Gurugram News: विधायकों को धमकी देने वाले गिरोह ने किये कई खुलासे, 727 बैंक अकाउंट में करोड़ों रुपये ट्रांसफर

Gurugram News: गुरुग्राम की एसटीएफ ने विधायकों को धमकी देकर रंगदारी मांगने के मामले में गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में कई अहम बातों का खुलासा किया है। पुलिस के अनुसार ये आरोपी पाकिस्‍तान के एक हैंडलर के संपर्क में थे और उसके अनुसार ही कार्य कर रहे थे।

Gurugram police
विधायकों को धमकी देने वाले गेंगस्‍टर्स ने किए अहम खुलासे   |  तस्वीर साभार: Representative Image

Gurugram News: हरियाणा के चार विधायकों को वॉट्सऐप कॉल पर धमकी देकर रंगदारी मांगने के मामले में गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में एसटीएफ को कई अहम जानकारियां मिली हैं। इन खुलासों को सुनकर पुलिस टीम भी हैरान हो गई। आरोपियों ने स्‍वीकार्य किया कि इस गिरोह का हैंडलर पाकिस्तान से कनेक्शन रखता है और यह जांच में साबित हो गया है।

एसटीएफ ने दावा किया है कि यह गिरोह इससे पहले ठगी की वारदात को अंजाम देता रहा है। इससे कमाया गया पैसा हवाला के जरिए पाकिस्तान भेजा जाता था। गिरोह ने ठगी से कमाई रकम 2 करोड़ 77 लाख रुपये 727 बैंक खातों के जरिए ट्रांसफर की है। इस रकम को हवाला के जरिये पाकिस्तान भेज दिया गया। पुलिस अधिकरियों के अनुसार इस गिरोह ने बीते 8 माह के दौरान 867 ट्रांजैक्शन विदेश में किए। इस गिरोह में शामिल लोगों के ज्‍यादातार परिवार वाले विदेश में खासकर मिडल ईस्ट देशों में नौकरी करते हैं।

एसटीएफ रिमांड पर कर रही पूछताछ

एसटीएफ ने बताया कि विधायाकों से रंगदारी मांगने के मामल में 31 जुलाई को मामला दर्ज किया गया था। इसके बाद जांच के दौरान 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया। इनमें से दो आरोपियों बेतिया निवासी दुलेश आलम व यूपी के बस्ती जिले के रहने वाले बदरे आलम को मुंबई से अरेस्ट किया गया है। इसके अलावा बिहार के मुजफ्फरपुर से 4 आरोपियों अमित यादव उर्फ राधेश्याम यादव, सद्दीक अनवर, सनोज कुमार व कैशल आलम को उनके गांव से अरेस्ट किया गया। इन सभी आरोपियों से पुलिस ने 55 डेबिट कार्ड, 24 मोबाइल, 56 सिम, 22 पासबुक-चेकबुक, 3 लाख 97 हजार रुपये कैश, 1 कार व 3 डायरी बरामद की। पुलिस पूछताछ के दौरान इन आरोपियों ने बताया कि वे पाकिस्‍तान से हैंडल होने वाले एक एकाउंट के संपर्क में थे और उसके द्वारा दिए गए निर्देश के अनुसार ही कार्य करते थे।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर