लोहे की कड़ाही में खाना बनाने के फायदे, जानें क‍िन चीजों को लोहे के बर्तन में पकाना रहेगा सही और क्‍यों

लोहे की कड़ाही में भोजन पकाने के अचूक फायदे होते हैं। खासकर इसमें पालक बनाने से सेहत के लिए यह दोगुना फायदेमंद होता है। लेकिन आपको लोहे की कड़ाही में कुछ चीजों को बनाने से बचाना। आइए जानते हैं।

Benefits Of Using Iron Vessels, Iron Vessels Mein Khana Banane ke Fayde, Lohe ki Kadahi Mein Khana Banane Ke Fayde, लोहे की कड़ाही में खाना बनाने के फायदे, लोहे के कड़ाही में किन सब्जियों को पकाना चाहिए, लोहे के बर्तन में खाना पकाने के फायदे
Benefits Of Using Iron Vessels  |  तस्वीर साभार: Getty Images

मुख्य बातें

  • लोहे की कड़ाही में खट्टी चीजों को पकाने की गलती ना करें
  • कड़ाही में ना लगने दें जंग अन्यथा इसमें बना भोजन सेहत के लिए है सकता है बेहद नुकसानदाक
  • दूध को लोहे की कड़ाही में ज्यादा देर तक ना उबालें

एक समय था जब लोग भोजन पकाने और परोसने के लिए मिट्टी के बर्तन का इस्तेमाल किया करते थे। लेकिन आगे चलकर यह परंपरा केवल दही की हांडी और मटकों तक सीमित रह गई। आपको बता दें मिट्टी के बर्तन औऱ लोहे की कड़ाही में बने भोजन का एक अलग ही स्वाद और इसके अलग ही फायदे होते हैं। इस बात की पुष्टि सुपरस्टार करीना कपूर की न्यूट्रीशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने भी की। रुजुता ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक फोटो साझा करते हुए लोहे की कड़ाही में बने भोजन के फायदे को बताया।

लोहे की कढ़ाई में खाना बनाने से उसमें मौजूद लौह अंश भोजन में युक्त हो जाते हैं। जिससे शरीर को पर्याप्त मात्रा में आयरन मिलता है। आयरन ना केवल शरीर की कोशिकाओं के लिए महत्वपूर्ण पोषक तत्व है बल्कि हीमोग्लोबिन को भी बढ़ाता है। यह लाल रक्त कोशिकाओं (आरबीसी) के विकास में भी मदद करता है। तो आइए ऐसे में जानते हैं किन सब्जियों को हम लोहे की कड़ाही में बना सकते हैं। 

इन सब्जियों को कड़ाही में पका सकते हैं

न्यूट्रशनिस्ट रुजुता दिवेकर के अनुसार लोहे की कड़ाही में हम सभी तरह की सब्जियों को पका सकते हैं। जिसमें आप पालक, बीन्स, शिमला मिर्च, कटहल, आलू गोभी आदि सब्जियों को बना सकते है। आपको बता दें लोहे की कड़ाही में साग को पकाना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। यह साग में मौजूद पोषक तत्व को दोगुना कर देता है।

चिकन को करें फ्राई

लोहे की कड़ाही में आप फ्रायड चिकन बना सकते हैं। यह ना आपके चिकन को अत्यधिक स्वादिष्ट बनाता है बल्कि कई पोषक तत्‍व इसमें और सम्मिलित हो जाते हैं जो आपके सेहत के लिए अत्यधिक फायदेमंद होता है। साथ ही लोहे की कड़ाही में गर्मी होती है। जिससे आपको इसमें अत्यधिक तेल की आवश्यकता नहीं होती।

इन चीजों को लोहे की कड़ाही में पकाने की ना करें गलती

लोहे की कड़ाही में आपको कुछ चीजों को बनाने से बचना चाहिए। आमतौर पर आप लोहे की कड़ाही में खट्टी सब्जियों को भूलकर भी ना पकाएं। कढ़ी, रसम, टमाटर की चटनी, सांभर आदि चीजों को तो लोहे की कड़ाही में बनाने की तो सोचें भी नहीं।

साथ ही लोहे की कड़ाही में बने भोजन को ज्यादा देर तक उसमें न छोड़ें इससे आपके भोजन का रंग काला हो जाता है। जिससे खाने में कड़वाहट आने का डर रहता है। इसलिए ज्यादा देर तक कड़ाही में बने हुए भोजन को इसमें ना छोड़े और कड़ाही को हमेशा माइल्ड डिटर्जेंट से ही धोएं और इसे तुरंत सूखे कपड़े से पोछ दें।

कड़ाही में जंग ना लगने दें

लोहे की कड़ाही में भोजन पकाते वक्त ध्यान दें की बर्तन पर जंग ना लगा हो। इसलिए जब भी कड़ाही में खाना पकाने के बाद उसे धो कर रखें, तो उसे सूखे कपड़े से अच्छी तरह साफ करें और उस पर हल्का सरसो का तेल लगाकर रखें। ताकि आपकी कड़ाही में जंग ना लग सके।

दूध को ज्यादा देर इसमें ना उबालें

लोहे के बर्तन में दूध उबाला जा सकता है। लेकिन ज्यादा देर तक इसमें दूध नहीं उबालना चाहिए। क्योंकि दूध प्रोटीन युक्त होता है इसमें आयरन नहीं होता, इसलिए ये बर्तन से मिलने वाले आयरन को अवशोषित नहीं कर पाता। इससे दूध में बैक्टीरिया पनपने का खतरा बना रहता है।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर