chukandar ke fayde : क्‍यों खाना चाह‍िए चुकंदर, जानें सेहत से जुड़े इसके गजब के फायदे

kyon khana chahiye chukander : चुकंदर देखने में जितना रंगीन होता है, खाने में उतना ही फायदेमंद भी रहता है। इसीलिए तो डॉक्टर हमेशा सलाद में चुकंदर खाने की सलाह देते हैं।

chukandar ke fayde kyon khana chahiye chukander beetroot benefits
Beetroot benefits, चुकंदर के फायदे  

मुख्य बातें

  • चुकंदर का स्‍वाद थोड़ा कड़वा होता है
  • ये ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करता है और शरीर में ब्‍लड फ्लो बढ़ाता है
  • वजन घटना चाहते हैं तो भी आपके ल‍िए चुकंदर का सेवन फायदेमंद रहेगा

खाने के साथ सलाद खाना किसे पसंद नहीं है, खासकर, जब सलाद डेकोरेटेड हो। सलाद की शोभा बढ़ाने के लिए खीरा, मूली, गाजर, टमाटर, प्याज जैसे सब्जी मौजूद रहते हैं, स्वाद बढ़ाने के लिए के लिए आप उसमें नमक, काली मिर्च या रॉक साल्ट भी डाल देते हैं। लेकिन आप सब ये तो मानते ही होंगे कि असली चटकारा तो नींबू से ही मिलता है। इन्हीं कहीं सब्जियों में आपको एक लाल रंग की इतराती हुई सब्जी भी मिलेगी जिसे आप प्यार से चुकंदर कहते हैं।

आज हम आपको इसी चुकंदर के इंटरेस्टिंग फायदे बताने जा रहे हैं। आमतौर पर लोगों को यह लगता है कि चुकंदर थोड़ी कड़वी होती है और इसका काम केवल शरीर में खून बढ़ाना होता है।

चुकंदर के फायदे
चुकंदर एक मेडिसिनल प्लांट है जो लो-ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, और मेमोरी बढ़ाने जैसे उपचारों में काम आता है‌। जैसे पत्तों का हरा होने का कारण उसके अंदर मौजूद क्लोरोफिल पिगमेंट होता है, वैसे ही चुकंदर के अंदर बीटालेन नाम का पिगमेंट होता है, जिसके वजह से चुकंदर का कलर रेड होता है। चुकंदर का फूड कलरेंट के तौर पर भी इस्तेमाल किया जाता है। चुकंदर के अंदर बहुत सारे न्यूट्रिएंट्स, फ्लेवोनॉयड्स होते हैं।

Here's why beetroot juice is the best post-workout recovery drink ...

जानते हैं चुकंदर किन रोगों से लड़ने में मदद करता है - 

  1. चुकंदर ब्लड प्रेशर को कम करता है : चुकंदर के खाने से ब्लड फ्लो बढ़ता है। चुकंदर के अंदर मौजूद नाइट्रेट्स हमारे शरीर के अंदर नाइट्रिक ऑक्साइड में तब्दील हो जाते हैं, जिसके बाद वह हमारे ब्लड वेसल्स को बढ़ा देते हैं। ब्लड वेसल्स के बढ़ने के कारण हमारा ब्लड प्रेशर कम हो जाता है। एक स्टडी के मुताबिक, चुकंदर का जूस पीने से ब्लड प्रेशर लेवल कम होता है।
  2. आपके दिल को सुरक्षित रखने में है मददगार : नाइट्रेट होने के चलते चुकंदर हार्ट डिजीज और स्ट्रोक के रिस्क को कम करता है। चुकंदर के अंदर मौजूद फाइबर एच डी एल की मात्रा बढ़ाकर बैड कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स लेवल को कंट्रोल करता है।
  3. वजन को भी करता है काबू : चुकंदर में पानी और फाइबर की मात्रा अधिक होती है और कैलोरीज कम। फाइबर आपके ऐपेटाइट को कम करता है, साथ ही में यह आपको एनर्जेटिक फील कराता है। आपका ऐपेटाइट कम होने के कारण आप और ज्यादा कैलोरी नहीं लेते।
  4. आपके दिमाग का रखता है ख्याल : नाइट्रेट होने के कारण चुकंदर आपके मेंटल और कॉग्निटिव फंक्शन को बेहतर बनाता है। जैसा कि हमने आपको पहले भी बताया था कि नाइट्रेट के वजह से आपके ब्लड वेसल्स बढ़ जाते हैं जिसके वजह से आपका ब्लड फ्लो बढ़ता है, ब्लड फ्लो बढ़ने के कारण आपके दिमाग के अंदर सही मात्रा में खून पहुंचता है जिससे आपका ब्रेन फंक्शन इंप्रूव होता है और डिमेंशिया के रिस्क को कम करता है।
  5. पेट के इन्फ्लेमेशन को करता है कंट्रोल : बीटालेन के अंदर एंटी-इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं। चुकंदर खाने से यह पेट दर्द और इन्फ्लेमेशन के प्रॉब्लम से निजात दिलाता है।
    beetroot: Latest News, Videos and Photos of beetroot | Times of India
  6. एनीमिया से करता है बचाव : चुकंदर आपके अंदर आयरन की मात्रा को बढ़ाता है, जो बहुत जरूरी मिनरल है आपके हीमोग्लोबिन लेवल्स को कंट्रोल करने के लिए। आयरन की मात्रा को बढ़ाकर यह एनीमिया जैसी परेशानी को आपसे दूर रखता है। चुकंदर के अंदर विटामिन-सी भी होता है जो आयरन को अब्जॉर्ब करता है।
  7. चुकंदर के अंदर होते हैं कीमोप्रीवेंटिव प्रॉपर्टीज : एक स्टडी के अनुसार, चुकंदर में बायोएक्टिव कंपाउंड्स कैंसर कोशिकाओं के म्यूटेशन को रोकते हैं। पहले यह शोध जानवरों पर किया गया था, अभी और ह्यूमन स्टडी करने की जरूरत है।
  8. एथलेटिक परफॉर्मेंस को बढ़ाने की है क्षमता : बीटरूट में मौजूद नाइट्रेट शरीर के हर एक हिस्से को ऑक्सीजन सप्लाई करता है, जिससे फिजिकल परफॉर्मेंस इंप्रूव होती है। एक शोध के अनुसार चुकंदर खाने से रनिंग परफॉर्मेंस एडल्ट्स में बढ़ती है।
  9. आपके डाइजेशन को करता है मजबूत : चुकंदर में मौजूद फाइबर आपके डाइजेशन को इंप्रूव करता है। फाइबर इन्फ्लेमेटरी बॉवेल डिजीज और कॉन्स्टिपेशन जैसे प्रॉब्लम को दूर भगाता है।
  10. डिटॉक्स करने में करता है मदद : चुकंदर डिटॉक्सिफिकेशन प्रोसेस को बढ़ाता है। बीटालेन होने के कारण यह लीवर के फंक्शंस को स्टिम्युलेट करता है और आपके शरीर के अंदर मौजूद टॉक्सिंस को निकालता है।
  11. आंखों के लिए है मददगार : चुकंदर के अंदर विटामिन-ए होता है, जिससे यह कैटारेक्‍अ और आयु से रिलेटेड मैकुलर डिजनरेशन जैसे प्रॉब्लम को कम करता है।
  12. गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद : चुकंदर गर्भवती महिलाओं के लिए अच्छे होते हैं क्योंकि वे फोलेट का एक अच्छा स्रोत होते हैं। फोलेट एक आवश्यक विटामिन है जो शिशुओं में विभिन्न जन्म दोषों को रोकने के लिए आवश्यक है, और यही कारण है कि गर्भवती माताओं को चुकंदर को अपने आहार में शामिल करना चाहिए
  13. ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा करे कम : शरीर में नाइट्रेट नाइट्रिक ऑक्साइड में बदल जाता है जो ऑस्टियोपोरोसिस को प्रिवेंट करता है। कैलशियम, मैग्निशियम, जिंक और कॉपर होने के कारण यह आपके बोंस को मजबूत बनाते हैं।
  14. आपकी स्किन का रखता है ख्याल : चुकंदर के अंदर विटामिंस और मिनरल्स होते हैं जो आपके स्किन की हेल्थ को बढ़ाते हैं। यह फ्री कॉलेजन प्रोडक्शन को बढ़ाता है और आपकी स्किन को नुकसानदेह किरणों से सुरक्षित रखता है।

Improve your stamina, BP with daily dose of beet juice - Times of India


कैसे करें चुकंदर का सेवन 
चुकंदर के के इस्तेमाल करने के तरीकों को भी जानना आवश्यक है। बीटरूट को कद्दूकस करके सलाद में खाएं। चुकंदर का रस और कालीमिर्च पाउडर को मिलाकर उसका सेवन करें। संतरे, पुदीना, सेब, अदरक या अपनी पसंद के किसी दूसरे फल को मिलाकर बीटरूट का रस बनाएं।  एक ब्लेंडर में ग्रीक योगर्ट और बीट रूट को मिला करके बीट रूट का डिप बनाएं। आप बीट रूट का सूप, केक, मसालेदार बीट‌ रूट और उबले हुए चुकंदर भी खा सकते हैं। 

अगली खबर