CM चेहरे, चुनाव लड़ने पर मिथुन चक्रवर्ती का बेबाक जवाब, BJP के लिए 12 से करेंगे प्रचार

West Bengal Elections 2021 : एक समाचार चैनल के साथ बातचीत में अभिनेता ने कहा, 'मैं कोई नेता नहीं हूं। मुझे भाजपा का नेता न कहें। मुझमें नेता बनने की योग्यता नहीं है।

 Mithun Chakraborty clarifies whether he contest election or become CM face of BJP
CM चेहरे, चुनाव लड़ने पर मिथुन चक्रवर्ती का बेबाक जवाब।  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • रविवार को कोलकाता की ब्रिगेड परेड ग्राउंड रैली में भाजपा में शामिल हुए मिथुन
  • 12 मार्च से भाजपा के लिए करेंगे चुनाव प्रचार, सीएम चेहरे, चुनाव लड़ने पर साधी चुप्पी
  • पश्चिम बंगाल में विधानसभा की 294 सीटों के लिए आठ चरणों में होंगे मतदान

कोलकाता : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने वाले अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती ने कहा है कि राज्य में उनकी पार्टी की सरकार बनने पर छह महीने के अंदर सबकुछ बदल जाएगा। उन्होंने कहा कि वह भाजपा के नेता नहीं है क्योंकि नेता कहलाने के लिए उनके पास योग्यता नहीं है, बल्कि उनके पास एक नेता है। वरिष्ठ अभिनेता ने कहा कि वह 12 मार्च से भाजपा के लिए प्रचार करेंगे। इस बारे में उनकी प्रधानमंत्री मोदी से बात हुई है। रविवार को ब्रिगेड परेड ग्राउंड में पीएम मोदी की रैली में बॉलीवुड अभिनेता भाजपा में शामिल हुए।

मेरी पीएम मोदी से बात हुई है-मिथुन
एक समाचार चैनल के साथ बातचीत में अभिनेता ने कहा, 'मैं कोई नेता नहीं हूं। मुझे भाजपा का नेता न कहें। मुझमें नेता बनने की योग्यता नहीं है। मैं केवल इतना कहूंगा कि मेरे पास एक लीडर और उनसे मेरी बात हुई है। पीएम ने मुझसे खुलकर बात की है। वह मेरे साथ करीब 15 मिनट तक रहे। उन्होंने मुझसे कहा कि यह सरकार सबकी सरकार होगी। इसका मतलब हुआ कि हम सभी को साथ लेकर चलने जा रहे हैं।' यह पूछने पर कि क्या वह सीएम पद का चेहरा होंगे और चुनाव लड़ेंगे। इस पर मिथुन ने कहा कि वह प्रोटोकॉल में रहने वाले व्यक्ति हैं। पार्टी के लोग ही इस बारे में राय देंगे। वह पार्टी के वरिष्ठ नेताओं एवं सहयोगियों का सम्मान करते हैं। उनका इस बारे में कुछ कहना ठीक नहीं होगा। 

अभिनेता ने कहा कि राज्य की स्थिति ठीक नहीं
बंगाल की हालत के बारे में पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि राज्य में स्थिति ठीक नहीं है। कभी यह राज्य सभी के लिए एक उदाहरण था। मिथुन ने कहा, 'आज, मुझे अहसास होता है कि राज्य पहले जैसा नहीं है। कहीं कुछ गलत हो गया। हमें यह देखना होगा कि उन चीजों को दोबारा कैसे वापस लाया जाए और इसके लिए हमें बदलाव की जरूरत है। वास्तविक बदलाव। यह बदलाव लोगों के लिए लाना होगा।'

'मैं किसी के खिलाफ नहीं बोलूंगा'
चुनाव प्रचार में होने वाली तीखी बयानबाजी के सवाल पर मिथुन ने कहा, 'मैं यहां किसी पर कीचड़ उछालने के लिए नहीं आया हूं। मैंने इस तरह की चीजें अपने जीवन में कभी नहीं कीं। मैंने कभी किसी के बारे में गलत बातें नहीं की हैं और मैं कभी बोलूंगा भी नहीं। मैं किसी की आलोचना नहीं करूंगा।' अभिनेता ने कहा कि पिछले समय में वह लेफ्ट, ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस और कभी कांग्रेस से भी जुड़े रहे। उन्होंने कहा कि उस समय उनका फैसला गलत था। 

टीएमसी ने 2014 में अभिनेता को राज्यसभा भेजा था
मिथुन ने कहा, 'मैं किसी को दोषी नहीं ठहरा रहा हूं। मैं मानता हूं कि मेरा फैसला सही नहीं था। मैं एक जमाने में ज्योति बसु का प्रशंसक रहा क्योंकि उन्होंने हमेशा लोगों के लिए काम किया। मैंने प्रणब मुखर्जी के लिए चुनाव प्रचार किया। यहां तक कि मैंने विलासराव देशमुख के लिए प्रचार किया लेकिन मैं कभी राजनीतिक नहीं रहा।' तृणमूल कांग्रेस ने साल 2014 में मिथुन को राज्यसभा भेजा था लेकिन दो वर्षों के बाद उन्होंने अपने स्वास्थ्य का हवाला देकर पद छोड़ दिया। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर