लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में केस दर्ज, केंद्रीय मंत्री का बेटा बना मुख्य आरोपी, अजय मिश्रा भी साजिशकर्ता

Lakhimpur Kheri case: लखीमपुर खीरी हिंसा में 8 लोगों की मौत मामले में केस दर्ज किया गया है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को मुख्य आरोपी बनाया गया है। मंत्री को भी साजिशकर्ता बताया।

Ashish Mishra
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा 

मुख्य बातें

  • किसानों ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई
  • बेटे आशीष मिश्रा के खिलाफ भी शिकायत दर्ज हुई है
  • कई अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मामले में FIR दर्ज की गई है। केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को मुख्य आरोपी बनाया गया है। अजय मिश्रा का नाम भी साजिशकर्ता के रूप में है। आईपीसी की धारा 302 समेत कई अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। रविवार को हुई घटना में 4 किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने 302, 304 A, 147, 148, 149, 120 B, 279 के तहत तिकोनिया थाने में मामला दर्ज किया है।

संयुक्त किसान मोर्चा ने दावा किया है कि उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के लखीमपुर खीरी के एक गांव में जाने का विरोध कर रहे किसानों पर आशीष मिश्रा की गाड़ी से टक्कर मारी गई। हालांकि, अजय मिश्रा और उनके बेटे आशीष ने दावा किया कि प्रदर्शनकारियों ने काफिले पर हमला किया और एक ड्राइवर और दो भाजपा कार्यकर्ताओं सहित तीन अन्य की हत्या कर दी।

आशीष मिश्रा की सफाई

अपना पक्ष रखते हुए आशीष मिश्रा ने कहा कि मैं कार्यक्रम के अंत तक सुबह 9 बजे से बनबीरपुर में था। मेरे खिलाफ आरोप पूरी तरह से निराधार हैं और मैं इस मामले की न्यायिक जांच की मांग करता हूं और दोषियों को सजा मिलनी चाहिए। हमारे 3 वाहन एक कार्यक्रम के लिए उप मुख्यमंत्री की अगवानी करने गए थे। रास्ते में कुछ बदमाशों ने पथराव किया, कारों में आग लगा दी और हमारे 3-4 कार्यकर्ताओं को लाठियों से पीट-पीट कर मार डाला। 

मंत्री ने किया बेटे का बचाव

वहीं केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा ने भी सफाई दी है। अजय मिश्रा ने बताया कि इस घटना से उनके बेटे आशीष मिश्रा का कुछ लेना देना नहीं है। उन्होंने दावा किया कि जिस समय ये पूरा विवाद हुआ, उस समय उनका बेटा मौके पर था ही नहीं। अगर वो वहां होता तो उपद्रवी उसे भी नहीं छोड़ते, उसे मार डालते। साथ ही दावा किया कि हंगामा और मारपीट कर रहे लोगों ने बीजेपी के तीन कार्यकर्ताओं और उनके एक ड्राइवर को भी मार डाला। दरअसल अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा पर आरोप है कि उनकी गाड़ी ने ही किसानों को कुचला था, जिससे उनकी मौत हो गई। ये भी आरोप लग रहे हैं कि उस वक्त आशीष गाड़ी में ही मौजूद थे।  

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर