Rajasthan Congress: सचिन पायलट की सीएम पद की उम्मीदवारी की चर्चा के बीच राजस्थान कांग्रेस में बढ़ी नाराजगी

कयास लगाए जा रहे हैं कि अगले महीने होने वाले कांग्रेस पार्टी के आंतरिक चुनावों के दौरान अशोक गहलोत के राजस्थान के सीएम की कुर्सी छोड़ने की अधिक संभावना है।

sachin pilot
क्षेत्रीय नेतृत्व अभी भी अशोक गहलोत के खिलाफ उनके नेतृत्व वाले विद्रोह को नहीं भूले हैं 

अशोक गहलोत और सचिन पायलट के क्रमशः कांग्रेस अध्यक्ष और राजस्थान के मुख्यमंत्री का पद ग्रहण करने की उम्मीद के लिए यह अगले कुछ हफ्तों में हो सकता है, लेकिन ऐसा लग रहा है कि पार्टी की राजस्थान इकाई में चीजें सुचारू रूप से नहीं चल रही हैं। ऐसी अटकलें लगाई जा रही हैं कि अगले महीने कांग्रेस पार्टी के आंतरिक चुनाव के दौरान अशोक गहलोत के अगले कांग्रेस अध्यक्ष चुने जाने पर राजस्थान के सीएम की कुर्सी से हटने की संभावना है।

अब, सचिन पायलट का नाम राजस्थान के अगले मुख्यमंत्री के रूप में आगे चल रहा है, लेकिन क्षेत्रीय नेतृत्व अभी भी अशोक गहलोत के खिलाफ उनके नेतृत्व वाले विद्रोह को नहीं भूले हैं।

पायलट या जोशी, किसके सिर 'राज का ताज'? राजस्थान के अगले संभावित सीएम को लेकर बढ़ा सस्पेंस

राजस्थान सरकार के मंत्री सुभाष गर्ग ने जोर देकर कहा कि कांग्रेस आलाकमान जो भी फैसला करेगा, उसे हर कोई स्वीकार करेगा, लेकिन उन्हें यह याद रखना चाहिए कि कैसे दो साल पहले राज्य सरकार को गिराने के लिए भाजपा के साथ गठबंधन में साजिश रची गई थी। उन्होंने पायलट की उम्मीदवारी को खारिज करते हुए कहा, 'उन्हें उन लोगों को ध्यान में रखना चाहिए जो पार्टी की विचारधारा के अनुसार सोचते हैं और एकता बनाए रखते हैं।'

गर्ग ने आगे कहा कि राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत को (अगले सीएम का फैसला करने में) लूप में लिया जाना चाहिए ताकि पार्टी 2023 में फिर से सरकार बना सके। 'यह खेदजनक है कि अनुशासन तोड़ने वाले कुछ लोगों (सचिन पायलट का जिक्र) को (सीएम के) पद के लिए कैसे माना जाता है।'

इस बीच, कांग्रेस ने जयपुर में अपने राजस्थान के विधायकों की बैठक बुलाई है और संभावना है कि उनसे अपनी पसंद का नाम पूछा जाएगा, जबकि सचिन पायलट पार्टी नेतृत्व की शीर्ष पसंद के रूप में उभर रहे हैं।मल्लिकार्जुन खड़गे को राजस्थान के प्रभारी अजय माकन के साथ पर्यवेक्षक के रूप में नियुक्त किए जाने के बाद दिल्ली में जोरदार पैरवी चल रही है।

के.सी. वेणुगोपाल ने कहा, 'कांग्रेस अध्यक्ष ने श्री मल्लिकार्जुन खड़गे को राजस्थान विधानसभा के कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) की बैठक में भाग लेने के लिए श्री अजय माकन, जनरल सचिव एआईसीसी, राजस्थान प्रभारी के साथ पर्यवेक्षक के रूप में नियुक्त किया है, 25 सितंबर को शाम 7 बजे आयोजित होने वाली है।'
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर