भूमि पूजन से पहले अभेद्य किले में तब्‍दील होगी अयोध्‍या, जमीन से लेकर आसमान तक कड़ी निगरानी

Security tightened in Ayodhya: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को अयोध्या आएंगे। पीएम के इस दौरे को देखते हुए अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी कर दी गई है। पीएम राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे।

Ahead of PM Modi visit Security tightened in Ayodhya, monitoring at Nepal border
अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • पांच अगस्त को राम मंदिर का शिलान्यास करने अयोध्या जाएंगे पीएम
  • पीएम की इस यात्रा को देखते हुए राम नगरी में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है
  • नेपाल सीमा से लगने वाले जिलों में निगरानी बढ़ाई गई है, आवाजाही पर नजर

अयोध्या : राम मंदिर का शिलान्यास एवं भूमि पूजन पांच अगस्त को होने जा रहा है। भव्य एवं दिव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र अपनी तैयारी जोर-शोर से कर रहा है। मंदिर के शिलान्यास एवं भूमि पूजन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को अयोध्या पहुंचेंगे। पीएम के इस दौरे को देखते हुए अयोध्या सहित आस-पास के जिलों में सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी की जा रही है। खुफिया इनपुट है कि आंतकवादी अयोध्या में आंतकी गतिविधियां अंजाम दे सकते हैं इसके बाद अयोध्या में चप्पे पर नजर रखी जा रही है। अयोध्या के मंदिरों एवं संवेदनशील जगहों की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। शहर के चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाबलों की तैनाती रहेगी। 

एसपीजी की टीम पहुंचेगी अयोध्या
मीडिया रिपोर्टों की मानें तो पीएम के दौरे से पहले स्पशेल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) यहां पहुंच जाएगा। बताया जा रहा है कि एसपीजी की टीम 1 अगस्त को अयोध्या पहुंचकर मोर्चा संभाल लेगी। एसपीजी की टीम सारी तैयारियों और सुरक्षा इंतजामों का जायजा लेगी। पीएम मोदी एसपीजी की सुरक्षा के बीच ही रहेंगे। राम नगर अयोध्या में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा बल के जवान तैनात रहेंगे।

सुरक्षा एजेंसियां चौकस
पीएम मोदी की अयोध्या यात्रा को लेकर सुरक्षा एवं खुफिया एजेंसियां चौकस हैं। उत्तर प्रदेश सरकार सुरक्षा में कोई कोताही नहीं रखना चाहती। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद अयोध्या की सुरक्षा की समीक्षा कर रहे हैं। योगी आदित्यनाथ 2 अगस्त को एक बार फिर अयोध्या में होंगे। शुक्रवार को प्रमुख सचिव (गृह) की वरिष्ठ पुलिस अफसरों के साथ बैठक हुई है। राज्य के मुख्य सचिव और डीजीपी के भी अयोध्या जाने का कार्यक्रम है।  

नेपाल से लगने वालों जिलों में अलर्ट
पीएम मोदी की अयोध्या यात्रा को ध्यान में रखते हुए नेपाल से लगने वाले जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। गोरखपुर जोन के अपर महानिदेसक दावा शेरपा ने बताया है कि नेपाल से लगने वाले जिलों महराजगंज, सिद्धार्थनगर, श्रावस्ती एवं बहराइच जिलों में सुरक्षाबलों ने अपनी निगरानी बढ़ा दी है। सुरक्षाबलों को सीमा में दाखिल होने वाले लोगों की पहचान जांचने के लिए कहा गया है। एडीजी का कहना है कि कुछ इनपुट मिले हैं लेकिन उन्होंने इस बारे में विस्तार से बताने मना कर दिया। शेरपा ने बताया कि, 'मुख्य सड़क के अलावा एसएसबी पोस्ट्स पर कैमरा लगाए गए हैं। सुरक्षा निगरानी के काम में डाग स्क्वॉयड और महिला शाखा की एक प्लाटून तैनात की गई है। भारत-नेपाल सीमा पर स्थित सोनौली एवं ठूठीबारी सीमा पर मेटल डिटेक्टर्स लगाए गए हैं।' 


 

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर