Sushant Singh Rajput Case: रिया चक्रवर्ती के बाद पुलिस ने YRF की कास्टिंग डायरेक्टर को पूछताछ के लिए बुलाया

Sushant Singh Rajput Suicide Case: सुशांत सिंह राजपूत का शव उनके घर में लटका हुआ मिला था। पुलिस को मौके से कोई सुसाइट नोट नहीं मिला था।

Sushant Singh Rajput Shanoo Sharma
सुशांत सिंह राजपूत और शानू शर्मा। 

मुख्य बातें

  • सुशांत केस में शानू शर्मा को पूछताछ के लिए बुलाया गया
  • शानू शर्मा वाईआरएफ की कास्टिंग डायरेक्टर हैं
  • शानू फेमस कास्टिंग डायरेक्टर्स में से एक हैं

सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को मुंबई स्थित अपने घर में फांसी लगाकर जान दे दी थी। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कहा गया कि उनकी मौत फांसी लगाने से हुई थी। सुशांत की खुदकुशी के मामले में मुंबई पुलिस लगातार जांच कर रही है। पुलिस पता लगाने की कोशिश में जुटी है कि आखिर किन परिस्थितियों के कारण 34 वर्षीय ने अपनी जान दी। पुलिस सुशांत के करीबियों और कई मशहूर हस्तियों से पूछताछ कर चुकी है। अब इस मामले में पुलिस ने यशराज फिल्म्स की कास्टिंग डायरेक्टर शानू शर्मा को पुछताछ के लिए बुलाया।  शानू मास्क पहने हुए शनिवार को मुंबई के बांद्रा पुलिस स्टेशन में स्पॉट की गईं।

पुलिस ने शानू को सुशांत के यशराज फिल्म्स के साथ कॉन्ट्रैक्ट के बारे में पूछताछ के लिए तलब किया है। मालूम हो कि सुशांत की दोस्त रिया चक्रवर्ती ने जांचकर्ताओं को बताया था कि सुशांत ने यशराज फिल्म्स के साथ अपना कॉन्ट्रेक्ट समाप्त कर लिया था और उन्हें भी इस बैनर के साथ काम करने से मना किया था। कुछ दिन पहले ही पुलिस ने यशराज फिल्म्स के दो पूर्व अधिकारियों के भी बयान दर्ज किए थे। पुलिस अभी तक सुशांत से जुड़े कुल 25 से अधिक लोगों से पूछताछ कर चुकी है। रिया चक्रवर्ती के अलावा सुशांत के बिजनेस मैनेजर, पीआर मैनेजर और कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा जैसे कई लोगों के बयान दर्ज किए गए हैं।

सुशांत के निधन के बाद कई लोग इंडस्ट्री को दोषी ठहरा रहे हैं। लोगों का कहना है कि इंडस्ट्री में नेपोटिज्म और ग्रुपिज्म के चलते सुशांत ने यह जानलेवा कदम उठाया। वहीं, महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने कहा था कि एक्टर की आत्महत्या के मामले में दुश्मनी के एंगल से भी जांच की जाएगी। राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने 15 जून को ट्वीट किया था कि पोस्टमॉर्टम कहती है कि सुशांत सिंह राजपूत ने खुद को फांसी लगाकर सुसाइड की है। वहीं, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वह प्रोफेशनल लाइफ में विरोध के कारण क्लिनिकल डिप्रेशन से जूझ रहे थे। मुंबई पुलिस इस एंगल से भी मामले की जांच करेगी।
 

अगली खबर