शरद पवार के आवास पर लगा विपक्षी नेताओं का जमावड़ा, 2024 पर है नजर, BJP ने कहा- सबको जनता ने किया खारिज

देश
लव रघुवंशी
Updated Jun 22, 2021 | 17:58 IST

विभिन्न विपक्षी दलों के नेताओं और अन्य प्रतिष्ठित हस्तियों ने नई दिल्ली में एनसीपी प्रमुख शरद पवार के आवास पर बैठक की।

Opposition Leaders
विपक्षी दलों के नेता 

मुख्य बातें

  • 2024 आम चुनावों के मद्देनजर तीसरा मोर्चा बनाने की तैयारी
  • गैर कांग्रेस दलों को एकत्र करने में लगे हुए हैं शरद पवार
  • 10 दिन में 2 बार प्रशांत किशोर से भी मिले हैं पवार

नई दिल्ली: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के प्रमुख शरद पवार द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक उनके नई दिल्ली स्थित आवास पर चल रही है। वह देश की मौजूदा स्थिति पर चर्चा करने के लिए कई राजनीतिक दलों के नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं। CPI सांसद बिनॉय विश्वाम विपक्षी नेताओं की बैठक के लिए पवार के आवास पर पहुंचे और कहा, 'यह सबसे नफरत वाली सरकार के खिलाफ सभी धर्मनिरपेक्ष, लोकतांत्रिक वाम ताकतों का एक मंच है। ये सरकार विफल रही है। देश को बदलाव की जरूरत है। लोग बदलाव के लिए तैयार हैं।'

टीएमसी नेता यशवंत सिन्हा, गीतकार जावेद अख्तर, राष्ट्रीय लोकदल अध्यक्ष जयंत चौधरी और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला भी एनसीपी प्रमुख शरद पवार के आवास पर पहुंचे। 

इस बैठक पर भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा कि ऐसी बैठकें उन नेताओं द्वारा आयोजित की जाती हैं जिन्हें जनता ने बार-बार खारिज कर दिया है। यह नया नहीं है। कुछ कंपनियां हैं जो चुनावों से लाभ कमाती हैं। वे स्पष्ट रूप से हर दूसरे नेता को अगले पीएम के रूप में पेश करने की कोशिश करेंगे। दिन में सपने देखने से किसी को नहीं रोका जा सकता। 

10 दिन में 2 बार प्रशांत किशोर से मिले शरद पवार

इससे पहले शरद पवार ने सोमवार को चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर से मुलाकात की। एनसीपी ने जोर देते हुए कहा कि पवार विपक्ष को एकजुट करने पर काम कर रहे हैं। इस महीने यह उनकी दूसरी बैठक थी। उनकी फिर से हुई इस बैठक से भाजपा का मुकाबला करने के लिए तीसरा मोर्चा के गठन की संभावना के बारे में अटकलों को और बल मिला है। यशवंत सिन्हा ने बाद में ट्वीट किया कि पवार राष्ट्र मंच की एक बैठक की मेजबानी कर रहे हैं। यह एक राजनीतिक कार्रवाई समूह है जिसे भाजपा के पूर्व नेता ने 2018 में बनाया था और इसने मोदी सरकार की नीतियों को निशाना बनाया है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर