Brahmi Benefits : ब्रेन बूस्‍टर कहलाती है ब्राह्मी, जानें तनाव घटाने से इम्यूनिटी बढ़ाने तक, ब्राह्मी के फायदे

आयुर्वेद में ब्राह्मी का उपयोग हजारों वर्षों से किया जाता रहा है। यह तनाव को कम कर डिप्रेशन की समस्या से कोसों दूर रखता है। साथ ही गंभीर बीमारियों से निजात दिलाने के साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत करता है।

brahmi benefits ayurveda, brahmi benefits for immune booster, immune booster for brahmi, brahmi, brahmi oil, how to make brahmi oil at home,ब्राह्मी के फायदे, आयुर्वेद में ब्राह्मी के फायदे
आयुर्वेद में ब्राह्मी के फायदे (Pic: Istock ) 

मुख्य बातें

  • आयुर्वेद में हजारो वर्षों से ब्राह्मी का औषधि के रूप में किया जाता रहा है इस्तेमाल।
  • यह तनाव को कम कर डिप्रेशन की समस्या से रखता है कोसो दूर।
  • यह याद्दाश्त में वृद्धि कर दिमाग की एकाग्रता बढ़ाने में मदद करता है।

आज हम आपको एक ऐसी जड़ी बूटी के बारे में बताएंगे, जिसे आयुर्वेद की प्रिय संतान कहा जाता है। आयुर्वेद में ब्राह्मी का उपयोग हजारों वर्षों से किया जाता रहा है। यह मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए काफी उपयोगी है, इसलिए इसे ब्रेन बूस्टर भी कहा जाता है। यह तनाव को कम कर डिप्रेशन की समस्या से कोसों दूर रखता है। साथ ही गंभीर बीमारियों से निजात दिलाने के साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी मजबूत बनाता है। इस लेख के माध्यम से हम आपको ब्राह्मी के सेवन के पांच तरीके और स्वास्थ्य लाभ बताएंगे। आइए जानते हैं।

1. याद्दाश्त बढ़ाने में कारगार

ब्राह्मी याद्दाश्त बढ़ाने के लिए एक कारगार उपाय है। यह याद्दाश्त में वृद्धि कर दिमाग की एकाग्रता बढ़ाने में मदद करता है। बुजुर्गों में अधिकतर याद्दाश्त की समस्या देखने को मिलती है। वहीं आजकल कम उम्र के लोग भी इस समस्या से पीड़ित हैं। ब्राह्मी का सेवन आपकी याद्दाश्त में वृद्धि कर सोचने की शक्ति बढ़ाने में कारगार होता है। एक अध्ययन के मुताबिक छ: सप्ताह तक दिन में दो बार लगातार ब्राह्मी के सेवन से मस्तिष्क की कार्य क्षमता में सुधार होता है।

2. तनाव को करता है कम

ब्राह्मी तनाव को कम कर डिप्रेशन की समस्या से कोसों दूर रखता है। यह कार्टिसोल के लेवल को कम करने में सहायक होता है। आपको बता दें कार्टिसोल तनाव से जुड़ा एक हार्मोन है, यह शरीर में सेरटोनिन के स्तर को बढ़ाकर स्ट्रेसबस्टर का काम करता है। इसके लिए आप नियमित तौर पर इसकी पत्तियों और फूलों का सेवन करें।

3. अल्जाइमर के इलाज में सहायक

अल्जाइमर रोग लाइलाज है, जी हां इसका कोई इलाज नहीं है। लेकिन एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर ब्राह्मी अल्जाइमर का इलाज करने में कारगार उपाय है। यह स्मृति बढ़ाने वाली जड़ी बूटियों में से एक है, यह मस्तिष्क के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाने वाले पदार्थों से लड़ने में कारगार होता है। तथा अल्जाइमर जैसी भयावह बीमारी से लड़ने व इसके संक्रमण से दूर रखने में मदद करता है।

4. इम्यून सिस्टम को बनाए मजबूत

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर ब्राह्मी, रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने में सहायक होता है। यह इम्यूनिटी बढ़ाने का एक शानदार तरीका है। यह हार्ट संबंधी बीमारी, ब्लड शुगर आदि भयावह बीमारी के संक्रमण को कम करने व इससे दूर रखने में भी मदद करता है।

5. बालों को बनाए लंबे, घने और मजबूत

बालों को लंबे, घने और मजबूत बनाने के लिए ‘ब्राह्मी’ बाजार में मौजूद महंगे हेयर प्रोडक्ट्स से कई गुना बेहतर है। यह बालों को लंबे, घने और मजबूत बनाने में मदद करता है। बाजार में आपको किसी भी आयुर्वेदिक स्टोर पर ब्राह्मी का तेल उपलब्ध हो जाएगा। इसे रोजाना सोते समय बालों में लगाएं और मसाज करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर