VIDEO: 'मैंने देखा प्लेन तेजी से नीचे गिर रहा है'; चश्मदीद ने बताया कैसे क्रैश हुआ विमान

देश
लव रघुवंशी
Updated Aug 08, 2020 | 14:03 IST

Kozhikode Plane Crash: केरल के कोझिकोड में एअर इंडिया एक्सप्रेस विमान हादसे का शिकार हो गया। विमान गिरने के बाद दो हिस्सों में टूट गया। चश्मदीद ने बताया है कि हादसा कैसे हुआ।

Kerala plane crash
एअर इंडिया प्लेन क्रैश 

मुख्य बातें

  • एअर इंडिया एक्सप्रेस विमान हादसे में मृतकों की संख्या बढ़कर 18 हुई
  • मुख्य पायलट कैप्टन दीपक साठे और उनके सह-पायलट अखिलेश कुमार की भी मौत
  • विमान गिरने के बाद दो हिस्सों में टूट गया

नई दिल्ली: केरल में कोझिकोड के पास कारीपुर एयरपोर्ट पर दुर्घटनाग्रस्त हुए एअर इंडिया एक्सप्रेस विमान में 18 लोगों की मौत हो गई है। दुबई से 190 यात्रियों के साथ आ रहा विमान शुक्रवार को भारी बारिश के बीच लैंडिंग के दौरान हवाईपट्टी पर फिसलने के बाद 35 फुट नीचे खाई में जा गिरा। विमान गिरने के बाद दो हिस्सों में टूट गया। मृतकों में मुख्य पायलट कैप्टन दीपक साठे और उनके सह-पायलट अखिलेश कुमार भी शामिल हैं। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) के एएसआई अजीत सिंह प्लेन क्रैश के चश्मदीद गवाह हैं। उन्होंने घटना का वर्णन किया है। उन्होंने कहा, 'मैंने एअर इंडिया एक्सप्रेस के विमान को पैरामीटर रोड की ओर गिरते देखा।'

अजीत सिंह ने कहा, 'मैं 7:30 पर तीसरे राउंड पर निकला, मैं इमरजेंसी गेट पर पहुंचा। मैंने देखा का एअर इंडिया की एक फ्लाइट का बैंलेंस बिगड़ गया है और वो पैरामीटर रोड की ओर नीचे की ओर गिर रहा है। मैंने कंट्रोल रूम को कॉल किया, जब तक वो गिर चुका था।' 

मुआवजे का ऐलान

कोझिकोड दुर्घटना स्थल से एअर इंडिया एक्सप्रेस विमान का कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर, डिजिटल विमान डेटा रिकॉर्डर बरामद हुआ है। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी विमान दुर्घटना के बाद हालात और राहत उपायों का जायजा लेने के लिए कोझिकोड पहुंचे हैं। उन्होंने ऐलान किया कि अंतरिम राहत के रूप में हम प्रत्येक मृतक के परिजनों को 10 लाख रुपए, गंभीर रूप से घायलों को 2 लाख रुपए और मामूली चोटों वालों को 50,000 रुपए का भुगतान करेंगे। 

वहीं केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान और मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कोझिकोड मेडिकल कॉलेज का दौरा किया, यहां कल कोझिकोड विमान हादसे में घायल हुए यात्री भर्ती हैं। 

मेटल कटर का इस्तेमाल कर निकाले लोग

सीवी आनंद, आईजी, एयरपोर्ट-2  ने बताया, 'विमान की पहली और अंतिम दो-तीन पंक्ति बुरी तरह प्रभावित हुईं थीं। कुछ यात्री विमान में फंसे थे और उनको ​बाहर निकालने के लिए मेटल कटर का इस्तेमाल किया गया। कॉकपिट बाउंड्री वॉल से टकराया था, जेसीबी और मेटल कटर की मदद से दोनों पॉयलटों को बहुत मुश्किल से बाहर निकाला गया, वो बुरी तरह घायल थे।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर