Coronavirus in Maharashtra: महाराष्ट्र में 'विस्फोटक' होते जा रहे हैं हालात, ये राज्य भी दे रहे हैं टेंशन

देश
किशोर जोशी
Updated Mar 13, 2021 | 07:04 IST

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस की वजह से हालात विकट होते जा रहे हैं। केंद्र ने बढ़ते मामलों को देखते हुए कुछ और राज्यों को भी सतर्क रहने को कहा है।

Maharashtra reports over 15,800 new Covid cases, highest single-day rise in this year
Coronavirus: महाराष्ट्र में 'विस्फोटक' होते जा रहे हैं हालात 

मुख्य बातें

  • कोरोना वायरस को लेकर महाराष्ट्र के हालात होते जा रहे हैं विस्फोटक
  • करीब 6 महीने बाद राज्य में शुक्रवार को सामने आए 15 हजार से अधिक मामले
  • महाराष्ट्र के अलावा केरल, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु भी दे रहे हैं टेंशन

मुंबई: महाराष्ट्र में कोरोना का कहर रूकने का नाम नहीं ले रहा है। हर रोज मामले बढ़ते जा रहे हैं ऐसे में राज्य सरकार के मुश्किलें भी बढ़ती जा रही है। राज्य में करीब 6 महीने बाद शुक्रवार को सबसे अधिक मामले दर्ज किए गए। शुक्रवार को महाराष्ट्र में 15817 मामले दर्ज किए गए जबकि इससे पहले पिछले साल अक्टूबर में 15 हजार मामले सामने आए थे। बुधवार को 13 हजार के पार तो गुरुवार को यह बढ़कर 14 हजार को पार कर गए थे।

राज्य के ये शहर दे रहे हैं टेंशन
महाराष्ट्र में बढ़ते मामलों को देखते हुए कई शहरों में लॉकडाउन लग गया है जबकि कई शहर नाइट कर्फ्यू का सहारा लेने के लिए मजबूर हो गए हैं। शुक्रवार को जिन शहरों में सबसे अधिक मामले आए उनमें  पुणे शहर में सबसे अधिक 1,845 नए मामले सामने आए, इसके बाद नागपुर में 1,729 और मुंबई में 1,647 मामले आए। मुंबई, पुणे और ठाणे ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र के विदर्भ और मराठवाड़ा इलाके समेत विभिन्न शहरों और नगरों में मामले बढ़े हैं। संक्रमण की रोकथाम के लिए राज्य के कई शहरों और जिलों में लॉकडाउन या विभिन्न पाबंदी लगायी गयी है।


तो इस वजह से बढ़ रहे हैं मामले
राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर विशेषज्ञों ने जो अपनी राय दी है उसके अनुसार इस साल मध्य जनवरी में ग्राम पंचायत के हुए चुनाव और आम लोगों के साथ नेताओं द्वारा कोविड-19 से जुड़े नियमों के पालन में बरती ढिलाई की वजह से ये मामले बढ़े हैं। जनवरी के तीसरे सप्ताह में 12,000 गांवों के ग्राम पंचायत चुनाव के परिणाम आए थे। इस दौरान तमाम उम्मीदवारों ने अपने समर्थकों के साथ खूब जमावड़ा किया और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की धज्जियां उड़ा दीं। 

दो दिन का कर्फ्यू

राज्य के परभणी और नागपुर में हालात बेकाबू होने से लॉकडाउन लगाया गया है। कोविड-19 मामलों से निपटने के प्रयासों के तहत महाराष्ट्र के परभणी में प्रशासन ने शुक्रवार को शहरी क्षेत्रों और जिले के कस्बों में दो दिन का कर्फ्यू लगाने का फैसला किया। एक अधिकारी ने बताया कि कर्फ्यू शनिवार मध्य रात्रि से शुरू होगा और सोमवार सुबह छह बजे खत्म होगा। उन्होंने बताया कि जिले की नगरपालिका परिषदों, नगर पंचायतों और इन सीमाओं से बाहर तीन किलोमीटर क्षेत्र में कर्फ्यू लागू किया जाएगा।

ये राज्य दे रहे हैं टेंशन
देश के कुछ राज्‍यों में प्रति दिन आधार पर कोरोना मामलों की अधिक संख्‍या दर्ज की जा रही है। महाराष्ट्र के अलावा इनमें केरल, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु शामिल हैं।  पिछले 24 घंटों में कोरोना के सामने आये नये मामलों में इन राज्‍यों का समग्र योगदान 80 प्रतिशत से ज्यादा रहा। 8 राज्‍यों में दैनिक आधार पर कोरोना मामलों में लगातार बढ़ोतरी देखी जा रही है। 

केंद्र ने भेजी टीमें
कोरोना मामलों में बढ़ोतरी वाले राज्‍यों/केन्‍द्रशासित प्रदेशों में नियंत्रण एवं प्रबंधन के लिए केन्‍द्र सरकार स्थिति पर बारीकी से नजर बनाए हुए है और इन राज्‍यों में कोविड मामलों की स्थिति की समीक्षा, इससे निपटने की रणनीति और जन स्‍वास्‍थ्‍य उपायों को भी अपनाया जा रहा है। हाल ही में केन्‍द्र सरकार ने महाराष्‍ट्र और पंजाब में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए इन पर नियंत्रण के लिए उच्‍चस्‍तरीय जन स्‍वास्‍थ्‍य टीमों को भेजा है। इससे पहले, केन्‍द्र सरकार ने महाराष्‍ट्र, केरल, छत्‍तीसगढ़, मध्‍य प्रदेश, गुजरात, पंजाब, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, जम्‍मू-कश्‍मीर में ऐसी ही उच्‍चस्‍तरीय टीमों को भेजा था, ताकि कोरोना के बढ़ते मामले और इस पर नियंत्रण के लिए इनकी मदद की जा सके। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर