भूषण कुमार की बहन खुशाली कुमार ने फिल्म धोखा से किया डेब्यू, बोलीं- पिता के निधन के बाद मां नहीं चाहती थीं कि हम ......

Bhushan Kumar's Sister Khushalii Kumar in Dhokha: भूषण कुमार और सिंगर तुलसी कुमार की बहन खुशाली कुमार ने 23 सितंबर को रिलीज हुई फिल्म धोखा से डेब्यू किया है। खुशाली ने अपने लेटेस्ट इंटरव्यू में पर्सनल लाइफ से जुड़े कई खुलास किए हैं

Bhushan Kumar’s Sister Khushalii Kumar: after dad's death mom didn’t want us work as an actor
धोखा फिल्म से बॉलीवुड में डेब्यू कर रही हैं खुशाली कुमार 
मुख्य बातें
  • भूषण कुमार की बहन खुशाली कुमार ने किया एक्टिंग में डेब्यू
  • खुशाली कुमार की फिल्म धोखा 23 सितंबर को रिलीज हो गई है
  • फिल्म में खुशाली के साथ अपारशक्ति खुराना और आर माधवन भी है

Bhushan Kumar's Sister Khushalii Kumar in Dhokha Round D Corner: प्रोड्यूसर भूषण कुमार और जानी मानी सिंगर तुलसी कुमार की छोटी बहन खुशाली कुमार ने अपने करियर की शुरुआत एक फैशन डिजाइनर के रूप में की थी। उन्होंने शकीरा, जस्टिन बीबर और मेलानी बी के फैशन डिजाइनर के रूप में भी काम किया है। हालांकि वह एक फैशन डिजाइनर के रोल तक ही सीमित नहीं रहना चाहती थी।

एक म्यूजिक वीडियो ‘मैनु इश्क दा लगा रोग’ के साथ मनोरंजन इंडस्ट्री में खुशाली ने कदम रखा। खुशाली ने हाल ही में फिल्म धोखा: राउंड डी कॉर्नर से एक्टिंग में डेब्यू किया है। इस फिल्म का निर्देशन कूकी गुलाटी ने किया है। फिल्म में एक प्रेमी जोड़े की कहानी को दिखाया गया है। खुशाली कुमार ने सांची सिन्हा का किरदार निभा रही हैं, जिसके इर्द-गिर्द फिल्म की पूरी कहानी केंद्रित है।

न्यूज पोर्टल न्यूज 18 के लिए बात करते हुए खुशाली ने बताया कि मेरे पिता, दिवंगत गुलशन कुमार एक अभिनेता बनने के सपने के साथ मुंबई आए थे। उनके पिताजी के पास बहुत पैसा नहीं था। एक समय के बाद उन्हें महसूस हुआ कि इस इंडस्ट्री में जगह बनाना मुश्किल है। काम मिलने का काफी इंतजार करने के बाद एक दिन वह दिल्ली वापस आ गए। 

एक्टर नहीं बन सके तो शुरू की टी-सीरीज

खुशाली ने खुलासा किया कि एक अभिनेता के रूप में उनके पिता की विफलता के बाद उन्होंने टी-सीरीज खोलने के बारे में सोचा। जिसने कई प्रतिभाशाली कलाकारों को एक मंच दिया। उन्होंने आगे बताया कि उनके पिता ने कभी हारना नहीं सीखा और यही वो कारण से की आज टी-सीरीज इस मुकाम तक पहुंच गया है।

Read More- केजीएफ के रॉकी भाई बने सलमान खान, बोले- इस बार मांडवा तक पहुंचेगी बिग बॉस की आवाज

पिता की मौत से बदल गए हालात

साल 1997 में मुंबई में एक मंदिर के बाहर गोली लगने के बाद गुलशन कुमार की मौत हो गई। इससे हालात बिलकुल बदल गए। खुशाली ने याद करते हुए कहा, ‘'उनकी मौत के बाद हालात ऐसे थे कि मम्मा बहुत डर गईं। वह मुझे और मेरी बहन को दिल्ली ले गई। भैया कंपनी की देखभाल कर रहे थे। उस समय हमारे पास टी-सीरीज के लिए 5000 से ज्यादा लोग काम करते थे।’

‘मां ने कहा जो करना है कैमरे के पीछे करो’

खुशाली ने आगे बताया कि एक अभिनेता बनने का उनका सफर एक बड़े परिवार से होने के बावजूद आसान नहीं रहा है। पिता की मौत के बाद उनकी मां बेहद डर गई थी उन्होंने यह साफ कर दिया कि 'कोई फर्क नहीं पड़ता कि तुम क्या करते हो, लेकिन कैमरे के पीछे करो'। इसलिए, एक्टिंग करने के लिए अपनी मां को समझाना, खुशाली के लिए बिलकुल आसान नहीं था। 

Read More- 4 महीने बाद शाहरुख खान की पठान देगी सिनेमाघरों में दस्तक, नए पोस्टर पर किंग खान और दीपिका का दिखा एक्शन अवतार

उन्होंने बताया कि डेब्यू फिल्म तक का सफर बिल्कुल भी आसान नहीं रहा है। मुंबई में अपने शुरुआती सालों में, खुशाली को कई ऑडिशन से गुजरना पड़ा और अक्सर रिजेक्शन का सामना करना पड़ा। धोखा फिल्म की स्क्रिप्ट मिलने के तुरंत बाद, महामारी के कारण सब बंद करना पड़ा। वह उस समय काफी नर्वस थी उन्हें नहीं पता था कि फिल्म कब शुरू होगी। उन्होंने फिल्म में अपने को-एक्टर माधवन, अपारशक्ति खुराना और दर्शन कुमार का भी आभार व्यक्त किया है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Entertainment News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर