Covid test at home : कोव‍िड-19 होम टेस्‍ट क‍िट का इस्‍तेमाल कैसे करें, इन वजहों से आ सकता है गलत र‍िजल्‍ट

हेल्थ
मेधा चावला
Updated Jan 12, 2022 | 08:40 IST

How To Use Covid-19 home testing kit : इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने कोरोना से संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने वालों के लिए रैपिड एंटीजन टेस्ट को मंजूरी दी है। इसके जरिए आप कोरोना के लक्षण दिखने पर घर बैठे कोविड-19 की जांच कर सकते हैं।

How To Use Covid-19 testing kit, how to use covid-19 antigen test, rapid antigen test for covid-19, how accurate is a covid-19 antigen test, what is antigen test for covid-19, pcr vs antigen test, what is antigen test, antigen test positive means
How To Use Covid-19 testing kit (pic : iStock) 
मुख्य बातें
  • आईसीएमआर ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान रैपिड एंटीजन टेस्ट को दी थी मंजूरी।
  • टेस्ट कार्ड पर C और T दोनों लाइन आने पर आप कोरोना से हैं संक्रमित।
  • घर बैठे मात्र 250 रुपये में Covid-19 का टेस्ट कर 15 मिनट में पा सकते हैं रिजल्ट

covid 19 rapid test kit home use : भारत में कोरोना की तीसरी लहर आ चुकी है और इसकी रफ्तार दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। ऐसे में आप घर बैठे मात्र 250 रुपये में 15 मिनट में कोरोना की जांच कर सकते हैं। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने कोरोना वायरस की जांच के लिए रैपिड एंटीजन टेस्ट को मंजूर दे दी थी। लक्षण दिखने पर आप घर बैठे बिना देरी किए हुए कोरोना का पता लगा सकते हैं। हालांकि यह कोरोना वायरस के नये वेरिएंट का पता लगा सकता है या नहीं इस पर जांच चल रही है। ऐसे में इस लेख के माध्यम से हम आपको होम टेस्टिंग करने का सही तरीका बताएंगे।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने कोरोना से संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने वालों के लिए रैपिड एंटीजन टेस्ट द्वारा घर बैठे कोरोना की जांच करने की सलाह दी है। आईसीएमआर द्वारा जारी एडवाइजरी के मुताबिक यदि गंभीर लक्षण दिखने के बावजूद रैपिड टेस्ट निगेटिव आता है तो सेंटर पर जाकर कोरोना की जांच करवाएं। 

खांसी-बुखार से हटकर सामने आया ओमीक्रॉन का ये लक्षण

rapid test kit covid 19 how does it work
 

  1. कोविड-19 किट का इस्तेमाल करते समय सबसे पहले साफ सुथरी जगह पर बैठें। 
  2. हाथ को साबुन से धुलने के बाद अच्छी तरह से सुखा लें और ग्लव्‍स पहन लें।
  3. अब किट के पाउच को फाड़ें और सामग्री को टेबल पर रख लें।
  4. ध्यान रहे टेस्टिंग किट का इस्तेमाल करने से पहले किट के ऊपर दिए गए ऐप MY Lab Coviself को डाउनलोड कर क्रेंडेशियल को भरना आवश्यक है। 
  5. किट के अंदर मौजूद पहले से भरी एक एक्सट्रेक्शन ट्यूब लें।
  6. इसके अंदर मौजूद लिक्विड नीचे बैठ जाए इसके लिए इसे टेबल पर रखकर नीचे की ओर दबाएं।
  7. अब कैप खोलें और ट्यूब को अपने हाथ में पकड़ लें।
  8. ट्यूब को हाथ में पकड़कर स्टेराइल नेजल स्वैब को खोलें, अपने दोनों नाक में एक के बाद एक 3-4 सेमी तक नेजल स्वैब को डालकर 5 बार घुमाएं।
  9. इसके बाद स्वैब को एक्सट्रैक्शन ट्यूब में डालकर 10 बार घुमाएं, ध्यान रहे इस दौरान स्वैब लिक्विड में डूबा होना चाहिए।
  10. ब्रेक का पता लगाएं और स्वैब को तोड़ दें, अंत में ट्यूब को नोजल कैप से सील कर दें।
  11. टेस्ट कार्ड पर ट्यूब को दबाते हुए दो से तीन बूंद डालें और करीब 15 से 20 मिनट इंतजार करें।

ऐस पता करें रिपोर्ट पॉजिटिव या निगेटिव

आपको बता दें आईसीएमआर द्वारा ऐप पर 15 मिनट का अलार्म सेट किया गया है। अलार्म बजने के बाद आप अपनी रिपोर्ट देख सकते हैं। यदि टेस्ट कार्ड पर सी और टी दोनों लाइन आती है तो इसका मतलब आप पॉजिटिव हैं, जबकि टेस्ट कार्ड पर सिर्फ सी लाइन आने पर कोविड टेस्ट निगेटिव है। वहीं सिर्फ टी लाइन आने पर या कोई लाइन ना आने पर टेस्ट सही से नहीं किया गया है। साथ ही रिपोर्ट आने के बाद टेस्ट कार्ड की फोटो क्लिक कर ऐप पर अपलोड करें।

ICMR की नई गाइडलाइंस, कौन कराए कोविड टेस्ट और कौन नहीं

टेस्ट के दौरान ना करें ये गलतियां

जिन लोगों ने कभी घर पर कोविड-19 परीक्षण नहीं किया है, वो सुनिश्चित करें कि आपने परीक्षण पाउच पर अंकित दिशा निर्देशों को सही से पढ़ा है या नहीं। तथा ध्यान रखें कि स्वैब को एक्सट्रेक्शन ट्यूब में डुबाकर रखना है। साथ ही टेस्ट करते समय स्वच्छता प्रोटोकॉल का पालन करें, साफ सफाई ना होने पर परिणाम गलत हो सकता है। इसलिए टेस्ट करते समय अपने हांथ को अच्छी तरह साबुन से धोकर सुखा लें।

वैक्सीनेशन का कोरोना के इस नए वेरिएंट पर कोई असर नहीं

rapid test kit covid 19 vs RT PCR test : रैपिड एंटीजन या आरटी-पीसीआर में कौन सा बेहतर

रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन पॉलिमियर्स चेन रिएक्शन यानी आरटी-पीसीआर टेस्ट लैब में किया जाता है। इस टेस्ट के जरिए व्यक्ति के शरीर में वायरस का पता लगाया जाता है। इसमें वायरस के आरएनए की जांच की जाती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन और यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल इसे ज्यादा विश्वसनीय मानता है। वहीं रैपिड एंटीजन टेस्ट से आप घर बैठे कोरोना से संक्रमण का पता लगा सकते हैं। कोरोना के लक्षण दिखने के बावजूद यदि इस टेस्ट से व्यक्ति की रिपोर्ट निगेटिव आती है तो इसे फाइनल नहीं माना जाता, इस टेस्ट की आरटी-पीसीआर जांच होती है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर