड़कों की पहले से प्लानिंग थी। ये वहां घूम रहे थे, वो लोग पीछे से खेत में आए और दुपट्टे से बहन का गला घोंट दिया। उसे खींच ले गए और बहन के साथ रेप किया। मम्मी आवाज देती है, उन्हें चप्पल और कुंडल दिखाई देते हैं। उन्होंने बहन को बिना कपड़ों के देखा।' वहीं पिता ने न्याय मांगते हुए कहा कि आरोपियों को फांसी होनी चाहिए। ऐसा किसी के साथ नहीं होना चाहिए।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर