Gurugram News: गुरुग्राम में शुक्रवार को भारी बारिश की चेतावनी, मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट, देखें डिटेल

Gurugram News: गुरुग्राम में शुक्रवार को भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग ने गरज के साथ भारी बारिश और बिजली गिरने की संभावना व्‍य‍क्‍त की है। आगामी 48 घंटे तक कई इलाकों में हल्की या मध्यम वर्षा होती रहेगी।

rain in gurugram
बारिश से जलमग्‍न गुरुग्राम की सड़कें   |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • शुक्रवार को भारी बारिश के लिए येलो अर्टल जारी
  • बारिश के दौरान बिजली गिरने की भी संभावना
  • आगामी 48 घंटे तक इस तरह से होती रहेगी बारिश

Gurugram News: गुरुग्राम के लिए आने वाला कल यानी शुक्रवार भारी रहने वाला है। मौसम विभाग ने शुक्रवार को गुरुग्राम में गरज के साथ भारी बारिश की आशंका व्‍यक्त की है। साथ ही शुक्रवार के लिए येलो अलर्ट जारी कर लोगों को सावधान किया है। गुरुग्राम में वीरवार को रुक-रुक कर दिनभर बारिश जारी रही। जिसकी वजह से कई इलाकों में आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया और सड़कों पर जलभराव के कारण लंबा जाम लगा रहा।

मौसम विभाग के अनुसार गुरुग्राम में वीरवार दोपहर 2 बजे तक 25 एमएम बारिश हो चुकी थी। हालांकि देर रात तक इसके और अधिक बढ़ने की आशंका है। बारिश की वजह से तापमान में भी भारी गिरवाट चल रहा है। वीरवार को गुरुग्राम में न्यूनतम तापमान 24.5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। मौसम विभाग के अनुसार इस समय उत्तर पश्चिमी मध्य प्रदेश पर एक निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। जिसकी वजह से यह बारिश हो रही है।

बारिश की कमी की भरपाई की उम्‍मीद

अगले दो दिनों में इसके उत्तर या उत्तर-पश्चिम की तरफ धीरे-धीरे बढ़ने की संभावना है। हालांकि इस दौरान हल्की या मध्यम वर्षा के साथ कई इलाकों में भारी बारिश भी हो सकती है। बारिश के दौरान गरज या बिजली गिरने की आशंका बनी हुई है। इससे बचने के लिए मौसम विभाग ने लोगों से बारिश के दौरान घर में रहने की अपील की है। विभाग के अनुसार अगले 48 घंटों तक हरियाणा के कई इलाकों में तेज बारिश होने की आशंका है। बता दें कि इस बार सितंबर माह में काफी कम बारिश हुई थी। मौसम विभाग के अनुसार इस साल 21 सितंबर तक गुरुग्राम में मात्र 15.5 मिमी बारिश हुई थी, जो औसत से 78% कम थी। हलांकि अब जोरदार बारिश से इस कमी के भरपाई होने की उम्‍मीद है। आंकड़ों के अनुसार इस साल का मानसून काफी निराशाजनक था। बेहतर बारिश सिर्फ जुलाई में 208.4 मिमी हुई थी, जो औसत से 19% अधिक थी। जबकि जून में औसत से 20% कम 37.8 मिमी बारिश और अगस्त में 65% कम बारिश हुई थी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर