राहुल गांधी का आभार, अगर पिदी के साथ मीटिंग ना होती तो मैं असम का CM नहीं बनता: हेमंत बिस्वा सरमा

देश
किशोर जोशी
Updated Jun 04, 2021 | 07:57 IST

असम के नए मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने एक बार फिर राहुल गांधी के साथ हुई अपनी मुलाकात को याद करते हुए कहा है कि अगर वो मुलाकात ना हुई होती तो वो असम के सीएम नहीं बनते।

Himanta Biswa Sarma says thanked Rahul Gandhi as I could not be Assam CM without his role
मुझे CM बनाने में राहुल गांधी का भी योगदान:हेमंत बिस्वा सरमा 

मुख्य बातें

  • असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने राहुल को लेकर फिर दिया बयान
  • हेमंत बोले- राहुल गांधी का शुक्रगुजार हूं, क्योंकि CM बनाने में उनका भी बड़ा योगदान है
  • कांग्रेस में रहे हेमंत ने राहुल गांधी से मुलाकात के बाद छोड़ी थी पार्टी

नई दिल्ली: असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्व सरमा ने एक बार फिर कांग्रेस नेता और सांसद राहुल गांधी को लेकर बयान दिया है। एक अखबार के कार्यक्रम के दौरान हेमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि उनके मुख्यमंत्री बनने में राहुल गांधी का भी बड़ा योगदान है इसलिए वो उनके अहसानमंद है। दरअसल भारतीय जनता पार्टी में आने से पहले हेमंत बिस्वा कांग्रेस में ही थे और असम सरकार में कैबिनेट मंत्री भी थे। 

पिदी के साथ थे राहुल

राहुल गांधी के साथ अपनी मुलाकात को याद करते हुए हेमंत बिस्वा सरमा ने कहा, 'राहुल गांधी की शुरूआत से ही दिलचस्पी नहीं दिख रही थी। वह लगातार अपने कुत्ते के साथ खेल रहे थे। बाद में मुझे पता चला कि इस कुत्ते का नाम पिदी है। खैर, कुछ समय बाद हमें चाय बिस्किट सर्व किए गए। इसके बाद कुत्ता टेबल पर गया और प्लेट से एक बिस्किट उठा लिया। राहुल ने मुझे देखा और स्माइल करने लगे। मैं सोचने लगा कि आखिर वो क्यों मुस्करा रहे हैं।'

मैं इंतजार कर रहा था नई प्लेट का

अपनी मुलाकात के आगे की बात याद करते हुए हेमंत बिस्वा सरमा ने बताया, 'इसके बाद मैं अपने चाय के कप का इंतजार करने लग गया कि राहुल कुत्ते की जूठी प्लेट को उठवाकर दूसरी प्लेट मंगवाएंगे। लेकिन ऐसा हुआ नहीं। मैंने पांच मिनट तक इंतजार किया। कुछ समय बाद मैंने देखा कि मिस्टर जोशी, मिस्टर गोगोई जैसे नेता उसी प्लेट से बिस्किट खा रहे हैं।' 

राहुल का आभारी हूं

हेमंत ने आगे कहा, 'मैं राहुल से मिलने अक्सर नहीं जाता था लेकिन बाद में मैंने महसूस किया कि यह सभी के लिए एक नॉर्मल बात होगी और हर मीटिंग में ऐसा होता होगा। उस दिन मैंने महसूस किया कि अब बहुत हो गया है और मैं इस शख्स के साथ अब बिल्कुल नहीं रह सकता। लेकिन इन सबके बावजूद मैं राहुल गांधी का आभारी हूँ क्योंकि मैं वो बैठक ना होती तो मैं आज मुख्यमंत्री नहीं होत। मेरे मुख्यमंत्री बनने में कहीं न कहीं उस घटना का बड़ा रोल है।'

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर