Ghaziabad: एसटीपी के टैंक में मिली लापता अंकुर की लाश, हत्या कर फेंकने का आरोप, प्‍लांट में तोड़फोड़ व हंगामा

Ghaziabad News: पुलिस ने लापता अंकुर का शव उसी सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के टैंक से बरामद किया है, जहां पर वो स्‍टोर कीपर थे। शव मिलने के बाद जमकर हंगामा हुआ। लोग प्‍लांट में तोड़फोड़ करके शव को प्‍लांट में रखकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े हैं। परिजनों का आरोप है कि घोटाले को छुपाने के लिए प्‍लांट के अधिकारियों व कर्मचारियों ने अंकुर की हत्‍या की है।

 Ghaziabad Police
सुरक्षा व्‍यवस्‍था का जायजा लेते ग्रामीण एसपी   |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • अंकुर का शव सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के टैंक से बरामद
  • लोगों ने प्‍लांट में हंगामा करते हुए की जमकर तोड़फोड़
  • आला अधिकारियों के साथ कई थानों की पुलिस तैनात

Ghaziabad News: संजयपुर के रहने वाले लापता अंकुर का शव पुलिस ने बरामद कर लिया है। युवक का शव निवाड़ी रोड स्थित जगतपुरी कालोनी के उसी सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) के टैंक में मिला जहां पर मृतक स्टोर कीपर था। अंकुर की खोज में लगी पुलिस की चार टीमों ने यह शव देर रात बरामद किया। जिसके बाद परिजनों ने हत्‍या का आरोप लगाकर हंगामा शुरू कर दिया। स्वजन ने आरोप लगाया है कि प्लांट पर हुए घोटाले को छुपाने के लिए अधिकारियों व कर्मचारियों ने अंकुर की हत्या कर शव को टैंक में फेंक दिया। हंगामें की जानकारी मिलने के बाद एसपी देहात डॉ. ईरज राजा समेत कई आला पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और परिजनों को समझाने का प्रयास किया।

बता दें कि संजयपुरी कालोनी के अंकुर सीवरेज प्लांट में स्टोर कीपर थे। पिता सुंदर ने बताया कि, अंकुर रविवार को ड्यूटी से पांच बजे घर आ गए थे। जिसके बाद उसके पास प्‍लांट से फोन आया और वह वापस चला गया। जब रात तक अंकुर घर नहीं आया तो परिजनों ने फोन किया, लेकिन मोबाइल बंद मिला। जिसके बाद परेशान परिजनों ने पुलिस में मामला दर्ज कराया। पुलिस ने प्लांट पहुंचकर छानबीन की तो तीन नंबर टैंक के पास से अंकुर की चप्पल व मोबाइल बरामद हुई। इसके बाद सोमवार को टैंक नंबर तीन को खाली करने का कार्य शुरू हुआ। देर रात जाकर प्लांट खाली हुआ तो उसमें नीचे अंकुर का शव पड़ा मिला।

प्‍लांट पर हुआ जमकर हंगामा, बुलानी पड़ी कई थाने की फोर्स

अंकुर का शव मिलते ही परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया। इस दौरान संजय पुरी समेत आसपास की कई कालोनियों से बड़ी संख्या में लोग वहां पहुंच गए और प्लांट का दरवाजा बंद कर तोड़फोड़ शुरू कर दी। पीड़ित परिवार शव को प्‍लांट परिसर के अंदर ही रख आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहा है। हंगामा बढ़ता देख निवाड़ी, भोजपुर समेत कई थाने से फोर्स को बुला लिया गया। अधिकारियों ने लोगों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन, हंगामा कर रहे लोग आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े रहे। सीओ मोदीनगर सुनील कुमार ने बताया कि मृतक के पिता सुंदर की तहरीर पर छानबीन चल रही है। हालांकि मौत की वजह का पता पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही चल सकेगा। अभी जल्दबाजी में कुछ भी कहना सही नहीं होगा।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर