लखीमपुर पहुंचीं प्रियंका गांधी वाड्रा, पंचायत चुनाव के दौरान जिन महिलाओं से हुई थी बदसलूकी उनसे की मुलाकात

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा समाजवादी पार्टी की ब्लॉकहेड महिला से मुलाकात के लिए शनिवार को लखीमपुर पहुंच गईं। दरअसल, महिला के साथ हाल में चुनावों के दौरान कथित तौर पर छेड़छाड़ की गई थी।

Priyanka Gandhi
प्रस्तावक अनीता यादव से मिलीं प्रियंका गांधी 

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश के तीन दिवसीय दौरे पर हैं। शनिवार सुबह वो लखीमपुर पहुंची और यहां ब्लॉक प्रमुख चुनाव में हिंसा का शिकार हुई रीतू सिंह एवं अनीता यादव से मुलाकात की। इनके साथ हाल ही में ब्लॉक प्रमुख चुनाव के दौरान कथित तौर पर छेड़छाड़ की गई थी। उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने प्रियंका गांधी की तस्वीरें पोस्ट करते हुए कहा, 'कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी जी ने ब्लॉक प्रमुख चुनाव में अभद्रता का शिकार हुईं प्रस्तावक अनीता यादव जी से पसगवां लखीमपुर में मुलाकात की। दल के हिसाब से नहीं दर्द के हिसाब से रिश्ता निभाने वाली नेता का नाम प्रियंका गांधी है।'

एक और ट्वीट में कहा गया, 'श्रीमती प्रियंका गांधी जी लखीमपुर पहुंचकर ब्लॉक प्रमुख चुनाव में हिंसा का शिकार हुई रीतू सिंह एवं अनीता यादव से मुलाकात कर उनका दर्द जाना। भाजपा सरकार महिला अपराध का पर्याय बन चुकी है, प्रदेश की महिलाएं आने वाले समय में महिला विरोधी सरकार को करारा जवाब देंगी।' 

प्रियंका गांधी ने मांग की कि लखीमपुर खीरी में हाल ही में हुए पंचायत चुनाव रद्द कर फिर से चुनाव कराया जाए। गौरतलब है कि नौ जुलाई को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाया था कि लखीमपुर खीरी में भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनकी पार्टी उम्मीदवार रितु सिंह और उनकी प्रस्तावक अनीता यादव के साथ बद्तमीजी की और उनकी साड़ियां खींच लीं।

समाजवादी पार्टी की ब्लॉकहेड रितु सिंह के घर पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया, जबकि एएसपी अरुण कुमार भी मौके पर पहुंचे। पंचायत चुनाव के दौरान रितु सिंह पर छेड़खानी और मारपीट के आरोपों के बाद पूरे थाने को निलंबित कर दिया गया था। घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिससे हर तरफ से प्रशासन की आलोचना हुई।

योगी सरकार पर हमलावर प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे पर यूपी सरकार की खिंचाई की और हजरतगंज इलाके में जीपीओ स्थित गांधी प्रतिमा पर यूपी सरकार के खिलाफ खामोश धरना पर बैठ गईं। उन्होंने आरोप लगाया कि पंचायत चुनावों में योगी सरकार की हार के बाद पार्टी हिंसा में शामिल है और प्रशासन का दुरुपयोग कर रही है। मीडिया से बात करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, 'लोगों का अपहरण किया जा रहा है, कई को नामांकन दाखिल करने की अनुमति नहीं है, महिलाओं के कपड़े फाड़े जा रहे हैं, प्रशासन लोगों को धमका रहा है और सरकार खुद हिंसा में लिप्त है। लोग सब कुछ देख रहे हैं, यूपी सरकार फेल हो गई है और इसीलिए उसने हिंसा की है।'

उन्होंने कहा कि महिला सुरक्षा के मुद्दे पर पीएम योगी जी की सराहना कर रहे हैं, लेकिन हम सभी ने देखा है कि क्या हो रहा है, इस संबंध में कुछ भी नहीं किया गया है, हमने महिला सुरक्षा के लिए कई बार विरोध किया है। ऐसा लगता है कि मोदी जी हिंसा में शामिल यूपी सरकार के पीछे हैं। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर