चावल को क्विनोआ से करें रिप्लेस, डायबिटीज और वेट लॉस में भी फायदेमंद

हेल्थ
Updated Sep 22, 2019 | 07:00 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

ब्लैक क्विनोआ क्विनोआ एक प्रकार का अनाज है, जो सफेद और लाल क्विनोआ की तुलना में ज्याद हेल्दी होता है। एंटीऑक्सिडेंट, प्रोटीन, फाइबर से भरा क्विनोआ खाने के एक नहीं अनेक स्वास्थ्य भरे फायदे हैं।

Quinoa
Quinoa 

मुख्य बातें

  • ब्लैक क्विनोआ एंटीऑक्सिडेंट, प्रोटीन, फाइबर से भरा है।
  • वेट लॉस के लिए ब्लैक क्विनोआ को डाइट में करें शामिल।
  • काला क्विनोआ पोषक तत्वों का पावरहाउस है।

नई दिल्ली. ब्लैक क्विनोआ एक किस्म का अनाज ही होता है। ब्लैक क्विनोआ को चावल का विकल्प भी कह सकते हैं। ये तीन रंगों में आता है। लाल, सफेद और काला। लाल और सफेद क्विनोआ की तुलना में काला क्विनोआ ज्यादा बेहतर माना गया है। 

ब्लैक क्विनोआ थोड़ी मिठास के लिए होता है। खास बात ये है कि ये आसानी से बाजार में उपलब्ध भी है। अगर आप वेट लॉस के साथ कई तरह की गंभीर और पुरानी बीमारियों निजात चाहते हैं तो आपको अपनी डाइट में चालव की जगह ब्लैक क्विनोआ को जरूर शामिल करना चाहिए। 

क्विनोआ स्वाद ही नहीं सेहत का खजाना होता है। जो शाकाहारी लोग स्वादिष्ट और स्वस्थ अनाज के लिए तरसते हैं उनके लिए ब्लैक क्विनोआ सबसे बेहतर विकल्प है। सफेद क्विनोआ की तरह, काला क्विनोआ पोषक तत्वों का पावरहाउस है। यह आयरन, प्रोटीन, बी विटामिन, कॉपर, मैंगनीज, एंथोसायनिन और अल्फा-लिनोलेनिक एसिड से भरपूर होता है।

ब्लैक क्विनोआ के फायदे
ब्लैक क्विनोआ का रंग एंथोकायनिन की उपस्थिति के कारण होता है। यह एक विशेष प्रकार का एंटीऑक्सीडेंट है जो शरीर को यूवी किरणों से बचाकर बॉडी के टिशूज को फ्री रैडिकल क्षति से बचाता है। ये एंटीऑक्सिडेंट से भरा होता है इसलिए ये हृदय को स्वास्थ्य और सुरक्षित बनाने के साथ कई पुरानी बीमारियों को भी सही करता है। 

ब्लैक क्विनोआ को चावल और सफेद क्विनोआ से इसलिए बेहतर माना गया है। ये ग्लूटेन फ्री ही नहीं है बल्कि इसमें पोषक तत्व भी बहुत होते हैं। निस्संदेह अन्य अनाजों की तुलना में ब्लैक क्विनोआ उनके लिए बहुत अच्छा ऑप्शन है जो, वेट लॉस करना चाहते हैं या जिन्हें डायबिटीज या ग्लूटेन से एलर्जी हो। 

फाइबर और प्रोटीन होता है सबसे ज्यादा
ब्लैक क्विनोआ ऐसा प्लांट बेस्ड अनाज है जिसमें महत्वपूर्ण अमीनो एसिड सहित पूर्ण प्रोटीन होता है। यह शाकाहारी श्रेणी में सबसे अच्छा प्रोटीन स्रोतों में से एक है। इसमें अन्य प्रकार के क्विनोआ की तुलना में अधिक फाइबर है और चावल की जगह इसे प्रयोग करना सबसे बेस्ट विकल्प है। 

ब्लैक क्विनोआ में आयरन की मात्रा अधिक होती है। इसे खाने से एनिमिया का खतरा कम होता है। यह पूरे शरीर में ऑक्सीजन को समान रूप से सर्कुलेट करने में मदद करता है। इससे कमजोरी, थकान, अनिद्रा जैसी दिक्कते दूर होती हैं। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर