Raw Papaya Benefits: कच्चा पपीता करेगा तेजी से वेट लॉस और देगा ग्लोइंग स्किन, जानें इसके और गुण

हेल्थ
Updated Oct 16, 2019 | 15:20 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

पका पपीता तो आप खाते ही होंगे, लेकिन कच्चे पपीते (Raw Papaya) के फायदे (Benefits) जानते हैं? ये शरीर की आंतरिक सफाई करने के साथ वेट लॉस पाचन क्षमता बढ़ाने और खूबसूरती निखारने वाला भी होता है।

 Raw Papaya Benefits
Raw Papaya Benefits  |  तस्वीर साभार: Instagram
मुख्य बातें
  • कच्चा पपीता नेचुरल डिटॉक्सिफिकेशन का काम करता है
  • वेट लॉस के लिए इसे सलाद या सब्जी के रूप में खाना चाहिए
  • डायबिटीज और स्किन की समस्या में इसका जूस फायदेमंद होता है

कच्चा पपीता पके पपीते से ज्याद फायदेमंद होता है। इसे यदि आप किसी भी रूप में खाने की आदत डाल लें तो बहुत सी बीमारियां भी दूर होंगी और आपका वेट लॉस भी तेजी से होगा। मैग्नीशियम, पोटेशियम, विटामिन ए, सी, ई और बी से भरपूर पपीता कच्चा ज्यादा फायदा करता है। अपने शरीर को साफ करने के लिए आप रोज ब्रश करते हैं,नहाते हैं और स्किन को चमकदार बनाने के लिए मॉइस्चराइज़र, क्लीन्ज़र और सनस्क्रीन जैसी महंगी क्रीम लगाते हैं लेकिन इन सारी चीजों से शरीर कि आंतरिक सफाई नहीं होती और यही कारण है कि तमाम प्रयास के बाद भी आप बीमार रहते हैं और स्किन चमकरहित।

इसलिए जरूरी है कि शरीर की आंतरिक सफाई की जाए जिससे बाहरी सफाई अपने आप होने लगेगी। स्वस्थ शरीर की पहचान चमकते चेहरे ही होते हैं। इसलिए नेचुरल चीजों में कच्चा पपीता से बढ़ कर कोई और चीज आंतरिक सफाई करने वाला नहीं है। कच्चा हरा पपीता एंटी-बैक्टीरियल गुण से भरा होता है और अच्छे पाचन को बढ़ावा देता है। यानी पाचन बेहतर तो शरीर का सारा हिस्सा बेहतर होगा।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Chef Anuraag (@chef_anuraagjakhar) on

कच्चे पपीते में छुपा है कई समस्याओं और बीमारियों का इलाज

1. वजन कम करने में सहायक
कच्चे पपीते में ऐसे कई एंजाइम होते हैं जो पाचान क्रिया को ही नहीं सुधारते बल्कि वेट लॉस को भी बूस्ट करते हैं। कच्चे पपीते से मेटाबॉलिक रेट भी सक्रिय होता है। कच्चे सलाद या सब्जी के रूप में आप इसे रोज खाना शुरू कर दें। ये लंबे समय तक पेट को भरा भी रखता है। ये पके पपीते से ज्यादा इफेक्टिव है वेट लॉस में।

2. डायबिटीज में फायदेमंद
डायबिटीज में इसका सेवन आप जूस के रूप में करें या सलाद या सब्जी, हर तरह से ये फायदा देगा। कच्चा पपीता का जूस ब्लड शुगर को कम करने के साथ इंसुलिन रेग्युलेशन में भी बहुत सहायक होता है। ये इंसुलिन की मात्रा को शरीर में बढ़ाता है। इसलिए जहां पके पपीते के खाने से आपका शुगर बढ़ सकता है वहीं कच्चा पपीता इसे कम करने वाला होता है।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Saritha Sreedharan (@wiseveganlife) on

3. कब्ज की समस्या से मिलेगा छुटकारा
कच्चे पपीते में फाइबर अन्य हरी सब्जी की अपेक्षा फाइबर ज्यादा होता है और यही कारण है कि ये पेट को साफ भी रखता है और इसके एंजाइम्स पाचन क्षमता को भी मजबूत बनाते हैं। यदि आपको कब्ज की शिकायत रहती हो तो आप रोजाना कम से कम 300 ग्राम तक कच्चे पपीते की सब्जी या सलाद जरूर खाएं। इससे पेट में गैस बनने की समस्या भी खत्म होगी।

4. विटामिन की कमी दूर
कच्चे पपीते में मैग्नीशियम, पोटेशियम, विटामिन ए, सी, ई और बी बहुत होता है। इसलिए इससे शरीर में होने वाली विटामिन या मिनिरल्स की कमी भी दूर होती है।

5. मुंहासे और पिग्मेंटेशन की दिक्कत कम होगी
कच्चे पपीते में फाइबर अधिक होता है, इसलिए ये शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकाल कर शरीर की आंतरिक रूप से साफई करता है। कच्चे पपीते को रोज खाने से त्वचा पर मुंहासे और पिग्मेंटेशन की समस्या भी खत्म होने लगती है। हरे पपीते में मृत कोशिका को घुलने की क्षमता होती है। स्किन समस्या में कच्चे पपीते का जूस पीना बहुत फायदेमंद होगा।

अपने शरीर को साफ और सुंदर बनाए रखने के लिए कच्चे पपीते को किसी भी रूप में रोज खाना शुरू कर दें।

डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए हैं और इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जा सकता।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर