BIhar: लालू यादव को बड़ी राहत, इस मामले में कोर्ट ने कर दिया बरी

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव बुधवार को 2015 के एक मामले की सुनवाई के लिए हाजीपुर पहुंचे थे। इस दौरान राजद के समर्थक भी भारी संख्या में जुट गए।

lalu yadav, Bihar, Lalu yadav acquitted
लालू यादव आदर्श आचार संहिता के उल्लघंन के मामले में बरी  |  तस्वीर साभार: Facebook
मुख्य बातें
  • चारा घोटाले के कई मामलों में लालू यादव को हो चुकी है सजा
  • जमानत पर अभी बाहर है लालू यादव
  • बुधवार को ही उनकी पार्टी के कई नेताओं के घरों पर सीबीआई का पड़ा है छापा

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के लिए बुधवार का दिन एक तरफ परेशान करनेवाला तो एक तरफ राहत देने वाला रहा है। 2015 के एक मामले में लालू प्रसाद यादव को कोर्ट ने बरी कर दिया है।

क्या है मामला

दरअसल 2015 के विधानसभा चुनाव के दौरान लालू प्रसाद यादव पर जातिगत टिप्पणी करने का आरोप लगा था, जिसके लिए आदर्श आचार संहिता के तहत हाजीपुर के गंगाब्रिज थाने में एक मामला दर्ज कराया गया था। तब राघोपुर के तत्कालीन सीओ निरंजन कुमार ने मामला दर्ज कराया था। इसे लेकर तब से सुनवाई चल रही थी।

आज क्या हुआ

बुधवार को जब लालू इस मामले की सुनवाई के लिए हाजीपुर कोर्ट पहुंचे तो वहां राजद समर्थकों की भी काफी भीड़ जमा हो गई। कोर्ट परिसर के बाहर लालू-राबड़ी जिंदाबाद के नारे लगते रहे। मामले की सुनवाई के दौरान सिविल कोर्ट ने गवाहों और सबूतों के आधार पर लालू यादव को बरी कर दिया। बरी होने के बाद लालू यादव कोर्ट से निकलते ही सीधे पटना के लिए रवाना हो गए।

राजद के लिए आज का दिन महत्वपूर्ण

बिहार में नीतीश के नेतृत्व वाली नई सरकार का आज बहुमत परीक्षण भी होना था, जिसमे ंवो पास हो गई है। सदन में आज नीतीश और तेजस्वी दोनों ने बीजेपी पर जमकर हमले किए। हालांकि आज सुबह से ही सीबीआई राजद नेताओं के यहां छापा मार रही थी, जिसे लेकर राजनीतिक वार-पलटवार भी जारी था। 

बता दें कि चारा घोटाले के कई मामलों में राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को सजा हो चुकी है। कई साल वो जेल में भी रह चुके हैं। फिलहाल वो जमानत पर बाहर हैं। लालू यादव का स्वास्थ्य पिछले कई महीनों से सही नहीं है और अपनी पार्टी की कमान भी अपने छोटे बेटे तेजस्वी को अनौपचारिक रूप से सौंप चुके हैं।

ये भी पढ़ें-  Bihar: RJD के मंत्री अपने लिए कोई नई गाड़ी नहीं खरीदेंगे- तेजस्वी का आदेश! पैर छूने की जगह नमस्ते पर जोर

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर