Ballia Firing: बलिया में पुलिस ने की आरोपी की भागने में मदद, मृतक के भाई ने लगाए पुलिस पर गंभीर आरोप

देश
किशोर जोशी
Updated Oct 16, 2020 | 10:10 IST

उत्तर प्रदेश के बलिया के दुर्जनपुर गांव में गुरुवार को पुलिस और जिला प्रशासन के आला अधिकारियों की मौजूदगी में एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप अभी भी फरार है।

Ballia Firing police helped the accused to escape, serious allegations of the brother of the deceased
बलिया में पुलिस ने की आरोपी की भागने में की मदद: मृतक का भाई 

मुख्य बातें

  • बलिया में हुए गोलीकांड को लेकर मृतक के भाई ने पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप
  • पुलिस ने आरोपियों की भागने में की थी मदद: पुलिस
  • पुलिस बोली- आरोपियों को पकड़ने के लिए की जा रही है दबिश

बलिया, यूपी: उत्तर प्रदेश के बलिया में गुरुवार को सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान के चयन को लेकर बुलायी गयी बैठक के दौरान गोली चलने से मारे गए शख्स के भाई ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। मृतक के भाई का कहना है कि जब धीरेंद्र प्रताप और उसके लोग पत्थरबाजी और फायरिंग कर रहे थे तो पुलिस उन्हें बचाने के साथ-साथ पीड़ित पक्ष को ही पीट रही थी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर कड़ी कार्रवाई करते हुए उपजिलाधिकारी और मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों को निलम्बित कर दिया है

मृतक के भाई के गंभीर आरोप
मृतक के भाई धीरेंद्र प्रताप ने कहा, 'करीब 15-20 आदमी आए थे जिसमें से बाहर के आदमी भी शामिल थे।  धीरेंद्र प्रताप के आदमी कुछ देर इकट्ठा होने के बार गोलियां चलाने लगे। करीब करीब 15-20 राउंड फायर हुई है। एक अजय सिंह भी फायर कर रहे थे और धीरेंद्र प्रताप हमारे भाई को गोली मार दिए। धीरेंद्र प्रताप आर्मी से रिटायर हैं और सुरेंद्र सिंह के आदमी हैं। उन्हें सुरेंद्र सिंह का पूरा साथ उन्हें मिला है। पुलिस उन लोगों को बचा रही थी और हम लोगों को मार रही थी। प्रशासन ने एक को पकड़ा था बांकि को पुलिस वालों ने बोला भाग जाओ। वो जब देखता है कि हम चुनाव हार रहे हैं वो तो कैंसल करवा देता है।'

आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास तेज

वहीं पुलिस डीआईजी सुभाष चंद्र दुबे ने कहा, 'उक्त घटनाक्रम में जो अभियोग पंजीकृत किया है उसमें 8 लोग नामज हैं। जिसमें से एक मुख्य हत्यारोपी है जिसने फायर किया है। उसके सहित गिरफ्तारी के लिए 1 दर्जन से ज्यादा टीमें दबिश दे रही हैं। लगातार कार्यवाही चल रही है। पुलिस ने इस घटना को एक चुनौती के रूप में लिया है। इसके बाद में हम ऐसी कार्रवाई करेंगे कि कोई भी शख्स ऐसी घटना करने से पहले कई बार सोचेगा। जो भी लोग नामजद हैं उनके खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी। जो भी अधिकारी इसमें दोषी पा जाएंगे उनके खिलाफ भी एक्शन लिया जाएगा जिसमें सस्पेंशन की कार्रवाई भी की जाएगी।'

सपा ने साधा निशाना

इस घटना के बाद विपक्ष लगातार योगी सरकार पर निशाना साध रहा है। समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने कहा, 'जिस प्रदेश में पुलिस प्रशासन का इकबाल खत्म हो जाता है, समझो उस प्रदेश में तालिबानी जैसा माहौल हो जाता है। बलिया में एसडीएम और पुलिस के सामने दंबग ने जिस तरह से गोली मारकर हत्या कर दी गई, उससे साफ होता है कि यूपी में दबंगों और अपराधियों का शासन चल रहा है। कानून व्यवस्था जैसी कोई चीज आज पूरे यूपी में नहीं है और अफरातफरी का माहौल है।'

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर