तापसी पन्नू ने कहा- 'एक जैसा है मेरा और सुशांत सिंह राजपूत का सफर, आस-पास थे हमारे स्कूल'

Taapsee Pannu On Sushant Singh Rajput: सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद कंगना रनौत ने तापसी पन्नू समेत कई एक्ट्रेस पर निशाना साधा है। अब तापसी ने कहा कि उनका सफर सुशांत की तरह था।

Taapsee Pannu, Sushant Singh Rajput
Taapsee Pannu, Sushant Singh Rajput 

मुख्य बातें

  • तापसी पन्नू ने कंगना रनौत पर पलटवार किया है।
  • तापसी ने कहा कि उनका और सुशांत का सफर एक जैसा था।
  • तापसी के मुताबिक दिल्ली में उनका और सुशांत का स्कूल भी आस-पास था।

मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद कंगना रनौत नेपोटिज्म के साथ-साथ आलिया भट्ट, स्वरा भास्कर और तापसी पन्नू पर निशाना साध रही हैं। तापसी भी सोशल मीडिया पर कंगना पर पलटवार कर रही हैं। तापसी ने अब बताया कि उनका सफर भी सुशांत सिंह राजपूत की ही तरह है। 

एक न्यूज चैनल से बातचीत में तापसी पन्नू ने नेपोटिज्म के सवाल पर कहा- 'हर एक आउटसाइडर की तरह मेरा भी एक सफर और एक लड़ाई थी। मेरी और सुशांत का सफर एक जैसा था। मैं और सुशांत दोनों ही इंजीनियर्स थे। हम दोनों ने ही साल 2013 में अपने करियर की शुरुआत की थी।

तापसी पन्नू ने कहा- 'वो टीवी के बाद फिल्मों में आया और मैं साउथ फिल्म इंडस्ट्री से बॉलीवुड में आईं। बिहार से आने के बाद मुझे नहीं लगता कि कोई इंसान इतना कमजोर नहीं हो सकता है। दिल्ली में हमारे स्कूल भी आस-पास ही थे। हालांकि, हमारी मुलाकात नहीं हुई बस इवेंट में एक-दूसरे से टकराते थे।'

कंगना ने नहीं किया सपोर्ट
तापसी पन्नू ने कहा कि फिल्म पति, पत्नी और वो से मुझे निकाल दिया गया था। ये लड़ाई मैंने खुद लड़ी थी। तापसी ने आगे कहा कि उन्हें उस दौरान कंगना ने भी मेरा सपोर्ट नहीं किया, जो ये दावा कर रही हैं कि वह आउटसाइडर की लड़ाई लड़ रही हैं। 

तापसी ने बताया कि मैंने कंगना से किसी भी तरह के कोई सपोर्ट की उम्मीद भी नहीं की थी, क्योंकि मैं अपनी लड़ाई खुद लड़ रही थी। दीपिका पादुकोण से कहा गया कि उसका सिर काट दिया जाएगा उस वक्त भी उन्होंने आउटसाइडर का सपोर्ट नहीं किया था।

तापसी पन्नू ने किया था पलटवार 
कंगना रनौत ने तापसी पन्नू और स्वरा भास्कर को बी ग्रेड एक्ट्रेस कहा था। इसके बाद तापसी ने सोशल मीडिया पर लिखा था- ' मैंने सुना है 10वीं और 12वीं के बाद हमारा रिजल्ट भी आ गया है! हमारा ग्रेड सिस्टम अब ऑफिशियल है? लेकिन अभी तक तो नंबर सिस्टम पर वैल्यू डिसाइड होती थी न?


 

कंगना रनौत ने कहा था, 'तापसी जैसे लोग तो कह देंगे कि उन्हें नेपोटिज्म से कोई दिक्कत नहीं है। उन्हें करण जौहर पसंद है, लेकिन फिर भी आप जैसी बी-ग्रेड एक्ट्रेसेस, जो दिखने में ठीक-ठाक है, उन्हें काम क्यों नहीं मिलता। आपका होना ही नेपोटिज्म का सबसे बड़ा उदाहरण है।'  

अगली खबर