India-China Tension:जारी तनाव के बीच भारतीय सेना ने चीन को लौटाए  LAC पार कर आए जानवर

भारतीय सेना ने सोमवार को मानवीय चेहरा दिखाते हुए चीनी अधिकारियों को याक और बछड़ों को सौंप दिया, जो अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी कामेंग में वास्तविक नियंत्रण रेखा के पार भटक गए थे।

Indian Army’s show their human gesture hands over yaks to China that strayed into Arunachal Pradesh
भारतीय सेना ने 7 सितंबर 2020 को चीन के अधिकारियों को 13 याक और 4 बछड़ों को सौंप दिया  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • Indian Army’s show human gesture hands over yaks to China that strayed into Arunachal Pradesh

भारतीय सेना ने एक बार फिर अपना मानवीय चेहरा दिखाया है बताया जा रहा है कि  भारतीय सेना ने 7 सितंबर 2020 को चीन के अधिकारियों को 13 याक और 4 बछड़ों को सौंप दिया, जो अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी कामेंग में 31 अगस्त 2020 को LAC के पार भटक गए थे।चीनी अधिकारियों ने दया के भाव के लिए भारतीय सेना को धन्यवाद दिया है।

इस बीच, अभी भी अरुणाचल के एक गांव के पांच युवकों की कथित रूप से पीएलए द्धारा अगवा किए जाने की खबर के बाद से उनकी कोई सूचना नहीं है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। ये पाँच लोग पोर्टर्स और गाइड के रूप में लगे हुए हैं। केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने जानकारी दी थी कि सेना ने लापता युवाओं के मुद्दे के बारे में पीएलए को एक हॉटलाइन संदेश भेजा है और इसकी प्रतिक्रिया का इंतजार कर रहा है।

पूर्वी लद्दाख और पूर्वोत्तर के कुछ क्षेत्रों में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है

मई के बाद से, चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) द्वारा बार बार इलाके में तनाव पैदा किए जाने के कारण पूर्वी लद्दाख और पूर्वोत्तर के कुछ क्षेत्रों में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 4 सितंबर को रूस में अपने चीनी समकक्ष जनरल वेई फेंग से मुलाकात की थी और कहा था कि चीन को एलएसी का सख्ती से सम्मान करना चाहिए।

मई की शुरुआत में पूर्वी लद्दाख में दो एशियाई दिग्गजों के बीच शुरू हुई सीमाओं पर तनाव के बाद सिंह और फेंग की बैठक पहली उच्च-स्तरीय राजनीतिक वार्ता थी। रक्षा मंत्री ने वेई से कहा कि पेन्गॉन्ग झील सहित सभी बिंदुओं पर सैनिकों के पूर्ण विघटन के लिए बीजिंग को नई दिल्ली के साथ काम करना चाहिए।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर