'अगवा' भारतीय नागरिकों की रिहाई कराए सरकार, गौरव गोगोई ने सरकार को लिखा पत्र

Gaurav Gogoi : कांग्रेस नेता एवं सांसद गौरव गोगोई ने आगे कहा, 'मैं सरकार से अनुरोध करता हूं कि वह इस मामले को देखे और इन पांच नागरिकों की सुरक्षित वापसी के लिए कदम उठाना सुनिश्चित करे।'

Gaurav Gogoi urges Centre to ensure 'safe return' of 5 youth allegedly abducted by PLA
भारतीय नागरिकों की रिहाई के लिए गौरव गोगोई ने सरकार को लिखा पत्र।  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सुबनसिरी जिले से पांच भारतीय नागरिक हुए हैं लापता
  • स्थानीय लोगों का आरोप है कि चीन की सेना पीएलए ने इन लोगों को अगवा किया है
  • कांग्रेस नेता एवं सांसद गौरव गोगोई ने नागरिकों की रिहाई के लिए सरकार को लिखा पत्र

नई दिल्ली : कांग्रेस नेता एवं लोकसभा सदस्य गौरव गोगोई ने अरुणाचल प्रदेश के पांच नागरिकों की सुरक्षित वापसी के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखा है। आरोप है कि चीन की सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने इन पांच भारतीय नागरिकों को अगवा किया है। गोगोई ने कहा, 'अरुणाचल प्रदेश के पांच नागरिकों की स्थिति के बारे में मैं अपनी गंभीर चिंता प्रकट करता हूं। ये नागरिक ऊपरी सुबनसिरी इलाके में शिकार करते समय लापता हो गए हैं। इन नागरिकों के परिजनों का आरोप है कि इन्हें अगवा किया गया है और ये चीन की सेना पीएलए के कब्जे में हैं। बताया जा रहा है कि नागरिकों को अगवा करने के पीछे पीएलए का हाथ है।'

'अगवा' नागरिकों की रिहाई के लिए कदम उठाए सरकार
कांग्रेस नेता ने आगे कहा, 'मैं सरकार से अनुरोध करता हूं कि वह इस मामले को देखे और इन पांच नागरिकों की सुरक्षित वापसी के लिए कदम उठाना सुनिश्चित करे। सरकार को सीमा के पास अपनी सुरक्षा और कड़ी करनी चाहिए।' सांसद ने कहा कि पूर्वोत्तर में इस तरह की स्थिति 'खतरनाक' है और लद्दाख क्षेत्र में चीन के आक्रामक रवैये को देखते हुए और इस तरह की स्थिति से ज्यादा सख्ती से निपटने की जरूरत है।   

'रिहाई के लिए कदम न उठाने से लोग नाखुश'
उन्होंने पत्र में आगे कहा, 'रिपोर्टों के मुताबिक मौजूदा समय में भारतीय सेना सीमा पर केवल चीन से आने वाले जवाब का प्रतीक्षा कर रही है। राज्य सरकार ने इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी है और न ही उसने इस बारे में कोई कदम उठाया है। अरुणाचल प्रदेश के लोगों ने पहले ही राज्य सरकार की ओर से कदम न उठाए जाने पर अपनी नाखुशी जाहिर की है। मैकमोहन लाइन के पास पीएलए की ओर से की जाने वाली बार-बार की आक्रामक कार्रवाई को नजरंदाज करने पर लोगों ने सवाल उठाए हैं।' 

पीएलए पर अगवा करने का आरोप
बता दें कि अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सुबनसिरी जिले से पांच लोगों का पीएलए)के सैनिकों द्वारा कथित तौर पर अपहरण किए जाने के मुद्दे को भारतीय सेना ने चीनी सेना के समक्ष उठाया है। सूत्रों का कहना है कि इलाके में तैनात थल सेना की इकाई ने पीएलए की संबद्ध इकाई को कथित अपहरण के बारे में अपनी चिंताओं से अवगत कराने के लिये हॉटलाइन पर संदेश भेजे हैं। अरुणाचल प्रदेश के पांच लोगों के अपहरण की घटना ऐसे समय हुई है जब पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच तनाव चरम पर है। 
 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर