पंजाब पुलिस की 3 चिट्ठियों से बड़ा खुलासा, प्रदर्शनकारी ब्लाक कर सकते हैं रोड, जताई गई थी आशंका 

PM Modi's security breach : दो, तीन और चार जनवरी को लिखी गई ये चिट्ठियां जिले के पुलिस अधिकारियों को भेजी गईं। पत्र में खराब मौसम का भी जिक्र है। पत्र में रिकवरी वैन और वैकल्पिक मार्ग तैयार रखने के लिए कहा गया है।

Punjab police letters clearly say Protestors may create road blocks during PM Modi's visit
बुधवार को पंजाब में पीएम मोदी की सुरक्षा में लगी सेंध।  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • बुधवार को पंजाब में थे पीएम मोदी, इसी दौरान उनकी सुरक्षा में बड़ी चूक हुई
  • फिरोजपुर के हुसैनवाला फ्लाईओवर पर 20 मिनट तक फंसा रहा उनका काफिला
  • फ्लाईओवर पर प्रदर्शनकारी आ गए थे, पंजाब पुलिस की तैयारी पुख्ता नहीं थी

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक मामले में पंजाब पुलिस सवालों से घिरती जा रही है। पीएम मोदी की पंजाब यात्रा से जुड़ी तीन चिट्ठियां टाइम्स नाउ नवभारत के हाथ लगी हैं। पुलिस अधिकारियों की तरफ से लिखी गईं इन चिट्ठियों में स्पष्ट तौर पर आशंका जताई गई है कि किसान अलग-अलग जगहों पर प्रदर्शन कर रहे हैं और पांच जनवरी को, पीएम मोदी के दौरे के समय ये प्रदर्शनकारी अड़चन एवं व्यवधान उपस्थित कर सकते हैं। यहां तक कि सड़कें ब्लाक की जा सकती हैं। 

पंजाब पुलिस की 3 चिट्टियों में जताई गई थी आशंका

दो, तीन और चार जनवरी को लिखी गई ये चिट्ठियां जिले के पुलिस अधिकारियों को भेजी गईं। पत्र में खराब मौसम का भी जिक्र है। पत्र में रिकवरी वैन और वैकल्पिक मार्ग तैयार रखने के लिए कहा गया है। इन चिट्ठियों से साफ है कि पंजाब पुलिस को पहले से पीएम मोदी की प्रस्तावित यात्रा की पूरी जानकारी थी और उसे प्रोटोकॉल एवं सुरक्षा से जुड़ी सभी तरह की तैयारी पहले से करने के निर्देश ऊपर से मिले हुए थे। सवाल है कि पुलिस की चिट्ठी में जब साफ तौर पर इस बात का जिक्र था कि प्रदर्शनकारी रोड ब्लॉक कर सकते हैं तो पुलिस ने समय रहते सड़क को प्रदर्शनकारियों से खाली क्यों नहीं कराया? पुलिस को जब पहले से अलर्ट मिला हुआ था तो उसने कदम क्यों नहीं उठाया? वह लापरवाह क्यों बनी रही? वह किस बात का इंतजार कर रही थी?

PM की सुरक्षा चूक पर राष्ट्रपति चिंतित, प्रधानमंत्री मोदी ने खुद मिलकर घटना की दी जानकारी

एडीजीपी की चिट्ठी में पहले से तैयार रहने की बात

एडीजीपी की चिट्टी में साफ तौर पर कहा गया है कि पीएम के दौरे के समय यदि कोई आपात स्थिति बनती है तो उनका रूट बदलने की तैयारी होनी चाहिए। पत्र में जिले के पुलिस अधीक्षक को व्यक्तिगत रूप से निगरानी रखने के लिए कहा गया था। इस चिट्ठी में एसपी, डीएसपी और अन्य पुलिस अधिकारियों को भेजा गया था। 


SC पहुंचा PM मोदी की सुरक्षा में चूक का मुद्दा, CJI को दी गई जानकारी, शुक्रवार को होगी सुनवाई

मनीष तिवारी ने कहा-सुरक्षा में चूक गंभीर मसला

सुरक्षा में सेंध के मसले पर भाजपा और कांग्रेस में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। भाजपा ने इस घटना के पीछे जहां साजिश का आरोप लगाया है, वहीं कांग्रेस का कहना है कि फिरोजपुर में पीएम की रैली में भीड़ नहीं जुटी थी। इस बात की जानकारी जब पीएम को हुई तो उन्होंने वापस लौटने का फैसला किया। भाजपा सूरक्षा में चूक को बड़ा राजनीतिक मुद्दा बनाने की फिराक में है। पंजाब भाजपा अध्यक्ष अश्विनी शर्मा पार्टी नेताओं के साथ राज्यपाल से मिले और उन्हें घटना की जानकारी दी। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि पीएम की सुरक्षा में सेंध गंभीर मसला है लेकिन इसे राजनीतिक रंग देना उचित नहीं है। 

कांग्रेस के विरोध में भाजपा युवा मोर्चा का मशाल जुलूस, पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक का मामला

सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार को होगी सुनवाई

पीएम की सुरक्षा में सेंध का मसला सुप्रीम कोर्ट भी पहुंच गया है। सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार को इस मामले की सुनवाई करेगा। वहीं, भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सांसद तेजस्वी सू्र्या ने कहा है कि शुक्रवार शाम देश भर में मशाल जुलूस निकाला जाएगा। भाजपा के बड़े नेता मंदिरों में पीएम मोदी की दीर्घायु जीवन के लिए मंदिरों में प्रार्थना एवं महामृत्यूंजय जाप करेंगे। कांग्रेस ने भाजपा के आरोपों का जवाब देने के लिए अपने मुख्यमंत्रियों को आगे किया है। 
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर