कहीं आप में भी तो नहीं है आयरन की कमी, ये लक्षण दिखने पर तुरंत लें डॉक्टर की सलाह वर्ना हो सकती है

खानपान और जीवनशैली में बदलाव के कारण महिलाओं, पुरुषों और बच्चों में भी आयरन की कमी देखी जा रही है। यदि समय रहते इसका इलाज ना किया जाए तो यह अपना भयावह रूप धारण कर सकती है। ऐसे में आइए जानते हैं इसके लक्षण।

Representative Image (Image- iStock)
Representative Image (Image- iStock) 

मुख्य बातें

  • आयरन की कमी का शुरुआती लक्षण है थकान होना।
  • तेज घबराहट, बेचैनी होना और दिल का तेज धड़कना एनीमिया का है असामान्य लक्षण।
  • आयरन की कमी के कारण शरीर में हीमोग्लोबिनकी हो जाती है कमी।

भारत में लगभग 60 प्रतिशत लोग एनीमिया से ग्रस्त हैं। आयरन की कमी एनीमिया का सबसे बड़ा कारण है, जब शरीर में आयरन की कमी होती है तो शरीर में खून बनना कम हो जाता है। इस बीमारी का अधिकतर औऱतें शिकार होती है। आपको बता दें हमारे शरीर में आयरन की कुल मात्रा शरीर के वजन के हिसाब से 3 से 5 ग्राम होती है। शरीर में आयरन की कमी होने के कारण हीमोग्लोबिन बनना कम हो जाता है। इससे शरीर में हीमोग्लोबिन औऱ खून की कमी हो जाती है। धीरे धीरे यह एनीमिया जैसी भयावह बीमारी के रूप में तबगील होता जाता है। ऐसे में इस लेख से माध्यम से आज हम आपको शरीर में आयरन की कमी के लक्षण बताएंगे, जिससे आप लक्षण के दिखते ही एनीमिया जैसी भयावह बीमारी के प्रकोप से बचने के लिए डॉक्टर को दिखा सकते हैं।

आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया क्या है

पीरियड्स के दौरान खून की कमी होने के कारण महिलाओं में आयरन की कमी होना आम बात है। लेकिन खानपान व जीवनशैली में आए बदलाव के कारण युवाओं और वृद्धावस्था के दौरान महिलाओं में भी यह समस्या अधिक देखी जा रही है। आपको बता दें आयरन की कमी यदि समय रहते ना दूर की जाए तो यह अपना भयावह रूप घारण कर लेती है, इससे अन्य बीमारियों के पनपने का खतरा बढ़ जाता है। आयरन की कमी से हार्टअटैक की संभावना और किडनी संबंधी बीमारियों का खतरा अधिक होता है। यह अधिकतर 5 साल से कम उम्र के बच्चों, गर्भवती महिलाओं और बीमार व्यक्तियों में अधिक देखा जाता है। देश मे आयरन की कमी के कारण एनीमिया से ग्रस्त व्यक्तियों की तादाद दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। ऐसे में आइए जानते हैं इसके लक्षण।

थकान

थकान महसूस होना आयरन की कमी का सबसे आम लक्षण है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आपके शरीर में हीमोग्लोबिन बनाने के लिए पर्याप्त मात्रा में आयरन नहीं होता। इसलिए शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी हो जाती है औऱ हीमोग्लोबिन की कमी के कारण शरीर की कोशिकाओं तक पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाता। जिससे आप हमेशा थका हुआ महसूस करते हैं।

शरीर का पीलापन

आयरन हमारे शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं (आरबीसी) का निर्माण करता है। ये कोशिकाएं ही शरीर में हीमोग्लोबिन बनाने का काम करती हैं। आयरन की कमी से शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण नहीं होता यानि रेड ब्लड सेल्स की कमी हो जाती है। जिससे शरीर पीला पड़ना शुरु हो जाता है, शरीर का पीलापन होना आयरन की कमी का सबसे आम लक्षण। ऐसे में आपको जल्द से जल्द डॉक्टर की सलाह लेना चाहिए और शरीर में आयरन की जांच करानी चाहिए। अन्यथा यह आपके लिए बड़ी मुसीबत बन सकता है।

सांस फूलना यानि सांस में कमी

हीमोग्लोबिन लाल रक्त कोशिकाओं को शरीर के चारो ओर ऑक्सीजन ले जाने में मदद करता है। लेकिन शरीर में आयरन की कमी होने के कारण कोशिकाओं तक पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की आपूर्ती करना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में जब शरीर की मांसपेशियों तक पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुंचता तो आपको जल्द ही थकान महसूस होने लगता है और सांस लेने में दिक्कत यानि सांस फूलने लगती है। इस दौरान आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए। यह आयरन की कमी का सबसे सामान्य लक्षण है।

दिल का तेज धड़कना

घबराहट होना, बेचैनी होना एनीमिया यह आयरन की कमी का एक असामान्य लक्षण है। आपको बता दें शरीर में आयरन की कमी के कारण हीमोग्लोबिन में कमी हो जाती है। जिससे दिल को ऑक्सीजन ले जाने के लिए अतिरिक्त मेहनत करनी पड़ती है। इससे आपके दिल की धड़कन अनियमित यानि तेज धड़कना शुरु हो सकती है यानि आपको ऐसा महसूस हो सकता है कि आपका दिल असामान्य रूप से तेज धड़क रहा है। आपको बता दें इस स्थिति में हार्ट अटैक का खतरा अधिक रहता है। इसलिए इससे पहले आपको डॉक्टर को दिखा लेना चाहिए।

त्वचा का रूखा होना और बाल गिरना

त्वचा का रूखा होना और तेजी से बाल गिरना आयरन की कमी का एक और लक्षण है। रक्त में हीमोग्लोबिन पर्याप्त मात्रा ना होने के कारण कोशिकाओं तक ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाता, जिससे त्वचा का रूखा होना और बाल तेजी से गिरना शुरू हो जाते हैं। आपको बता दें जब त्वचा और बालों को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिलता तो यह शुष्क और कमजोर हो जाते हैं।

डॉक्टर से लें सलाह

यदि आयरन की कमी के दो असामान्य लक्षणों में से कोई भी लक्षण दिखाई देता है तो जल्द से जल्द आपको डॉक्टर की सलाह लेना चाहिए। तथा एक साधारण ब्लड टेस्ट के दौरान आयरन औऱ एनीमिया की जांच करवाएं। यदि ब्लड टेस्ट के दौरान आयरन की कमी यानि एनीमिया की पुष्टी की जाती है तो डॉक्टर के बताए अनुसार अपने आहार में बदलाव करें और डॉक्टर द्वारा बताए सप्लीमेंट का सेवन करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर