पाकिस्तानी लड़ाकू विमान गिराने वाले ग्रुप कैप्टन अभिनंदन को मिला वीर चक्र, शहीद मेजर विभूति शौर्य चक्र से सम्मानित

पाकिस्तानी F-16 लड़ाकू विमान को मार गिराने वाले तत्कालीन विंग कमांडर (अब ग्रुप कैप्टन) अभिनंदन वर्धमान को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने आज सम्मानित किया।

Wing Commander (now Group Captain) Abhinandan Varthaman to be awarded Vir Chakra today, Pakistani F-16 fighter plane was shot down
अभिनंदन वर्धमान को वीर चक्र 
मुख्य बातें
  • अभिनंदन वर्धमान ने पाकिस्तानी F-16 लड़ाकू विमान को हवाई हमले में मार गिराया था।
  • पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आत्मघाती आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान पर कार्रवाई की गई थी।
  • पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की गई थी।

Veer Chakra to Abhinandan Varthaman : 27 फरवरी, 2019 को एक पाकिस्तानी F-16 लड़ाकू विमान को हवाई युद्ध में मार गिराने के लिए विंग कमांडर (अब ग्रुप कैप्टन) अभिनंदन वर्धमान को आज राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने एक अलंकरण समारोह में वीर चक्र से सम्मानित किया। सम्मान समारोह राष्ट्रपति भवन में आयोजित किया गया।

बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तानी एफ-16 विमान को मार गिराय गया था। गौर हो कि 14 फरवरी 2019 को पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने  कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आत्मघाती हमला किया था जिसमें भारत के 40 जवान शहीद हो गए थे। उसके बाद भारत ने कार्रवाई करते हुए 26 फरवरी की रात बालाकोट में आतंकी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की थी जिसमें 300 से ज्यादा आतंकवादी मारे गए थे।

मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल को एक ऑपरेशन में उनकी भूमिका के लिए शौर्य चक्र (मरणोपरांत) दिया गया। उन्होंने 5 आतंकवादियों का सफाया किया था और 200 किलोग्राम विस्फोटक सामग्री बरामद की थी। मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की पत्नी लेफ्टिनेंट नितिका कौल और मां सरोज ढौंडियाल ने जम्मू-कश्मीर में एक ऑपरेशन के लिए अपना शौर्य चक्र (मरणोपरांत) प्राप्त किया।

जम्मू-कश्मीर में एक ऑपरेशन के दौरान A++ कैटेगरी के आतंकवादी को मारने के लिए नायब सूबेदार सोमबीर को मरणोपरांत शौर्य चक्र दिया गया। राष्ट्रपति भवन में आयोजित अलंकरण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी हिस्सा ले रहे हैं।

कोर ऑफ इंजीनियर्स के सपर प्रकाश जाधव को जम्मू-कश्मीर में एक ऑपरेशन में आतंकवादियों को बेअसर करने के लिए दूसरा सबसे बड़ा शांतिकालीन वीरता पुरस्कार कीर्ति चक्र (मरणोपरांत) से सम्मानित किया गया।

पूर्व पूर्वी सेना कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान (सेवानिवृत्त), इंजीनियर इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल हरपाल सिंह, दक्षिणी नौसेना कमांडर वाइस एडमिरल अनिल चावला को परम विशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित किया गया। पूर्वी वायु कमांडर एयर मार्शल दिलीप पटनायक को अति विशिष्ट सेवा  मेडल दिया गया।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर