'वो नक्सली थे-4 बार पार्टियां बदलीं-BJP ने उन्हें धमकाया'; मिथुन के BJP में शामिल होने पर बोले TMC नेता

देश
लव रघुवंशी
Updated Mar 07, 2021 | 18:41 IST

Mithun Chakraborty: बीजेपी में शामिल हुए मिथुन चक्रवर्ती पर प्रतिक्रिया देते हुए टीएमसी सांसद सौगत राय ने कहा है कि वो आज के नहीं अतीत के स्टार हैं। वो पहले नक्सली थे।

Mithun Chakraborty
मिथुन चक्रवर्ती  |  तस्वीर साभार: ANI

नई दिल्ली: अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती रविवार को कोलकाता के ब्रिगेड परेड मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी रैली से पहले भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल हो गए। अब उनको लेकर तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। टीएमसी सांसद सौगत राय ने कहा कि मिथुन चक्रवर्ती आज के स्टार नहीं हैं। वह अतीत के स्टार हैं। उन्होंने चार बार पार्टियां बदली हैं। वे मूल रूप से नक्सली थे, फिर सीपीएम गए, फिर उन्होंने टीएमसी ज्वॉइन की और राज्यसभा सांसद बने।

सौगत राय ने आगे कहा, 'बीजेपी ने उन्हें (अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती) ईडी के मामलों में धमकी दी और उन्होंने राज्यसभा छोड़ दी और अब वे बीजेपी में शामिल हो गए हैं। उनकी कोई विश्वसनीयता, कोई सम्मान नहीं है और लोगों के बीच कोई प्रभाव नहीं है।'

'गरीबों के लिए काम करना चाहता था'

वहीं बीजेपी में शामिल होने के बाद चक्रवती ने कहा कि वह हमेशा से वंचितों के लिए काम करना चाहते थे और भाजपा ने उन्हें अपनी आकांक्षा पूरी करने के लिए एक मंच दिया है। उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें बंगाली होने पर गर्व है। उन्होंने कहा, 'मैं हमेशा जीवन में कुछ बड़ा करना चाहता था, लेकिन कभी भी इतनी बड़ी रैली का हिस्सा बनने का सपना नहीं देखा था, जिसे दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता नरेंद्र मोदी द्वारा संबोधित किया जाना है। मैं हमारे समाज के गरीब वर्गों के लिए काम करना चाहता था और वह इच्छा अब पूरी होगी।' 

उन्होंने इस मौके पर अपनी एक फिल्म का एक संवाद भी बोले और कहा, 'अमी जोल्धोराओ नोई, बीले बोराओ नोई ... अमि इक्ता कोबरा, ईक चोबोल-ई छोबी (मुझे एक हानिरहित सांप समझने की गलती न करें, मैं एक कोबरा हूं, लोगों को एक बार में डंसकर मार भी सकता हूं)।' 

2016 में छोड़ी TMC

विजयवर्गीय ने शनिवार शाम यहां चक्रवर्ती के निवास पर मुलाकात के बाद घोषणा की थी कि वह रैली में शामिल होंगे। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने पिछले महीने मुंबई में अभिनेता के आवास पर उनसे मुलाकात की थी। इसके बाद उनके भाजपा में शामिल होने की अटकलें शुरू हो गई थीं। तृणमूल कांग्रेस से राज्यसभा सदस्य रह चुके अभिनेता ने सारदा पोंजी घोटाले में नाम आने के बाद 2016 में उच्च सदन की सदस्यता छोड़ दी थी।  

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर