दिल्ली की राह पर पंजाब? राज्यपाल से भिड़ी भगवंत मान सरकार, कहा-लक्ष्मण रेखा ना लांघें गवर्नर

पंजाब में राजभवन और आप सरकार के बीच विवाद शुक्रवार को उस समय बढ़ गया जब राज्यपाल ने मंगलवार को प्रस्तावित विधानसभा सत्र में उठाए जाने वाले विधायी कार्यों की सूची मांगी, जिस पर मान ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी।

aap bhagwant mann govt, tussle with governor,
राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित के साथ सीएम भगवंत मान (फाइल फोटो)  |  तस्वीर साभार: PTI
मुख्य बातें
  • आप ने राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित पर लगाए हैं गंभीर आरोप
  • आप का दावा- भाजपा के इशारे पर काम कर रहे गवर्नर
  • राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने भी दिया जवाब

दिल्ली में आम आदमी पार्टी की केजरीवाल सरकार का एलजी के साथ लगातार टकराव चलते रहा है, अब पंजाब में भी आप सरकार, राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित से भिड़ गई है। दोनों के बीच वार-पलटवार शुरू हो गया है। आप ने आरोप लगाया है कि राज्यपाल पंजाब में भाजपा के इशारे पर काम कर रहे हैं। 

पंजाब के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित और राज्य की आप सरकार के बीच विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर जारी तनातनी शनिवार को और बढ़ गई। राज्यपाल पुरोहित ने भगवंत मान को उनके कर्तव्यों को याद दिलाने की बात कही है। पुरोहित ने मान को एक नया पत्र लिखकर कहा कि मुख्यमंत्री के कानूनी सलाहकार उन्हें पर्याप्त जानकारी नहीं दे रहे हैं। राज्यपाल ने यह भी कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि मुख्यमंत्री उनसे बहुत ज्यादा नाराज हैं।

उधर आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने पुरोहित को अपनी सीमा का ध्यान रखने और लक्ष्मण रेखा पार नहीं करने को कहा है। आप ने यह भी आरोप लगाया है कि राज्यपाल के सहारे बीजेपी पंजाब में ऑपरेशन लोटस को सफल बनाना चाहती है।

बता दें कि राज्यपाल ने विधानसभा का विशेष सत्र आयोजित करने के मान सरकार के फैसलों पर रोक लगा दी थी। जिसके बाद से पुरोहित आलोचनाओं से घिर गये थे। आप नेता और पंजाब के कैबिनेट मंत्री अमन अरोड़ा ने कहा कि उनकी सरकार कोई टकराव नहीं चाहती, लेकिन यदि कोई सत्ताधारी दल को इसके संवैधानिक अधिकारों के इस्तेमाल से रोकता है, तो यह अस्वीकार्य होगा।

यह पूछे जाने पर कि क्या राज्य सरकार राज्यपाल द्वारा मांगी गई जानकारी मुहैया कराएगी, अरोड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष के कानूनी परामर्श के बाद फैसला किया जाएगा।

यह पूछे जाने पर कि क्या विश्वास प्रस्ताव पेश किया जाएगा, उन्होंने सीधा जवाब देने से परहेज किया। उन्होंने कहा- "बस इसके लिए प्रतीक्षा करें। जो कुछ भी होगा वह आपके सामने होगा।"

ये भी पढ़ें- चिंता न करें, भाजपा का सफाया हो जाएगा- पुराने रंग में दिखे लालू यादव, सोनिया गांधी से मुलाकात कर मिशन 2024 की बनाएंगे रणनीति

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर