क्‍या सुशांत स‍िंह को समझाने के ल‍िए महेश भट्ट से राय लेती थीं र‍िया चक्रवर्ती, वायरल हो रही है ये पोस्‍ट

Sushant Singh Rajput Death case : सुशांत स‍िंह राजपूत के सुसाइड के बाद महेश भट्ट के ऑफ‍िस से जुड़ी एक मह‍िला की पोस्‍ट वायरल हुई है। इसमें सुशांत, र‍िया महेश के ट्राइएंगल पर कुछ रोशनी पड़ी है।

Mahesh bhatt rhea chakraborty going viral
Sushant Singh Rajput Death case: What Mahesh Bhatt Told Rhea Chakraborty 

मुख्य बातें

  • काई पो चे, पीके, धोनी, छ‍िछोरे जैसी फ‍िल्‍में देने वाले सुशांत स‍िंह राजपूत ने 14 जून को खुदकुशी कर ली
  • खबरों के अनुसार, प‍िछले कुछ समय से सुशांत स‍िंह राजपूत और र‍िया एक दूसरे को डेट कर रहे थे
  • एक सोशल मीड‍िया पोस्‍ट में बताया गया है कैसे सुशांत को संभालने के लिए र‍िया चक्रवर्ती ने महेश भट्ट से सलाह ली थी

सुशांत स‍िंह राजपूत के अचानक यूं चले जाने से लाखों द‍िल टूट गए हैं और सभी इस खबर के साथ खुद को एडजस्‍ट करने की कोशिश कर रहे हैं। बता दें क‍ि 14 जून 2020 को छ‍िछोरे एक्‍टर ने मुंबई के अपने घर में फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या कर ली। सुशांत स‍िंह राजपूत महज 34 साल के थे। बताया जा रहा है क‍ि सुशांत स‍िंह राजपूत प‍िछले कुछ समय से र‍िया चक्रवर्ती को डेट कर रहे थे और वह उनके अंत‍िम संस्‍कार में भी शाम‍िल हुई थीं। 

सुशांत स‍िंह राजपूत के न‍िधन के बाद महेश भट्ट की फ‍िल्‍म प्रोडक्‍शन कंपनी की एक मेंबर की फेसबुक पोस्‍ट वायरल हो रही है। इसमें बताया गया है क‍ि सुशांत स‍िंह राजपूत को लेकर र‍िया अक्‍सर महेश भट्ट से सलाह ल‍िया करती थीं। 

14 जून को ही ल‍िखी थी पोस्‍ट
ज‍िस द‍िन सुशांत की खुदकुशी की खबर आई - उसी द‍िन Suhrita Das ने र‍िया के साथ अपनी फोटो शेयर की और सोशल मीड‍िया पर लिखा क‍ि ज‍िस समय पूरी दुन‍िया सुशांत स‍िंह राजपूत के अचानक चले जाने का गम मना रही है, ऐसे में मैं तुम्‍हारे साथ खड़ी हूं। मैंने देखा है क‍ि कैसे तुम महेश भट्ट से सुशांत स‍िंह राजपूत के बारे में ड‍िस्‍कस करती थीं। 

Suhrita Das की बायो के अनुसार वह व‍िशेष फ‍िल्‍म्‍स - महेश भट्ट की प्रोडक्‍शन कंपनी से जुड़ी हैं। उन्‍होंने लिखा है क‍ि मुझे वो शाम याद है, जब टेरेस पर बात करते हुए महेश ने महसूस क‍िया था क‍ि नॉर्मल होते हुए भी सुशांत स‍िंह राजपूत कहीं अंदर से कट रहा है।

र‍िया के ल‍िए Suhrita ने लिखा है क‍ि जब भी तुम ऑफ‍िस में या फोन पर भट्ट साहब से बात करने आती थीं - तो मैंने तुम्‍हारा संघर्ष देखा है। तुम जो भी कर सकती थी तुमने क‍िया और बहुत हद तक जाकर क‍िया। एक मां और नागर‍िक के तौर पर मेरा ये फर्ज बनता है क‍ि तुम्‍हारी स्‍ट्रगल को मैं सभी तक पहुंचा दूं। साथ ही मैं ये भी बताना चाहती हूं क‍ि क्‍ल‍िन‍िकल ड‍िप्रेशन बहुत खराब होता है और इसका कोई समाधान या जवाब मेडिकल साइंस के पास भी नहीं है। 


 

अगली खबर