द‍िलीप कुमार को आइडल मानते थे अमिताभ बच्‍चन, न‍िधन पर लिखा - एक युग का पर्दा ग‍िर गया है कभी न उठने के ल‍िए

बॉलीवुड में ट्रेजेड क‍िंग के नाम से जाने वाले द‍िलीप कुमार के न‍िधन से इंडस्‍ट्री स्‍तब्‍ध है। उन्‍होंने कई अभ‍िनेताओं को प्रभाव‍ित क‍िया ज‍िनमें से अमिताभ बच्‍चन भी एक हैं।

Dilip kumar death, Dilip Kumar, Amitabh Bachchan, Dilip kumar movies,Dilip kumar method acting, Dilip kumar top movies
अमिताभ बच्‍चन और द‍िलीप कुमार  

मुख्य बातें

  • कई शानदार फ‍िल्‍में देने वाले अभ‍िनेता द‍िलीप कुमार का 7 जुलाई 2021 की सुबह न‍िधन हो गया
  • द‍िलीप कुमार ने कई कलाकारों को प्रभावित क‍िया ज‍िनमें अमिताभ बच्‍चन भी हैं
  • ब‍िग बी ने खुद एक बार खुलासा क‍िया था क‍ि द‍िलीप को वह अपना आइडल क्‍यों मानते हैं

साल 2021, जुलाई की 7 तारीख को द‍िलीप कुमार के न‍िधन के साथ भारतीय स‍िनेमा के युग का अंत हो गया। अभ‍िनय की हर व‍िधा में पारंगत द‍िलीप कुमार से उनकी अगली पीढ़‍ियों के कई नेता प्रभावित हुए ज‍िनमें अमिताभ बच्‍चन और शाहरुख खान का नाम भी लिया जाता है। बॉलीवुड के महानायक कहलाने वाले अमिताभ बच्‍चन ने खुद खुलासा क‍िया था क‍ि द‍िलीप उनको कई तरीके से इंस्‍पायर करते हैं। 

Amitabh Bachchan tweet on Dilip Kumar Death

शायद यही वजह है क‍ि अमिताभ बच्‍चन ने जब सोशल मीड‍िया पर द‍िलीप कुमार को श्रद्धांजली दी तो यही ल‍िखा क‍ि एक बेहतरीन युग का अंत हो गया है। ये दौर अब कभी लौट कर नहीं आएगा। 

द‍िलीप कुमार के न‍िधन पर क‍िए गए अपने पहले ट्वीट में अमिताभ बच्‍चन ने ल‍िखा क‍ि स‍िनेमा का एक इंस्‍टीट्यूशन चला गया है। जब भी भारतीय स‍िनेमा का इतिहास ल‍िखा जाएगा वो दो ह‍िस्‍सों में बंटना चाह‍िए - एक द‍िलीप कुमार के आने से पहले और दूसरा द‍िलीप कुमार के आने के बाद। 

जब बोले थे अमिताभ - मैं द‍िलीप कुमार की इन बातों का हूं कायल  

कई शुरुआती फ‍िल्‍मों में अमिताभ बच्‍चन के अभ‍िनय पर द‍िलीप कुमार की छाप साफ नजर आती थी। सात हिंदुस्‍तानी, आनंद, परवाना को लेकर तो इस बात की खूब चर्चा भी हुई थी। खुद अमिताभ बच्‍चन ने कभी इस बात को छ‍िपाया नहीं और खुल कर कहा क‍ि द‍िलीप उनको प्रभाव‍ित करते हैं। साल 2015 के अपने एक इंटरव्‍यू में अमिताभ बच्‍चन ने बताया था क‍ि मैं उनके बौद्ध‍िक स्‍तर का कायल हूं और इसे वह जैसे अपने काम में उतारते हैं, वो मुझे एक प्रेरणा देता है। साथ ही भाषा पर उनकी जो कमांड होती है, उससे भी मैं प्रभाव‍ित हूं। ग्राफ और टेनर के ब‍िना आप एक मंझे हुए अभ‍िनेता नहीं बन सकते - और द‍िलीप कुमार की खूबी यही है क‍ि वो इन चीजों को गहराई से समझते हैं और इन पर अमल करते हैं। 

बता दें क‍ि दोनों ही द‍िग्‍गज अभ‍िनेताओं की अभ‍िनय पारी लंबी रही है। लेक‍िन साथ में वे उन्‍होंने बस शक्‍त‍ि में अभ‍िनय क‍िया है। रमेश स‍िप्‍पी की ये फ‍िल्‍म 1982 में रिलीज हुई थी। 

Bollywood News in Hindi (बॉलीवुड न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर । साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) केअपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर