Hing Ke Fayde: दांत के दर्द से कैंसर रोकने तक, हींग के ऐसे-ऐसे फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान

Benefits of consuming Asafoetida: हींग के सेवन के बहुत सारे फायदे हैं और यह कई तरह की शारीरिक परेशानियों और बीमारियों में मददगार साबित हो सकता है।

Benefits of Asafoetida
हींग के फायदे जानकर रह जाएंगे हैरान 

मुख्य बातें

  • हींग में मौजूद होते हैं कई सारे औषधीय गुण
  • डाइजेशन को बेहतर करने से याददाश्त बढ़ाने तक कई चीजों में है मददगार
  • कई गंभीर बीमारियों के इलाज में भी हो सकता है मददगार

नई दिल्ली: भारत के मसालों में हींग कि अपनी एक मुख्य भूमिका है। हींग एक ऐसा पदार्थ है जो ना ही सिर्फ खाने में काम आता है बल्कि यह कई दवाइयों और बीमारियों को ठीक करने में भी सक्षम है। बात अगर इसके औषधि गुणवत्ता की की जाए तो यह डाइजेशन को बेहतर बनाता है, इसके साथ ही यह हमारी याद करने की क्षमता को बढ़ाता है। हींग एंटीमाइक्रोबियल, एंटीओबेसिटी और एंटीकैंसर भी है। 

हींग की खासियत: हींग को अंग्रेजी में असाफोएटिडा कहते हैं और साइंटिफिकली इसका नाम फेरूला असाफोएटिडा है। हींग को हम उसके खुशबू से पहचानते हैं जिस की सुगंध सल्फर जैसी होती है। बहुत से लोग यह नहीं जानते हैं कि हींग ओलेओ गम है जिसे पौधे के जड़ और राइजोम से निकाला जाता है। हेल्थ बेनिफिट्स होने के साथ हींग के अंदर बहुत तरह के न्यूट्रिएंट्स होते हैं जैसे फाइबर, कार्बोहाइड्रेट्स, कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, नियासिन, कैरोटीन और राइबोफ्लेविन। 

जैसे हर एक चीज के दो पहलू होते हैं वैसे ही हींग के फायदे होने के साथ कुछ नुकसान भी हैं। अगर आप हींग को ज्यादा मात्रा में लेंगे तो आपको मेथेमोग्लोबिनेमिया, मुंह में सूजन, डायरिया, चिंता और पेट फूलने जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। डॉक्टर यह भी सलाह देते हैं कि गर्भवती महिलाओं को हींग नहीं खाना चाहिए। 

चलिए अब जानते हैं कि हींग के कितने फायदे हैं और छोटी-छोटी बीमारियों को हम घर बैठे ही से कैसे दूर कर सकते हैं।

हींग से मिलेगा दांतो के दर्द से छुटकारा: दांत की परेशानी से होने वाले दर्द को हींग चुटकियों में दूर कर देता है। हींग में मौजूद एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज दांतो के दर्द, केवेटी और ओरल इनफेक्शंस जैसी प्रॉब्लम्स को दूर करता है। अगर आप ब्लीडिंग गम्स से परेशान हैं तो हींग आपको इस परेशानी से भी निजात दिलाएगा। 

अगर आप दांत के दर्द से परेशान हैं तो एक कटोरी में एक टी स्पून नीबू का रस लीजिए फिर उसमें एक चुटकी हींग डालकर मिला दीजिए और 20 से 30 सेकंड के लिए माइक्रोवेव में गर्म कीजिए। रुई के छोटे से बाॅल की मदद से मिश्रण को दर्द करने वाले जगह पर लगाइए।

रेस्पिरेट्री डिसऑर्डर्स को करता है ठीक: हींग के अंदर एंटी-इन्फ्लेमेटरी, एंटीबायोटिक और एंटीवायरल गुण होता है जिसके कारण यह रेस्पिरेट्री प्रॉब्लम्स को ठीक करता है। अस्थमा, वूपिंग कफ, ब्रोंकाइटिस और ड्राई कफ जैसी परेशानियों को आप हींग से ठीक कर सकते हैं। हींग एक रेस्पिरेटरी स्टिम्युसेंट की तरह काम करता है और चेस्ट में होने वाले कंजेशन से आपको निजात दिलाता है। 

अगर आपको चेस्ट कंजेशन है तो आप हींग को सुखे अदरक और शहद में मिलाकर दिन में तीन बार सेवन कीजिए।

सिरदर्द को करता है ठीक: हमारे ब्रेन के अंदर मौजूद ब्लड वेसल्स के अंदर होने वाले इन्फ्लेमेशन को ठीक करने के लिए हींग बहुत सक्षम है। इस इन्फ्लेमेशन को ठीक कर के सींग हमारे सर दर्द को कम करता है। अगर आप स्ट्रेस ले रहे हैं या आप किसी बात से चिंतित हैं तो हींग एंटीडिप्रेसेंट की तरह काम करके आपको आराम दिलाएगा। 

अगर आपको सर दर्द की कठिनाई ज्यादा रहती है तो एक चुटकी हींग को एक कप पानी में मिलाकर दिन में तीन बार पीजिए। स्ट्रांग स्मैल होने के कारण आप इसके खुशबू को भी सूंघ सकते हैं।

पेट से जुड़ी समस्याओं का करता है दूर: हींग इतना गुणकारी है कि यह हमारे शरीर के अंदर मौजूद बाइल एसिड और स्माल इंटेस्टाइन और पैंक्रियास के एंजाइम्स के डाइजेस्टिव फंक्शन को बढ़ाता है। हींग इनडाइजेशन, स्टमक प्रेशर, इंटेस्टाइनल गैस, लूज स्टूल, पेट के कीड़ों और आंत की बीमारियों से निजात दिलाता है। 

ब्लोटिंग और इनडाइजेशन जैसी समस्याओं से राहत पाने के लिए आप खाली पेट आधा टी स्पून हींग को गर्म पानी में मिलाकर पीजिए।

कानों के इंफेक्शन को करता है ठीक: अगर आप भी अपने कान में होने वाले इन्फेक्शन या दर्द से परेशान हैं तो आप हींग की मदद ले सकते हैं। हींग के अंदर मौजूद एंटीबायोटिक और एंटी-इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज ऐसा करने में समर्थ है। हींग में एंटीनोसाइसेप्टिव इफेक्ट होने के कारण यह दर्द डिटेक्ट करने से ब्लॉक करता है। 

कान में हो रहे दर्द को ठीक करने के लिए आप नारियल तेल को गर्म कर लें फिर उसमें थोड़ा सा हींग डालकर अच्छे से मिलाइए और इयर ड्राप की तरह यूज कीजिए।

हींग ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में उपयोगी: हींग के अंदर हाइपोटेंसिव गुण है। इसकी एंटी-हाइपरटेंसिव प्रॉपर्टी होने के कारण आर्टरी में दौड़ रहे ब्लड को यह पतला करता है जिसके वजह से ब्लड प्रेशर कम होता है। हींग के अंदर कई रिलैक्सेंट कंपाउंड्स होते हैं जो मस्कैरेनिक रिसेप्टर्स के काम में हस्तक्षेप करता है और कैल्शियम आयनों को इकट्ठा करता है। इससे मसल्स कॉन्ट्रैक्ट होते हैं और ब्लड प्रेशर नियंत्रित होता है।

हर सुबह खाली पेट एक गिलास गर्म पानी में आधा टीस्पून हींग डालकर पीना चाहिए।

हमारे नर्वस सिस्टम के लिए है गुणकारी: हींग के अंदर न्यूरोप्रोटेक्टिव और नर्व स्टिम्युलेटिंग इफेक्ट होता है जिसके कारण यह हमारे पेरीफेरल नर्वस को हील करता है और एक नर्व स्टिम्युलेंट की तरह काम करके पेरीफेरल न्यूरोपैथी को नियंत्रित करता है। नर्वस सिस्टम को स्टिम्युलेट करने के कारण इसे घरेलू नुस्खे की तरह ऐंठन और हिस्टीरिया को ठीक करने में काम आता है। बच्चों के नर्वस सिस्टम के लिए भी हींग के बहुत फायदे हैं। 


मेल सेक्सुअल इश्यूज के लिए है बहुत इफेक्टिव: हींग से आदमियों में होने वाले प्रीमेच्योर इजेकुलेशन और इंपोटेंसी जैसी कठिनाइयों को ठीक कर सकते हैं। यह ब्लड सरकुलेशन को बढ़ाता है जिसके कारण आदमियों में इरेक्शन, इनक्रीज्ड लिबिदो और फर्टिलिटी जैसे प्रॉब्लम्स ठीक होते हैं। 

कढ़ी, ग्रेवी या मुरब्बा में हींग को डालकर खाना चाहिए।

पीरियड से संबंधित परेशानियों को करता है ठीक: महिलाओं में होने वाली अनियमित पीरियड, स्टेरीलिटी, पीड़ा, प्रीमेच्योर लेबर, अत्यधिक मासिक धर्म, अनवांटेड अबॉर्शन और leucorrhoea जैसी हेल्थ प्रॉब्लम्स को हींग ठीक करता है। महिलाओं के लिए हींग इतना लाभदायक है कि वेजाइनल इंफेक्शन और डिलीवरी के बाद होने वाली डाइजेस्टिव प्रॉब्लम्स को भी यह ठीक करता है। अगर किसी महिला के अंदर प्रोजेस्ट्रोन की कमी है तो हींग प्रोजेस्ट्रोन को बढ़ाता है। 

घी में हींग को फ्राई कीजिए फिर उसमें बकरी का दूध और एक टीस्पून शहद मिलाकर हर दिन तीन बार एक महीने तक‌ पीजिए।

कैंसर रिस्क की करता है रोकथाम: एक शोध के अनुसार यह पता चला था कि ट्यूमर के वजन और वॉल्यूम को हींग कम करता है।  हींग के अंदर एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टी होता है जिसके कारण वह कैंसर कॉजिंग सेल्स और फ्री रेडिकल्स से हमारे शरीर को बचाता है। हमारे फेफड़ों, लीवर और किडनी में होने वाले की भी यह रोकथाम करता है और कैंसर को शरीर में फैलने से रोकता है।

हींग को हमें कढ़ी और दाल में डालकर जरूर खाना चाहिए।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर