एनसीपी नेता एकनाथ खड़से को ईडी ने किया तलब, कहा था-'मेरे पीछे लगाई अगर ED, तो चला दूंगा तुम्हारी CD'

देश
रवि वैश्य
Updated Dec 27, 2020 | 09:18 IST

पुणे के एक भूमि सौदे मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने में पूछताछ के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी नेता एकनाथ खडसे को तलब किया है, खड़गे हाल ही में बीजेपी छोड़कर आए हैं।

Land Deal in Bhosri near Pune NCP leader Eknath Khadse was summoned by ED
एकनाथ खडसे ने कहा कि उन्हें ई-मेल के माध्यम से ईडी से समन मिले हैं 

पूर्व बीजेपी  नेता एकनाथ खडसे ने कहा कि प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने पुणे के समीप भोसरी में जमीन सौदे (Pune Bhosri Land Deal) के सिलसिले में उन्हें 30 दिसंबर को पूछताछ के लिए अपने मुम्बई कार्यालय बुलाया है। हाल ही में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) में शामिल हुए खडसे ने इसी जमीन सौदे के संबंध में आरोपों से घिरने के बाद 2016 में देवेंद्र फड़णवीस नीत महाराष्ट्र मंत्रिमंडल (Maharastra Cabinet) से इस्तीफा दे दिया था। आरोप है कि उन्होंने अपने परिवार द्वारा सरकारी जमीन की खरीद में अपने पद का दुरूपयोग किया।

खडसे ने कहा कि उन्हें ई-मेल के माध्यम से ईडी से समन मिले हैं। उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी और दामाद द्वारा किये गये इस जमीन सौदे की राज्य के सतर्कता ब्यूरो की पुणे और नासिक इकाइयों तथा आयकर विभाग ने भी जांच की लेकिन इन एजेंसियों ने चार करोड़ के इस सौदे में कुछ अवैध नहीं पाया। 

खडसे अपने इस्तीफे के बाद लंबे समय तक नाराज रहे थे

उन्होंने कहा, 'मैंने सभी एजेंसियों के साथ सहयोग किया और अब मैं ईडी कार्यालय भी जाऊंगा।' खडसे अपने इस्तीफे के बाद लंबे समय तक नाराज रहे थे क्योंकि उन्होंने दावा किया था कि उन्हें पाक साफ करार दिया गया था बीजेपी ने उन्हें दरकिनार कर दिया। वह बीजेपी छोड़कर एनसीपी में शामिल हो गये। वहीं एनसीपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता नवाब मलिक और शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता संजय राउत ने बीजेपी की आलोचना करते हुए कहा कि वह केंद्रीय जांच एजेंसियों के जरिये राजनीतिक विरोधियों को निशाना बना रही है।

गौरतलब है कि अभी अक्टूबर में महाराष्ट्र बीजेपी के कद्दावार नेताओं में शामिल रहे एकनाथ खडसे, अपनी बेटी रोहिणी और कई समर्थकों के साथ  राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गये थे। इस दौरान उन्होंने बीजेपी पर जमकर निशाना साधते हुअ कहा था एनसीपी का जनाधार उससे भी दोगुनी गति से बढ़ाने का संकल्प लिया। खडसे ने कहा कि उन्होंने जिस गति से उन्होंने महाराष्ट्र में कभी बीजेपी के लिये काम किया था उसी गति से वह अब एनसीपी के लिए काम करेंगे।

'मेरे पीछे लगाई अगर ED, तो चला दूंगा तुम्हारी CD'

इस दौरान बीजेपी को चेतावनी देते हुए खडसे ने कहा था, 'अगर मेरे ख़िलाफ़ किसी ने प्रवर्तन निदेशालय (ED) लगाई तो मैं सीडी (CD) चला दूंगा।' इस दौरान खडसे ने दावा किया कि भाजपा के कुछ वरिष्ठ नेताओं ने खुद ही उनसे कहा था कि भगवा पार्टी में उनका कोई भविष्य नहीं है और उन्हें एनसीपी में शामिल हो जाना चाहिए। खडसे ने कहा, ‘एक बार, जयंतराव (पाटिल) के साथ चर्चा के दौरान उन्होंने मुझसे पूछा था कि क्या मैं राकांपा में शामिल हो रहा हूं? मैंने कहा था, हां, मैं चाहता हूं। यदि आप (पाटिल) मेरी मदद करने जा रहे हैं, तो मैं आऊंगा। जयंतराव ने मुझसे कहा कि ईडी मेरे पीछे लग जाएगी (यदि मैं राकांपा में शामिल हुआ तो)। मैंने कहा कि मेरे पीछे ईडी को लगाएंगे, तो मैं सीडी चला दूंगा। मैंने कौन सी भूमि कब्जा की? जयंतराव मुझे कुछ दिनों का वक्त दीजिए। मैं आपको दिखा दूंगा कि किसने कितनी जमीन हड़प कर रखी है।’

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर