CDS बिपिन रावत समेत सभी मृतकों के पार्थिव शरीर आज लाए जाएंगे दिल्ली, उत्तराखंड में तीन दिन का राजकीय शोक

तमिलनाडु के कून्नूर के निकट सेना का हेलीकॉप्टर बुधवार को दुर्घटनाग्रस्त हो गया। हादसे में जनरल रावत (CDS Bipin Rawat) सहित कुल 13 लोगों मौत हुई है। सभी के पार्थिव शरीर आज दिल्ली लाए जाएंगे।

Mortal remains of CDS General Rawat, others to reach Delhi by today, three days of state mourning in Uttarakhand
CDS रावत के निधन पर उत्तराखंड में तीन दिन का राजकीय शोक 
मुख्य बातें
  • बुधवार को कून्नूर के निकट घने कोहरे के कारण दुर्घटनाग्रस्त हो गया था सेना का हेलीकॉप्टर
  • हादसे में देश के पहले सीडीएस जनरल रावत सहित कुल 13 लोगों की हुई मौत हुई
  • हादसे में मारे गए सभी के पार्थिव शरीर आज लाए जाएंगे दिल्ली

नई दिल्ली: तमिलनाडु में हेलीकॉप्टर हादसे में जान गंवाने वाले देश के पहले CDS बिपिन रावत समेत सभी मृतकों के पार्थिव शरीर आज दिल्ली लाए जाएंगे। सीडीएस रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत का अंतिम संस्कार कल दिल्ली में होगा। आज लोक सभा और राज्य सभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह हादसे पर बयान देंगे। इसके साथ ही हादसे में एकमात्र जिंदा बचे ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का इलाज जारी है। वहीं उत्तराखंड सरकार ने तीन दिन के राजकीय शोक का ऐलान किया है।

पूरा देश गमजदा

शौर्य और साहस का दूसरा नाम जनरल बिपिन रावत के निधन से देश गमजदा है।आंखें नम है और आम से लेकर खास तक को अभी भी भरोसा नहीं हो रहा है कि जनरल रावत अब हमारे बीच नहीं रहे लेकिन इस कड़वे सच पर अब भरोसा करना ही होगा। तमिलनाडु के नीलगिरी जिले में बुधवार को भारतीय वायुसेना के हेलिकॉप्टर MI-17(V5) हादसे का शिकार हो गया और इसमें हमनें अपने देश के पहले सीडीएस समेत कई अफसरों को खो दिया। इस हादसे में उनकी पत्नी मधुलिका रावत की भी जान चली गई। हादसे का शिकार इन सबों का पार्थिव शरीर को आज शाम तक दिल्ली लाया जाएगा।

लोग कर सकेंगे अंतिम दर्शन

DNA टेस्ट से शवों की पहचान होगी। शुक्रवार को पति-पत्नी के शवों को उनके घर लाया जाएगा और लोगों को सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक अंतिम दर्शन करने की अनुमति होगी। उसके बाद कामराज मार्ग से दिल्ली कैंटोनमेंट के बराड़ चौराहा श्मशान घाट तक उनकी अंतिम यात्रा निकाली जाएगी।अंतिम संस्कार के लिए उनकी छोटी बहन और भाई भी वहां मौजूद रहेंगे। संसद का शीतकालीन सत्र चल रहा है। आज रक्षा मंत्री राजनाथ दोनों सदन में इस हादसे के बारे में जानकारी देंगे।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने हादसे पर गहरा दुख जताया है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि तमिलनाडु में आज दुर्भाग्यपूर्ण हादसे के कारण सीडीएस बिपिन रावत, उनकी पत्नी और सशस्त्र बलों के 11 जवानों के अचानक निधन पर काफी दुखी हूं। उनका असमय निधन सशस्त्र बलों और देश के लिए अपूरणीय क्षति है. उन्होंने आगे कहा, 'जनरल रावत ने असाधारण साहस और लगन से देश की सेवा की है।

सीसीएस की बैठक

हेलीकॉप्टर क्रैश में देश के पहले चीफ ऑफ स्टाफ जनरल बिपिन रावत के निधन की पुष्टि होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी यानी सीसीएस की बैठक हुई जिसमें रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और गृह मंत्री अमित शाह , वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और विदेश मंत्री एस जयशंकर शामिल हुए। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव पी के मिश्रा और कैबिनेट सचिव राजीव गौबा भी बैठक में शामिल हुए। सुरक्षा पर मंत्रिमंडल समिति ने जनरल रावत के निधन पर शोक जताया। थल सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे ने भी रक्षा मंत्री को हादसे और संबंधित मुद्दों के बारे में अवगत कराया।  रक्षा मंत्री, रावत के आवास भी  पहुंचे और उनकी बेटी से बात की। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर